(JSLPS) Jharkhand State livelihood Promotion society 2021-2022

Jharkhand State livelihood Promotion society : यह योजना झारखंड सरकार के ग्रामीण विकास विभाग (GoJ) ने “झारखंड राज्य आजीविका संवर्धन समाज” (JSLPS) नाम से एक अलग और स्वायत्त समाज की स्थापना की है, जो राज्य में केंद्र सरकार द्वारा चलायी जाने वाली योजना NRLM के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए एक नोडल एजेंसी के रूप में कार्य करता है। JSLPS Jharkhand के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) परियोजना के कार्यान्वयन के लिए नोडल एजेंसी है। सरकार द्वारा इसके लिए समय समय पर jslps consultant recruitment भी किया जाता है।

एनआरएलएम (NRLM) भारत सरकार की एक महत्वकांशी योजना है, जो पुरे विश्व में गरीबी को दूर करने के लिए बनाया गया सबसे बड़ा गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम है, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) का लक्ष्य भारत के लगभग 7 करोड़ ग्रामीण परिवारों तक इसका लाभ पहुंचना है, इसका उद्देश्य सभी ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवारों को लाभ पहुंचना और उन्हें स्थायी स्वरोजगार उपलब्ध कराना है। सरकार द्वारा यह कार्यक्रम तब तक जारी रखा जायेगा, जब तक गरीबी अमीरी के इस अंतर को कम न किया जा सके। और गरीब ग्रामीण आबादी भी एक अच्छा जीवन यापन कर सके।

JSLPS SCHEME OVERVIEW 2022

योजना का नाम Jharkhand State livelihood Promotion society
संबधित राज्य झारखण्ड 
आधिकारिक वेबसाइट jslps dot in
उदेश्य ग्रामीण गरीब लोगों लोगों को स्वरोजगार उपलब्ध करवाना। 

झारखंड राज्य आजीविका संवर्धन समाज (JSLPS) के उदेश्य। 

“गांव के कमजोर वर्गों / समूहों के वंचित ऐसे सदस्यों को सशक्त व सक्षम बनाने के लिए समावेशी विकास रणनीतियों के द्वारा एक सामाजिक एवं आर्थिक रूप से झारखण्ड को विकसित बनाना, जिसके गांव के गरीब लोगो को एक सम्मानजनक जीवन मिल सके।”

  • राज्य सरकार द्वारा NRLM के तर्ज पर शुरू की गयी यह योजना गरीबी उन्मूलन में बड़ी भूमिका निभा रहा है। 
  • JSLPS योजना केंद्र सरकार के NRLM scheme की नोडल एजेंसी है। इसके तहत महिलाओं के समूह बनाये जाते है। महिलाओं को सक्षम बनाया जाता है।
  • ग्रामीण गरीब आबादी को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराना। 
  • ग्रामीणों में संगठन के साथ कार्य करने के क्षमता विकसित करना। 
  • महिलाओं व कमजोर वर्ग के लोगों के 10 से 20 के समूह बनाकर उन्हें स्वरोजगार उपलब्ध कराना।
  • jslps योजना से गांव के ऐसे गरीब लोगो बैंक से जुड़ते है, जो अभी तक बैंकिंग सेवा से दूर थे। यह Finical inclusion के क्षेत्र में भी बड़ा कदम है। 

JSLPS scheme लाने के फायदे। 

  • आज हमारे देश में पलायन सबसे बड़ी समस्या है। गांव में रोजगार के कोई ठोस साधन नहीं थे। सरकार द्वारा NRLM scheme के तहत JSLPS scheme लाने से ग्रामीण क्षेत्र से पलायन में रोकने में काफी मदद मिलेगी। 
  • भारत में आज भी एक बहुत बड़ी आबादी गरीबी में जीवन यापन कर रही है। खासकर भूमिहीन ग्रामीण जिनके पास खेती भूमि नहीं है, उनके लिए गांव में रोजगार उपलब्ध होने से गरीबी को समाप्त किया जा सकेगा। 
  • गरीब लोगों को nrlm shg के माध्यम से सस्ती दरों में ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। 
  • इसके अलावा भी JSLPS स्कीम के कहीं फायदे है। इसने कोरोना लॉक डाउन के दौरान पलायन से शहरों से गांव लौटे लोंगो को रोजगार उपलब्ध करवाने में काफी मदद की।

How to Work JSLPS Scheme (NRLM)

  • यह केंद्र सरकार की nrlm scheme के तर्ज पर ही कार्य करती है। इसके तहत bpl family वह गरीब परिवारों की महिलाओं के समूह बनाये जाते है। 
  • प्रत्येक समूह में 10 से 20 सदस्य हॉंग़े। यह सदस्य एक ही गांव या स्थान के हॉंग़े, जिनकी आर्थिक स्थिति लगभग एक समान हो। समान आय वर्ग के होने से समूह का सञ्चालन सही से हो पायेगा। किसी का शोषण नहीं होगा। सभी तक सरकारी योजना का लाभ पहुंचेगा। 
  • समूह द्वारा अपने सदस्यों में से तीन ऐसे लोग जो थोड़ा बहुत पढ़ना लिखना जानते है, उन्हें समूह के पदाधिकारी नियुक्त किये जायेगे। जिससे समूह का सञ्चालन आसानी कर सके। 
  • jslps shg group का गठन होने के बाद पदाधिकारियो द्वारा सभी सदस्यों की सहमति से बैंक अकाउंट खोलने संबधी एक प्रस्ताव बनाया जायेगा। 
  • तीनो पदाधिकारी बैंक जाकर एक बचत खाता खुलवाएंगे। जिसमे वे अपनी मासिक बचत जमा करते है। लगातार कही महीने तक सभी सदस्य बराबर बचत करके जमा करते रहते है।
  • इसके बाद समूह द्वारा nrlm portal पर जाकर ccl limit यानि ऋण हेतू आवेदन किया जाता है। यह ऋण काफी कम ब्याज दर पर दिया जाता है। इसके अलावा सरकार द्वारा इसमें सब्सिडी/फण्ड भी दिया जाता है। 
  • पदाधिकारी ऋण व सब्सिडी का पैसा निकलकर सभी सदस्यों को उनकी जरुरत के हिसाब से देते है। जिसमे ऋण का पैसा वापस समय से जमा करते है।

झारखंड राज्य आजीविका संवर्धन समाज (jslps) 2022

झारखंड सरकार के ग्रामीण विकास विभाग (जीओजे) ने “झारखंड राज्य आजीविका संवर्धन समाज” (जेएसएलपीएस) नाम से एक अलग और स्वायत्त समाज की स्थापना की है, जो राज्य में आजीविका प्रोत्साहन के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए एक नोडल एजेंसी के रूप में काम करता है। झारखंड राज्य में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) परियोजना के कार्यान्वयन के लिए नोडल एजेंसी भी है।

एनआरएलएम (nrlm) सरकार की एक बहुत बड़ी महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके द्वारा दुनिया का सबसे बड़ा गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम चलाया जाता है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन का लक्ष्य है कि भारत के लगभग 70 मिलियन ग्रामीण परिवारों तक पहुंच आसान हो जाय। इसका उद्देश्य है कि सभी ग्रामीण गरीब परिवारों तक पहुंचा जा सकें। एवं उन्हें स्थायी आजीविका से जोडा जाय। वह लोगों गरीब लोगो के लिए तब तक कार्य करेगा जब तक वे गरीबी से बाहर नहीं आ जाते एवं एक सम्मानजनक जीवन यापन नहीं करने लगते।

JSLPS की full form क्या है ?

jslps की full form – Jharkhand State livelihood Promotion society (झारखंड राज्य आजीविका संवर्धन समाज) है।

JSLPS Full क्या है?

इसकी की फुल फॉर्म Jharkhand State livelihood Promotion society है।

जे एस ऐल पी एस योजना कौन से राज्य से संबधित है?

जे एस ऐल पी एस योजना झारखण्ड राज्य से संबधितहै।

5 thoughts on “(JSLPS) Jharkhand State livelihood Promotion society 2021-2022”

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!