बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना | Bihar Badh Rahat Yojana Eligibility, Apply Process | 2022

Bihar Badh Rahat Yojana 2022: बिहार में बाढ़ से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत बाढ़ से प्रभावित सभी परिवारों को ₹6000 की धनराशि मुआवजा के रूप में दिया जाएगा। साथ ही साथ जिन लोगों के घर, पशु, फसल आदि को नुकसान हुआ है, उस नुकसान के आधार पर उन्हें सरकार द्वारा Bihar Badh Rahat Yojana 2022 के तहत अलग से धनराशि मुहैया कराई जाएगी।

Bihar Badh Rahat Yojana

आज के इस पोस्ट में हम आपको बिहार बाढ़ राहत योजना 2022 से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां प्रदान करने वाले हैं। जैसे बाढ़ राहत सहायता योजना क्या है, इस योजना से लाभान्वित जिलें, उद्देश्य, पात्रता, जरूरी दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए कृपया आप इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े ताकि आप भी इस योजना का लाभ उठा सकें।

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2022

बिहार सरकार द्वारा बाढ़ से प्रभावित लोगों को सहायता पहुंचाने के लिए बिहार बाढ़ सहायता योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत बाढ़ से प्रभावित लोगों की सूची तैयार की जाएगी। जिसके बाद 1 सप्ताह के अंदर ₹6000/- की धनराशि सीधा उनके बैंक अकाउंट में डीबीट के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाएगी। साथ ही अगर किसी के घर, परिवार के सदस्य, कोई पशु या फिर फसल को नुकसान हुआ है तो उन्हें भी सरकार द्वारा मुआवजा प्रदान किया जाएगा। 

बिहार राज्य में बाढ़ से प्रभावित होने वाले कुल 10 जिले हैं। पिछले कई सालों के मुकाबले इस साल बाढ़ से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं, ऐसे में सरकार द्वारा सभी लोगों को इस योजना के तहत लाभ पहुंचाने का निर्णय लिया गया है। ये भी पढ़ें – मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना, बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना, बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना।

Bihar Badh Rahat Yojana 2022 Overview

योजना का नामबिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2022
किसने शुरू कियामुख्यमंत्री नितीश कुमार जी ने
लाभार्थीराज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोग
उद्देश्यबाढ़ से प्रभावित लोगों को सहायता (मुआवजा) प्रदान करना
प्रभावित जिला10 
वर्ष 2022
राज्यबिहार
संबंधित विभागआपदा प्रबंधन विभाग, बिहार
आधिकारिक वेबसाइटhttp://bsdma.org/Home.aspx

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2022 का उद्देश्य

बिहार सरकार द्वारा बिहार बाढ़ राहत योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के बाढ़ से प्रभावित हुए लोगों को सहायता प्रदान करना है। राज्य में पानी का स्तर बढ़ जाने के कारण कई जिलों में बाढ़ आ जाती है, जिसके कारण बहुत से लोगो के घर एवं जान-माल को भी क्षति पहुंचती है। कई वर्षों के मुकाबले इस वर्ष बाढ़ के कारण अधिक लोगों को नुकसान हुआ है। इसलिए सरकार ने बाढ़ राहत सहायता योजना को शुरू करने का निर्णय लिया है। ताकि बाढ़ से प्रभावित लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान किया जा सके और उनकी थोड़ी बहुत भरपाई हो सके। 

बिहार बाढ़ राहत योजना से लाभान्वित होने वाले 10 जिले

बिहार सरकार द्वारा बाढ से प्रभावित कुल 10 जिलों को बाढ़ राहत सहायता योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। सभी जिलों के नाम नीचे दिए गए हैं।

  • किशनगंज
  • सीतामढ़ी
  • दरभंगा
  • शिवहर
  • सुपौल
  • खगरिया
  • गोपालगंज
  • मुजफ्फरपुर
  • पूर्वी चंपारण
  • पश्चिमी चंपारण

बाढ़ से प्रभावित जिले

बिहार राज्य में बाढ़ से प्रभावित कुल 12 जिलों की सूची निम्न है:

  • सीतामढ़ी
  • किशनगंज
  • शिवहर
  • दरभंगा
  • मुजफ्फरपुर
  • गोपालगंज
  • सरन
  • सुपौल
  • चंपारण
  • खगरिया
  • पश्चिमी समस्तीपुर
  • पूर्वी समस्तीपुर

बाढ़ राहत सहायता योजना के तहत मिलने वाली मुआवजा राशि

इस योजना के तहत सरकार द्वारा बाढ़ से प्रभावित लोगों को ₹6000 मुआवजे के रूप में दी जाएगी। लेकिन यदि बाढ़ के कारण किसी अन्य प्रकार का नुकसान हुआ है तो उसके लिए अलग से सहायता राशि प्रदान की जाएगी। जिसे आप निम्न सूची के द्वारा समझ सकते हैं।

बाढ़ से प्रभावित स्थिति सहायता राशि (मुआवजा)
बाढ़ से प्रभावित परिवारों को6000 रुपये
किसी व्यक्ति के मौत पर परिजनों को4 लाख रूपये
कपडा का नुकसान होने पर1800 रूपये
बर्तन के लिए2000 रूपये
फसल के लिएरु6800 प्रति हेक्टेयर
गाय, भैंस की क्षति होने पररु30000 प्रति
घोडा की क्षति होने पररु25000 प्रति
भेड़, बकरी, सुवर की क्षति पररु3000 प्रति
पक्का मकान या कच्चा मकान नुकसान पर95100 रुपये
मुर्गी के नुकसान परअधिकतम रु5000 देय होगा
पक्का मकान के आंशिक क्षति पर5200 रूपये
कच्चा मकान के आंशिक क्षति पर3200 रूपये
जानवर के शेड नुकसान होने पर2100 रूपये
झोपड़ी का पूर्ण नुकसान होने पर4100 रूपये

Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana के लिए पात्रता

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपका जिला बाढ़ प्रभावित क्षेत्र घोषित होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत आपका मकान बाढ़ प्रभावित गांव या पंचायत में होना चाहिए।
  • आवेदक का परिवार पूर्ण रूप से बाढ़ प्रभावित होना चाहिए।

Bihar Badh Sahayata Yojana के लिए जरूरी दस्तावेज

यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास निम्न दस्तावेजों का होना आवश्यक है।

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • आवेदक का विवरण

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

यदि आप बाढ़ प्रभावित क्षेत्र से हैं और आप बाढ़ सहायता योजना के अंतर्गत मुआवजा प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बाढ़ सहायता योजना 2022 में नाम जोड़ने के लिए जगह जगह पर शिविर लगाया जायेगा। जहां आपको जाना होगा और कर्मचारियों द्वारा पूछा गया सारा विवरण जैसे नाम, पता, बैंक नंबर, परिवारों की सदस्यता आदि बताना होगा। 

इसके बाद सरकारी कर्मचारी द्वारा सारा डाटा राज्य सरकार को साझा किया जाएगा। फिर बाढ़ से प्रभावित लोगों की पूरी सूची संबंधित विभाग को सौंपी जाएगी। इसके बाद लाभार्थी के बैंक अकाउंट में 1 सप्ताह के अंदर सहायता राशि भेज दी जाएगी। 

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको सरकार द्वारा शुरू किये गए बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2022 के बारे में सभी प्रकार की जानकारियां दी है। यदि आप बिहार के बाढ़ से प्रभावित इलाकों से है तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार रहा होगा। उम्मीद करता हूं कि यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा और आप इसे अन्य लोगों के साथ भी जरूर शेयर करेंगे ताकि वह भी इस बाढ़ सहायता योजना का लाभ उठा सकें। धन्यवाद !

FAQ – Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana 2022

प्रश्न 1. बिहार बाढ़ सहायता योजना के लिए सरकार द्वारा कितनी मुआवजा राशि दी जाएगी?

उत्तर. बिहार सरकार द्वारा बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों के परिवारों को ₹6000 की सहायता राशि दी जाएगी एवं अन्य प्रकार की क्षति के लिए अलग से मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

प्रश्न 2. Bihar Badh Sahayata Yojana के लिए संपर्क नंबर क्या है?

उत्तर. इस योजना के लिए आप आपदा प्रबंधन विभाग के कांटेक्ट नंबर 0612-252-2032 पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!