राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2023 | CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Online Apply Registration

CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2023: छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा किसानों की स्थिति को बेहतर बनाने हेतु हमारे पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी जी के पुण्यतिथि पर छत्तीसगढ़ के नागरिकों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत की है। इस योजना में सरकार किसानों को खेती के लिए प्रोत्साहित करेगी और उचित प्रशिक्षण प्रदान करेगी इसके अलावा किसानों को खेती करने के लिए आर्थिक सुविधा भी प्रदान किया जाएगा।

CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

अगर आप छत्तीसगढ़ के नागरिक है और खेती में होने वाले घाटे से तंग आ चुके हैं तो आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है। आज इस लेख में हम बताने जा रहे हैं कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य क्या है? इस योजना का लाभ क्या है? कौन व्यक्ति इस योजना का पात्र हो सकता है और कैसे इसका लाभ प्राप्त कर सकता है? अगर आप इस योजना का लाभ उठाने की प्रक्रिया और अन्य जानकारी को समझना चाहते हैं तो हमारे लेख के साथ अंत तक बने रहे।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2023

राजीव गांधी किसान न्याय योजना छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अपने राज्य के किसानों के हितार्थ कार्यान्वयन में लाया गया एक योजना है। इस योजना का शुभारंभ छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी द्वारा 21 मई 2020 (स्वर्गीय राजीव गांधी के सहादत पुण्यतिथि) से किया गया है। इस योजना का उद्देश्य किसानों को अधिक फसल उत्पादन हेतु प्रोत्साहित करना, किसानों द्वारा पैदा की हुई फसल की उचित कीमत प्राप्त करने में किसानों की मदद करना तथा कृषि रकवे एवम उत्पादन में वृद्धि करना है। 

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित इस किसान न्याय योजना में किसान को ₹10000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह सहायता चार से पांच किस्त में किसान के बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी। इसके अलावा किसान को खेती के लिए प्रशिक्षण और अन्य सुविधाएं दी जाएंगी।

आपको बता दें की जब प्रदेश के किसान खेती में घाटे होने से खेती से मुंह मोड़ने लगे थे तो वहीं इस योजना के आने से अब किसान पूरी क्षमता से खेती करने में लग गए हैं। इस योजना के कारण किसानों की संख्या काफी बढ़ी है जिसके कारण पैदावार में भी बढ़ोतरी हुई है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के कुशल मार्गदर्शन में इस योजना पर तेजी से अमल किया जा रहा है। मुख्यमंत्री के निर्देश से इस योजना के तहत किसानों से फसल खरीदी एवं उनकी कर्जमाफी भी किया जा रहा है जिससे प्रदेश के ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिल रही है।

CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Overview

योजना का नामराजीव गांधी किसान न्याय योजना 2023
राज्यछत्तीसगढ़ 
उद्देश्यकिसानों की खेती को बेहतर बनाने और उनके आय में वृद्धि रहेंगे
पात्रताछत्तीसगढ़ का कोई भी नागरिक किसान
लाभ₹10000 तक की आर्थिक सहायता
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
https://rgkny.cg.nic.in/

राजीव गांधी किसान न्याय योजना से जुड़े तथ्य 

अगर छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित इस महत्वपूर्ण योजना के लिए आप आवेदन करना चाहते हैं तो आपको इस योजना से जुड़े कुछ आवश्यक तथ्यों के बारे में मालूम होना चाहिए जिसे नीचे सूचीबद्ध किया गया है – 

  • इस योजना को 21 मई 2020 को लागू किया गया था क्योंकि 21 मई राजीव गांधी जी की पुण्यतिथि है।
  • इस योजना में किसानों को ₹10000 तक की आर्थिक सहायता चार से पांच किस्त में दी जाएगी।
  • किसान को इस योजना के तहत जमीन के अनुसार आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • इस योजना को मुख्य रुप से ध्यान सोयाबीन मक्का और इस तरह के अन्य फसल में बढ़ोतरी लाने के लिए शुरू किया गया है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के उद्देश्य

सरकार इस योजना को क्यों शुरू कर रही है इसके उद्देश्य के बारे में हर व्यक्ति को जानकारी होनी चाहिए जिसे नीचे सूचीबद्ध किया गया है – 

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य राज्य के किसानों के लिए न्यूनतम आय उपलब्धता सुनिश्चित करना है।
  • इस योजना की शुरुआत फसल उत्पादन को प्रोत्साहित करने तथा किसानों को कृषि कार्य में सहायता प्रदान करने हेतु किया गया है।
  • इस योजना का उद्देश्य किसानों द्वारा फसल की उत्पादन क्षमता बढ़ाने तथा उनकी उपज का सही दाम दिलाना है।

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लाभ

छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा शुरू किए गए इस महत्वपूर्ण योजना के लिए आवेदन करने वाले लाभार्थी को किस तरह का लाभ मिलेगा इसे नीचे सूचीबद्ध किया गया है –

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किसानों को धान के मूल्यों में अंतर की राशि का लाभ पहुंचाना है।
  • इस योजना से किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।
  • इस योजना के तहत राज्य के किसान धान की अच्छी पैदावार कर सकते हैं।
  • इस योजना में किसान को ₹10000 तक की आर्थिक सहायता 4 से 5 किस्त में दी जाएगी।
  • कृषि को लाभ के व्यवसाय के रूप में पुनर्स्थापित कर राज्य के जीडीपी में कृषि की सहभागिता में वृद्धि किया जा सकता है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना की पात्रता 

छत्तीसगढ़ सरकार इस योजना के जरिए राज्य के किन नागरिकों को लाभ देने वाली है इसे समझने के लिए इस योजना के निर्धारित पात्रताओं को समझना होगा जिसे नीचे सूचीबद्ध किया गया है –

  • सबसे पहली बात की आवेदक छत्तीसगढ़ राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • छत्तीसगढ़ राज्य के सभी किसान इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • आवेदक के पास अपना एक निजी बैंक खाता जो आधार कार्ड से लिंक हो होना चाहिए।
  • आदान सहायता केवल योजना में शामिल फसलों पर ही प्रदान की जाएगी।
  • संस्थागत भूधारक, बटाईदार एवं लीज कृषक इस योजना का लाभ उठाने के पात्र नहीं है।
  •  आवेदक के पास पासपोर्ट साइज का फोटो एवं मोबाइल नंबर होना चाहिए।
  • आवेदक के पास भूमि संबंधी दस्तावेज होने चाहिए।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

इस योजना के तहत प्रदेश सरकार के द्वारा किसी माध्यम से फसलों की उचित कीमत किसानों तक पहुंचाई जा रही है। इसको इस प्रकार भली-भांति समझा जा सकता है की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य और सरकार द्वारा घोषित मूल्य दोनों के बीच अंतर का जो राशि है उस राशि को इस योजना के तहत किसानों को प्रदान किया जाता है।

इस योजना के अंतर्गत सरकार ने खरीफ 2020 सत्र से धान की खेती के साथ-साथ मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, अरहर, कोदो, कुल्थी एवं गन्ना आदि को भी इसमें शामिल किया गया है। इस योजना के अंतर्गत खरीफ 2019 से धान तथा मक्का लगाने वाले किसानों को अधिकतम ₹10000 प्रति एकड़ कि दर से सहायता राशि देने का प्रावधान है। इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी की राशि किस्तों में प्रत्यक्ष रूप से किसानों के खाते में हस्तांतरित किए जाते है। किसानों को इस योजना का सीधा लाभ मिल सके इसीलिए किसी भी बिचौलिए को सरकार और किसान के बीच नहीं रखा गया है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र जो कि छत्तीसगढ़ राज्य का होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का निजी बैंक खाता जो आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • घोषणा पत्र।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना आवेदन कैसे करें 

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना से संबंधित पंजीकरण की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है एवं पंजीकरण के कार्यान्वयन के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिया गया है। 

वह किसान जो इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें पोर्टल (राजीव गांधी किसान न्याय योजना पोर्टल) पर अपना पंजीकरण कराना होगा। आइए जानते हैं कि इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे किया जाता है या आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है।

  • सबसे पहले कृषि विस्तार पदाधिकारी से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा या आधिकारिक लिंक से भी आवेदन पत्र डाउनलोड किया जा सकता है।
  • आवेदन पत्र प्राप्त हो जाने के बाद उसे ध्यान पूर्वक भरना होगा।
  • आवेदन भरने के बाद उसके साथ ऋण पुस्तिका, आधार कार्ड एवं बैंक पासबुक की छायाप्रति को संलग्न करना होगा। तत्पश्चात भरे हुए आवेदन को कृषि विस्तार अधिकारी के पास जमा करना होगा।
  • कृषि विस्तार अधिकारी आपके आवेदन पत्र का सत्यापन करके निर्धारित समय सीमा के अंदर संबंधित कृषि शाखा समिति में जमा करेगा।
  • समिति द्वारा सभी आवेदनों का सत्यापन किया जाएगा। तत्पश्चात उन्हें लाभ की राशि हस्तांतरित की जाएगी।
  • इस योजना की सहायता राशि प्रत्यक्ष बैंक हस्तांतरण (DBT) के माध्यम से किसान के खाते में वितरित की जाएगी। यह राशि किसान के खाते में किस्तों में दी जाती है।

FAQ

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

इस योजना के लिए आवेदन करने हेतु किसान को सबसे पहले राजीव गांधी किसान न्याय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है और अपना पंजीकरण कर के आवेदन फॉर्म भरकर जमा करना है।

इस योजना के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

राजीव गांधी योजना के लिए मूल निवासी किसान नागरिक आवेदन कर सकते है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना में कितना पैसा मिलेगा?

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री राजीव गांधी योजना में किसानों को ₹10000 प्रति एकड़ के आधार पर जमीन के अनुसार पैसा दिया जाएगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!