Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme 2023 | विवाहित जोड़े को सरकार दे रही 10 लाख रूपये, जल्दी करे आवेदन

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme 2023: सामाजिक रीति-रिवाजों के चलते हैं हमारे समाज में अंतरजातीय विवाह का हमेशा से ही विरोध किया जाता रहा है। लेकिन सरकार अंतरजातीय विवाह के भेदभाव को खत्म करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसी को ध्यान में रखकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इंटर कास्ट मैरिज योजना की शुरुआत की है।

इस योजना के अंतर्गत जब आप अपनी जाति को छोड़कर किसी अन्य जाति में शादी करते हैं तो आपको एक प्रोत्साहन राशि दी जाती है, जिससे समाज अगर आप का विरोध कर रहा है तो भी आप अपना जीवन यापन आसानी से कर सकते हैं।

अगर आप सरकार द्वारा चलाई जा रही इस इंटर कास्ट मैरिज स्कीम का लाभ उठाना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा। हम आपको इस योजना से संबंधित सभी उद्देश्य, मिलने वाली राशि, लाभ और विशेषताएं, पात्रता आदि के बारे में आपको बताने वाले हैं।

राजस्थान अन्तर्जातीय विवाह योजना क्या है?

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

सरकार द्वारा चलाई जा रही इस इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के अंतर्गत अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को ₹1000000 तक की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है, जिससे लड़का और लड़की बिना किसी समस्या के अपने जीवन की अच्छी शुरुआत कर सकें। इंटर कास्ट मैरिज करने वाले जोड़ो को 1 महीने के अंदर इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। तभी उसको इस योजना का लाभ मिलेगा।

सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित की जा रही है। इस योजना के तहत दूसरी जाति अथवा धर्म के अंतर्गत विवाह करने को प्रोत्साहित किया जा रहा है। ताकि अंतरजातीय विवाह को लेकर लोगों की मानसिकता में बदलाव आए।

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme – Overview

Name of ArticleRajasthan Inter Caste Marriage Scheme
Departmentसामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण विभाग राजस्थान
Scheme Launched Year2017
Benefit Amount10 Lac rupees
Mode of ApplyOnline
Official Websitehttps://sjmsnew.rajasthan.gov.in/sjms/Login.aspx

Objectives of Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

समाज के अंदर अंतरजातीय विवाह अथवा दूसरे धर्म में विवाह को लेकर कई प्रकार की गलतफहमियां और मानसिकता फैली हुई है। इसी को दूर करने के उद्देश्य थे राजस्थान सरकार ने इस अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की है। इसी योजना के अंतर्गत सरकार विवाहित जोड़े को 1000000 रुपए तक की प्रोत्साहन राशि देती है। जिससे अपना जीवन साथी चुनते समय लोगों के सामने धर्म और जाति नहीं आए।

इस योजना के अंतर्गत अगर कोई लाभार्थी आवेदन करता है तो विवाह होने के 1 साल के अंदर ही लाभार्थी के बैंक अकाउंट में यह संपूर्ण राशि भेज दी जाती है, जिससे उनके जीवन की शुरुआत बेहद ही आसान हो जाती है।

कितनी राशि मिलती है?

यह योजना डॉक्टर सविता बहन अंबेडकर योजना के अंतर्गत संचालित की जा रही है। इसी योजना के अंतर्गत अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़े को ₹1000000 की प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली ₹1000000 में ₹500000 पत्नी के नाम पर 8 साल के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट में रहते हैं और बाकी ₹500000 पति-पत्नी के ज्वाइंट बैंक अकाउंट में जमा कर दिए जाते हैं। जिससे वह अपना घरेलू सामान खरीद कर अपनी जिंदगी की अच्छी शुरुआत कर सकें।

Features and Benefits of Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

  • सरकार इस योजना के माध्यम से अंतर्जातीय विवाहित जोड़े को ₹1000000 की प्रोत्साहन राशि देती है।
  • इसी योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर के माध्यम से विवाहित जोड़े के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती है।
  • कई बार लड़का और लड़की दूसरी जाति में शादी करना चाहते हैं, उन्हें इस योजना से प्रोत्साहन मिलेगा।
  • अंतरजातीय विवाह करने वाला जोड़ा अगर घर से भाग कर शादी करता है तो सरकार उन्हें सुरक्षा भी प्रदान करती है।
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत विवाहित जोड़े को एकमुश्त राशि प्रदान की जाती है ताकि उन्हें जीवन की शुरुआत करने में किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़े।
  • समाज में अंतर जाति विवाह को लेकर फैली कुरीतियों को दूर करना ही इस योजना का काम है।
  • प्रोत्साहन राशि से जो पैसा प्राप्त होता है उसका उपयोग करके विवाहित जोड़ा अपने जीवन की बेहतरीन शुरुआत कर सकता है।
  • घर वालों के दबाव में आकर अक्सर ही लोग शादी करते हैं जिससे कई प्रकार के अपराध बढ़ रहे हैं, इसको रोकना इस योजना के माध्यम से संभव है।

Eligibility Criteria of Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

  • इस योजना का लाभ सिर्फ राजस्थान के मूल निवासियों को ही मिलेगा।
  • शादी करने वाले व्यक्ति की अधिकतम उम्र 35 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक पर किसी भी प्रकार का मुकदमा दर्ज नहीं होना चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने वाली पति-पत्नी की वार्षिक आय ढाई लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • सिर्फ पहली बार अंतरजातीय विवाह करने वाला जोड़ा ही इस योजना का पात्र होगा।
  • विवाह होने के 1 साल के भीतर आप इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Documents Required for Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता विवरण
  • कोर्ट मैरिज प्रमाण पत्र
  • शादीशुदा जोड़े की संयुक्त फोटो
  • हाईस्कूल की मार्कशीट (अगर हो तो) 

Offline Apply Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

  • इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको नजदीकी सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग में जाना होगा।
  • जहां पर आपको इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के तहत आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म में आपसे कई प्रकार की जानकारी पूछी जाएगी जो आपको ध्यान पूर्वक भरनी है।
  • उसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेजों की फोटो कॉपी, सेल्फ अटेस्टेड करके आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना है।
  • आवेदन फॉर्म पर आपको अपना पासपोर्ट साइज फोटो भी लगा देना है।
  • उसके बाद इस आवेदन फॉर्म को कंप्लीट करके सामाजिक न्याय, सशक्तिकरण विभाग अथवा जिला अधिकारी के कार्यालय में जमा करवा देना है।
  • उसके बाद आपके आवेदन फॉर्म की जांच की जाएगी।
  • अगर सबकुछ सही पाया जाता है और आप इस योजना के पात्र निकलते हैं तो आपको इस योजना का लाभ दिया जाता है।

How to Apply Online Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme

राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना के तहत आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको नीचे बताई की प्रक्रिया को ध्यान पूर्वक फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले आपको सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण विभाग के पोर्टल पर जाना होगा।
  • यहां पर आपके सामने होम पेज पर न्यू यूजर सिंगल साइन ऑन पोर्टल पर रजिस्टर करें, का विकल्प नजर आएगा उस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जहां पर आपको अपने गूगल, फेसबुक, भामाशाह अथवा जन आधार कार्ड से लॉगिन करने का विकल्प मिलेगा।
  • अगर आपके पास पहले से ही अपनी SSO ID है तो आप उसकी मदद से लॉगिन कर सकते हैं।
  • भोजन करने के बाद आपको Utility के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आपको एडवांस सर्च के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • यहां पर आपको Social Justice Empowerment Department को सेलेक्ट करने के बाद सविता अंबेडकर इंटर कास्ट मैरिज को सेलेक्ट करना है।
  • उसके बाद में अगले पेज पर आपको एप्लीकेशन फॉर्म का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • आपके सामने इस योजना का आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आवेदन फॉर्म में आपसे आपकी पर्सनल और विवाद से संबंधित जानकारी पूछी जाएगी जो आप को ध्यान पूर्वक दर्ज करनी है।
  • इसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेजों को स्कैन कॉपी ऑनलाइन अपलोड करनी है।
  • आप को ध्यान पूर्वक शादी का प्रमाण पत्र पति-पत्नी का शपथ पत्र जैसी चीजें अपलोड करनी है।
  • जब सभी दस्तावेज अपलोड हो जाए तो आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आपका इस इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के तहत ऑनलाइन आवेदन पूर्ण हो जाएगा।
  • अंत में आपको अपने आवेदन फॉर्म का एक प्रिंट आउट निकाल कर अपने पास सुरक्षित रख लेना है।

FAQ

राजस्थान अन्तर्जातीय विवाह योजना क्या है?

इस योजना के माध्यम से राजस्थान सरकार इंटर कास्ट शादी के लिए प्रोत्साहित करती है, योजना के अंतर्गत दस लाख रूपये प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

सुकन्या समृद्धि योजना

गार्गी पुरस्कार योजना

इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना

राजस्थान महिला निधि योजना

राजस्थान अनुप्रति योजना

Rajasthan Free Food Packet Yojana

Leave a Comment

error: Content is protected !!