स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2023 | Swarna Jayanti Anushikshan Yojana ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2023: नमस्कार दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं. देश के कई ऐसे छात्र है जो अपने परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण अपनी शिक्षा को पूरा नहीं कर पाते हैं. ऐसे छात्रों के लिए सरकार अनेक प्रकार की योजनाएं भी शुरू करती है. जिनके माध्यम से छात्रों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है. आज हम आपको हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के बारे में बताएंगे.

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

इस योजना को प्रदेश के बच्चों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध करवाने के लिए शुरू की गई है. इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छात्र निशुल्क कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे और अपनी शिक्षा को पूरा कर पाएंगे. इस योजना के माध्यम से शिक्षा की दर में वृद्धि होगी. आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का लाभ, उद्देश्य, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन करने की संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे.

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana क्या है?

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल द्वारा 5 सितंबर 2021 को शुरू किया गया है. इस योजना के अंतर्गत सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट और जेईई की मुफ्त कोचिंग उपलब्ध करवाई जाएगी. इस योजना के माध्यम से छात्र अपनी उच्च शिक्षा को पूरा कर सकेंगे. नवी से 12वीं कक्षा के छात्र इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

इस योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों को कोचिंग सेंटर पर किसी भी प्रकार की फीस जमा कराने की आवश्यकता नहीं होगी. इस योजना को दो चरणों में पूरा किया जाएगा. नवी कक्षा से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को शनिवार और रविवार को कोचिंग में भाग लेना अनिवार्य होगा.

Overview of Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

योजना का नामहिमाचल स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना
किसने आरंभ कीहिमाचल प्रदेश सरकार
लाभार्थीहिमाचल प्रदेश के छात्र
उद्देश्यजेईई एवं नीट की परीक्षा के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट हिमाचल सरकार https://himachal.nic.in/
साल2023
बजट5 करोड़ रुपए
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana का उद्देश्य

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग में प्रवेश लेने के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना है. इस योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थी अपनी उच्च शिक्षा को प्राप्त कर सकेंगे. आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को नीट तथा जेईई की निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी. यह योजना बेरोजगारी की दर को कम करने में भी मददगार साबित होगी. इस योजना के माध्यम से राज्य का हर बच्चा कोचिंग प्राप्त करके इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए सक्षम बनेगा. इस योजना के माध्यम से विद्यार्थी आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे.

हिमाचल ग्रहणी सुविधा योजना

हिमाचल बालिका जन्म उपहार योजना

हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता योजना

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana योजना के चरण

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना को दो चरणों में संचालित किया जाएगा. पहले चरण में विद्यार्थियों को विज्ञान और गणित की कोचिंग प्रदान की जाएगी. इसके अलावा विद्यार्थियों को नीट के प्रश्न, जेईई के पेपर और इन परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए किताबों की जानकारी, सिलेबस आदि से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी. 11वीं कक्षा पास करने के बाद जब विद्यार्थी 12वीं कक्षा में प्रवेश लेंगे तो उनका टेस्ट लिया जाएगा और इस टेस्ट को पास करने वाले 10% छात्रों को फाइनल कोचिंग के लिए चुना जाएगा.

स्कूल के शिक्षकों की भी इस योजना के अंतर्गत मुख्य भूमिका रहेगी. शिक्षकों द्वारा विद्यार्थियों को इन विषय को लेकर पूरी तरह से अपडेट किया जाएगा. इस योजना के कार्यान्वयन के लिए सरकार ने  5 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है. विद्यार्थियों को कोचिंग प्रदान करने के लिए शिक्षकों द्वारा विद्यार्थियों के मोबाइल पर यूट्यूब की लिंक भेजी जाएगी. यह लिंक शिक्षकों के द्वारा भेजी जाएगी जिसके माध्यम से विद्यार्थी अपने घर बैठे कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे. यह लिंक विद्यार्थियों को शनिवार को भेजी जाएगी.

इसके अलावा विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्ता की गणित और विज्ञान की सामग्री भी उपलब्ध करवाई जाएगी और हर सप्ताह 15 से 18 घंटे की कक्षाएं ली जाएगी. सरकार ने इस योजना के कार्यान्वयन के लिए जिला स्तर पर कमेटी का गठन भी किया है. इस योजना के पहले चरण में विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्ता वाली गणित और विज्ञान की सामग्री उपलब्ध करवाई जाएगी और दूसरे चरण में उच्च प्रदर्शन करने वाले 100 छात्र-छात्राओं की पहचान के लिए परीक्षा आयोजित की जाएगी.

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana Benefits

  • इस योजना का लाभ नवी कक्षा से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र प्राप्त कर पाएंगे.
  • दो चरणों में इस योजना का संचालन किया जाएगा.
  • कोचिंग प्रदान करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा प्लेटफार्म तैयार किए जाएंगे.
  • इस योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों को शनिवार और रविवार को कोचिंग प्रदान की जाएगी.
  • शिक्षा विभाग के स्टेट रिसोर्स ग्रुप द्वारा कोचिंग के लिए वीडियो तैयार किए जाएंगे.
  • गैर सरकारी संस्था से भी इस योजना के लिए सरकार द्वारा मदद ली जाएगी.
  • इस योजना की घोषणा हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी ने की है.
  • 11वीं कक्षा पास करने के बाद जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा में प्रवेश लेंगे तो उनका टेस्ट किया जाएगा और इस टेस्ट में पास होने वाले 10 विद्यार्थियों को फाइनल कोचिंग के लिए चयन किया जाएगा.
  • इस योजना के संचालन के लिए सरकार ने 5 करोड़ रूपये का बजट तय किया है.
  • कोचिंग सेंटर में विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की फीस जमा कराने की आवश्यकता नहीं होगी.
  • इस योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए नीट और जेईई की मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी.
  • 5 सितंबर 2021 को हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का शुभारंभ किया गया है.

Eligibility of Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

  • केवल हिमाचल प्रदेश की स्थाई निवासी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.
  • 9वीं कक्षा से 12वीं कक्षा तक के छात्र ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.
  • केवल सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थी ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • मार्कशीट
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षा योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए अभी आपको कुछ समय का इंतजार करना होगा क्योकि इस योजना की हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा अभी घोषणा ही की गई है, आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है. जैसे ही सरकार द्वारा इस योजना की आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी तो हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना की आवेदन प्रक्रिया की जानकारी प्रदान करेंगे.

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए कौन छात्र आवेदन कर सकते है?

हिमाचल प्रदेश के ऐसे छात्र जो NEET व JEE की परीक्षा की तैयारी कर रहे है, ऐसे छात्र कक्षा 9th से 12th तक इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!