उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना 2024 | UP Shramik Bharan Poshan Yojana Online Registration

UP Shramik Bharan Poshan Yojana 2024: देश के सभी नागरिकों को कोरोना वायरस काल में बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ा था किंतु इस महामारी के दौरान जो सबसे ज्यादा प्रभावित नागरिक थे वे थे देश के श्रमिक वर्ग जो प्रतिदिन कार्य करके मजदूरी प्राप्त करते हैं और उसी से अपना घर चलाते हैं। इन श्रमिकों को कोरोना काल में खाने-पीने तक की समस्या का सामना करना पड़ा। इसलिए उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने राज्य के श्रमिकों के लिए एक कल्याणकारी योजना की शुरुआत की है जिसका नाम उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना है, इस योजना को उत्तर प्रदेश मजदूर भत्ता योजना भी कहते हैं।

यूपी मजदूर भत्ता योजना के तहत सरकार द्वारा श्रमिकों को प्रति माह ₹1000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जा रही है ताकि इस आर्थिक सहायता के माध्यम से श्रमिक वर्ग अपना भरण पोषण कर सकें। इसके अतिरिक्त श्रमिकों को मुफ्त खाद्यान्न भी दिया जा रहा है। सरकार ने श्रम विभाग, नगर विकास एवं ग्राम सभा में पंजीकृत श्रमिकों को योजना के तहत शामिल किया है। प्रत्येक पंजीकृत मजदूर, नाविक, रिक्शा व ट्रॉली चालक, ठेला, खोमचा, रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार, पल्लेदार, हलवाई, दिहाड़ी मजदूर, नाई, दर्जी और धोबी आदि निर्माण श्रमिक आवेदन कर सकते हैं।

UP Shramik Bharan Poshan Yojana

इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको योजना के बारे में सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त कर लेना जरुरी है। आगे इस लेख में हम आपको इस योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी जैसे उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना क्या है? इस योजना के क्या लाभ है, योजना को शुरू करने का उद्देश्य, सरकार द्वारा निर्धारित की गई पात्रता, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन की प्रक्रिया आदि के बारे में पूरी जानकारी देंगे। अधिक जानकारी के लिए हमारे आर्टिकल के साथ अंत तक बने रहें।

विषय सूची

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना 2024

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा राज्य के पंजीकृत श्रमिकों, रिक्शा/ट्रॉली चालकों, रेडी लगाने वाले दुकानदार, पल्लेदार, हलवाई, दिहाड़ी मजदूर जैसे निर्माण श्रमिक परिवारों के लिए उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना की शुरुआत की गई है। जिसके तहत सरकार द्वारा लाभार्थियों को ₹1000 की वित्तीय सहायता प्रति माह प्रदान की जा रही है। इस योजना के तहत सरकार लाभार्थियों के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से सहायता राशि ट्रांसफर करेगी।

इसके अतिरिक्त अंत्योदय एवं पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को मुफ्त खाद्यान्न भी दिया जाएगा। इस योजना के तहत खाद्यान्न प्राप्त करने के लिए मजदूर के पास राशन कार्ड होना आवश्यक है। यदि मजदूर के पास राशन कार्ड नहीं है तो वह वरीयता से कार्ड बनवाकर राशन प्राप्त कर सकता है। योजना का लाभ लेने के लिए किन पात्रताओं को ध्यान में रखना है और क्या क्या दस्तावेज लगेंगे इन सभी की जानकारी आगे दी गयी है।

Uttar Pradesh Majdur Bhatta Yojana 2024 Overview

लॉकडाउन के समय में श्रमिको को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा मजदूर भत्ता योजना की शुरुआत की गई जिसकी संक्षिप्त जानकारी निम्नलिखित है –

योजना का नामउत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना
शुरू किया गयाराज्य सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य का श्रमिक वर्ग
उद्देश्यमजदूर परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करना ताकि वे अपना भरण- पोषण कर सके।
लाभराज्य के मजदूर परिवार को ₹1000 की वित्तीय सहायता प्रति माह दी जाएगी।
राज्यउत्तर प्रदेश
रजिस्ट्रेशन प्रोसेसऑनलाइन/ऑफलाइन
ऑफिशियल वेबसाइटhttp://uplabour.gov.in/  

श्रमिक भत्ता योजना उत्तर प्रदेश का उद्देश्य क्या है?

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना की शुरुआत 21 मार्च 2020 को की गई थी। इस योजना का उद्देश्य लॉकडाउन के समय में राज्य के मजदूर परिवारों को भरण-पोषण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना था। लॉकडॉउन के समय में श्रमिक परिवार अपना भरण पोषण करने में सक्षम नहीं हैं और उनकी आर्थिक स्थिति खराब होती जा रही है। इस समस्या को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा इस कल्याणकारी योजना की शुरुआत की गई जिसका उद्देश्य उनकी आर्थिक जरूरत को पूरा करना है। Majdur Bhatta Yojana के माध्यम से दिहाड़ी मजदूरों और निर्माण श्रमिकों को दैनिक जरूरत के लिए आर्थिक सहायता प्राप्त हो रही है जिससे वे आसानी से अपने और अपने परिवार का भरण पोषण कर सकते हैं।

यूपी मजदुर श्रमिक भत्ता योजना का लाभ किन लोगों को मिलेगा

मजदूर परिवार उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा जारी श्रमिक भरण पोषण भत्ता योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं, सरकार द्वारा निम्न को योजना का लाभार्थी माना गया है –

  • अंत्योदय श्रेणी के लोग
  • स्ट्रीट वेंडर
  • रिक्शा चालक
  • पल्लेदार
  • सड़क किनारे रेडी खोमचा लगाने वाले लोग
  • पटरी व्यवसायी
  • निर्माण श्रमिकों
  • धोबी
  • रिक्शा और ठेला चालक
  • दर्जी
  • नाई
  • मोची
  • हलवाई
  • फल और सब्जी विक्रेता
  • दिहाड़ी मजदूर

यूपी श्रमिक भरण पोषण योजना के लाभ (Benefits)

  • श्रमिक भरण पोषण योजना उत्तर प्रदेश के तहत राज्य के मजदूर परिवार जैसे कि दिहाड़ी मजदूर, निर्माण श्रमिक जैसे कि रिक्शा वाले, खोमचा/ रेहड़ी लगाने वाले, फल-सब्जी बेचने वाले,नाई, दर्जी, धोबी आदि आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना के तहत सरकार मजदूर परिवार को ₹1000 की आर्थिक सहायता प्रति माह प्रदान करेगी।
  • योजना के तहत करीब 35 लाख मजदूरों को लाभान्वित किया जाएगा।
  • साथ ही बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल मुफ्त में प्रदान किया जाएगा।
  • लाभार्थी पीडीएस केंद्रों से मुफ्त में खाद्यान्न प्राप्त कर सकेंगे।
  • यह योजना श्रमिकों के भरण- पोषण के लिए जारी की गई है अतः इस योजना के तहत लाभ लेकर श्रमिक परिवार लॉकडाउन के समय में आसानी से गुजारा कर सकेंगे।
  • योजना के तहत दी जाने वाली आर्थिक सहायता डीबीटी के माध्यम से सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।
  • यूपी भरण पोषण भत्ता योजना के तहत आवेदक ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Uttar Pradesh Majdur Bharan Poshan Yojana के लिए पात्रता

यूपी मजदुर भत्ता योजना के तहत लाभ लेने के लिए निम्नलिखित पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक है –

  • आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी हो।
  • मजदूर भत्ता योजना उत्तर प्रदेश का लाभ केवल श्रम विभाग, नगर विकास और ग्राम सभा में पंजीकृत मजदूर ही उठा सकते हैं।
  • यदि आवेदक के पास श्रम विभाग, नगर विकास या ग्राम सभाओं में से किसी का भी पंजीकृत सर्टिफिकेट नहीं है तो वह इस योजना का लाभ नहीं ले सकेगा।
  • आवेदन के पास सभी दस्तावेज उपलब्ध होने चाहिए।
  • आवेदक के पास खुद का बैंक अकाउंट होना चाहिए जो आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

यूपी मजदूर भत्ता योजना के लिए जरुरी दस्तावेज

सभी उम्मीदवार के पास भरण पोषण भत्ता योजना उत्तर प्रदेश के तहत लाभ लेने के लिए जरूरी दस्तावेज होने चाहिए, जो निम्नलिखित है –

  • आधार कार्ड
  • श्रम विभाग नगर विकास और ग्राम सभा में पंजीकृत होने का प्रमाण
  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि।

UP श्रमिक भरण पोषण भत्ता योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

यदि आप उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना के तहत ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसके नीचे दिए गए चरणों का अनुसरण करें –

  • इस योजना के तहत नगर निगम अधिकारी द्वारा सबसे पहले आवेदक को पंजीकृत किया जाएगा। नगर निगम, नगर पालिका, नगर निकाय द्वारा उक्त प्रपत्र जारी किया गया है। जिसमें ऐसे व्यक्तियों के बारे में जानकारी दर्ज की जाएगी जो श्रम विभाग में पंजीकृत नहीं है और जिनके पास मनरेगा कार्ड नहीं है।
  • पंजीकृत होने के बाद आवेदक को नगर निगम नामित नोडल अधिकारी, नगर पालिका परिषद या नगर पंचायत के अधिकारी के पास जाना होगा और आवेदन पत्र भरना होगा।
  • जिलाधिकारी गरीब लोगों की सूचनाओं को ऑनलाइन फीड करने के लिए उच्च जिलाधिकारी स्तर के अधिकारी को जिला स्तर पर नोडल अधिकारी और तहसील स्तर पर एक अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित करेंगे।
  • नगर निगम स्तर से नगर आयुक्त और जिला स्तर पर अधिकारी द्वारा स्थानीय निकाय क्षेत्र में दैनिक जीवन यापन करने वाले मजदूरों के विषय में सूचना प्रपत्र भरा जाएगा।
  • इसके बाद सभी मजदूरों की जानकारी ऑफिशियल पोर्टल पर अधिकारियों द्वारा फीड कर दी जाएगी और उन्हें यूजर आईडी और पासवर्ड प्रदान किया जाएगा।
  • यह कार्यवाही 15 दिनों के अंदर पूरी की जाएगी।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

राज्य के ऐसे उम्मीदवार जो Uttar Pradesh Shramik Bharan Poshan Yojana लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, वे नीचे दिए गए चरणों का अनुसरण करें –

  • सबसे पहले आपको लेबर डिपार्टमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज ओपन होने के बाद आपको “Online Registration and Renewal” का विकल्प मिलेगा, इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
UP Shramik Bharan Poshan Yojana 1
  • फिर आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा जहां आपको लॉगिन पेज दिखाई देगा यहां पर आपको “Register Now” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद एक नया विंडो खुलकर आएगा, यहां पर आपको “सदस्य पंजीकरण” सेक्शन के तहत “नया पंजीकरण” का विकल्प मिलेगा, इस विकल्प पर आपको क्लिक करना होगा।
  • फिर आप Nivesh मित्र पोर्टल पर पहुंच जाएंगे, यहां पर आपको आवेदन फॉर्म ओपन करने के लिए “Here Entrepreneurs Login” के सेक्शन में “Register Here” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा जिसमें मांगी गई व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सारी जानकारी देने के बाद आपको “रजिस्टर्ड” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपका उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना के लिए आवेदन पूरा हो जायेगा।

FAQs – UP Shramik Bharan Poshan Yojana 2024

प्रश्न 1. उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना क्या है?

उत्तर: Uttar Pradesh Shramik Bharan Poshan Yojana, उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा चलाई गई योजना है जिसके तहत सरकार श्रमिकों को लॉकडॉउन में भरण पोषण के लिए प्रति माह ₹1000 की वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है और साथ ही गरीब परिवारों को मुफ्त खाद्यान्न भी दे रही है।

प्रश्न 2. यूपी मजदूर भत्ता योजना में कितनी राशि मिलेगी?

उत्तर: मजदूर भत्ता योजना के तहत ₹1000 की राशि प्रति माह दी जाएगी।

प्रश्न 3. उत्तर प्रदेश मजदूर भत्ता योजना के लिए कौन पात्र हैं?

उत्तर: मजदूर भत्ता योजना के लिए प्रत्येक पंजीकृत मजदूर, नाविक, रिक्शा व ट्रॉली चालक, ठेला, खोमचा, रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार, पल्लेदार, हलवाई, दिहाड़ी मजदूर, निर्माण श्रमिक आदि आवेदन कर सकते हैं।

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!