बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 | पात्रता, ऑनलाइन आवेदन

बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन | bihar rajya fasal sahayata yojana | Bihar Fasal Bima Yojana Online Apply | Bihar Fasal Sahayata Yojana Form |

प्राकृतिक आपदा के कारण हमारे देश के किसानों को हमेशा से नुकसान होता रहा है। ऐसे में कभी कभी तो किसानों की पूरी फसल ही बर्बाद हो जाती है, जिसकी वजह से हमारे देश के किसान की स्थिति आर्थिक रूप से काफी कमजोर होती रही है। यह भी एक कारण रहता है कि कहीं किसान आत्महत्या जैसा गंभीर कदम उठा लेते है। बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत बिहार राज्य के हर एक किसान को फसल बीमा का लाभ मिल सकता है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

इसके लिए आपको Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की प्रक्रिया पूर्ण करनी होगी। एक बार किसी भी सीजन की फसल के लिए बीमा करवाने के बाद, यदि आपकी फसल किसी भी आपदा के कारण ख़राब हो जाती है। तो इसकी भरपाई सरकार या संबधित बीमा कंपनी द्वारा की जाएगी। Bihar rajya fasal sahayata yojana को करवाने की पूरी प्रक्रिया क्या है, इसकी पात्रता क्या है, आपको कौन से दस्तावेज देने है ? आप इसे कैसे करवा सकते है आदि के बारे में हम इस आर्टिकल में बात करेंगे। कृपया पूरा आर्टिकल पढ़ें।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना Bihar fasal bima yojana 2022

बिहार सरकार द्वारा राज्य के प्रत्येक किसान को प्राकृतिक आपदाओं से खराब हुई फसल की नुकसान की भरपाई के लिए इस योजना को शुरू किया है। राज्य सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना लाने से अब राज्य के किसी भी किसान को नुकसान नहीं झेलना पड़ेगा, यदि आप इस योजना के तहत बीमा करवाकर रखते है। क्यूंकि बीमा में कवर होने पर इसकी भरपाई सरकार या संबधित कंपनी (जिस कंपनी से बीमा हुआ हो) करेगी।

Bihar Fasal Sahayata Yojana के लिए फसल यदि उत्पादन के 20% तक ख़राब होती है, तो प्रति हेक्टेयर 7500 रुपये दिए जाएंगे, 20% से अधिक खराब होने पर प्रति हेक्टेयर 10000 रुपये प्रदान की जाएगी। यह धनराशि सीधे किसानों के बैंक एकाउंट ट्रांसफर की जाएगी। इसके लिए आपको आवश्यक है कि यदि आपका अभी तक बैंक खाता नहीं खुला है, तो अपने नजदीकी बैंक जाकर अपना बैंक खाता खुलवा लें। क्यूंकि आज सरकार द्वारा लायी जाने वाली कोई भी योजना का लाभ आपको बैंक खाते के माध्यम से ही दिया जाता है।

Bihar Fasal Bima Yojana Overview – 2022

योजना का नामबिहार राज्य फसल सहायता योजना
संबधित विभागसहकारिता विभाग बिहार सरकार
लाभार्थीबिहार के किसान
ऑनलाइन आवेदन की आरंभ तिथिआरंभ है
ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि कोई नहीं
उद्देश्यकिसानों को आपदा से हुए नुकसान से बचाना एवं किसानों को खेती के प्रति प्रेरित करना।
सहायता राशि 7500 से 10,000 रुपये
आधिकारिक वेबसाइट      http://rcdonline.bih.nic.in
टोल फ्री नंबर / हेल्पलाइन नंबर 18003456290
Email Id[email protected]

Bihar Fasal Bima Yojana 2022 के उद्देश्य

बिहार सरकार द्वारा बिहार फसल बीमा योजना को केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (pmfby) की तरह ही किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए इसे राज्य स्तर पर बनाया गया है। इसके पीछे राज्य सरकार का मकसद राज्य के सभी किसानों को इस योजना में कवर करना है। क्यूंकि किसानों को साल भर में विभिन्न प्रकार की आपदाओं नुकसान होता रहता है। इन्ही नुकसान की भरपाई करने के लिए सरकार द्वारा फसल बीमा सहायता योजना को शुरू किया गया है। बिहार सरकार की इस योजना से प्रति वर्ष लाखों किसान लाभान्वित हो रहे है। बिहार सरकार द्वारा इस योजना का नाम बिहार राज्य फसल सहायता योजना दिया गया है।

फसल बीमा स्कीम बिहार के लाभ

बिहार फसल बीमा स्कीम को राज्य सरकार द्वारा राज्य के किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए बनायीं गयी है। केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए पहले से चल रही pmfby Scheme में जो लाभ नहीं मिल रहे थे। राज्य सरकार द्वारा उन सभी बिंदुओं को भी सम्मिलित किया है। कहीं बार दूरस्थः क्षेत्र के किसानों को जनकारी के आभाव में दावा (claim) समय से नहीं करने पर इसका लाभ नहीं मिल पाता है। जिससे आम किसानों में यह सन्देश चला जाता है कि इस योजना से कोई लाभ नहीं मिलता है। लेकिन यदि आप फसल ख़राब होने पर सही समय पर अपना क्लेम कंपनी को भेजे तो आपको इस योजना से अवश्य ही लाभ होगा।

राज्य सरकार द्वारा बिहार राज्य फसल सहायता योजना को काफी सरल बनाया गया है। अब नए स्वरुप में लायी गयी स्कीम में किसानों को दावा (claim) सम्बन्धी समस्या भी नहीं आती है। प्रशसन द्वारा किसी क्षेत्र को जब आपदाग्रस्त घोषित किया जाता है तो उस क्षेत्र में किसानों द्वारा करवाये गए बीमा का क्लेम बिना किसी औपचारिकता के किसानो के बैंक खातों में ट्रांसफर कर दिए जाते है।

  • प्राकृतिक आपदा में हुए नुकसान की भरपाई सरकार या बीमा कंपनी द्वारा की जाएगी।
  • किसानों की फसल का यदि 20 प्रतिशत या उससे अधिक नुकसान होता है तो आपको 7500 से 10000 रुपये तक की सहायता राशि दी जाएगी।
  • बिहार राज्य किसान सहायता योजना के तहत किसानों को मिलने वाली सहायता राशि डीबीटी के माध्यम से सीधे बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी।

Bihar Rajya Fasal Sahayata yojana में सम्मिलित फसलें।

बिहार सरकार फसल बीमा योजना के तहत कहीं फसलों को सम्मिलित किया है। प्रति सीजन के अनुसार किसानों की फसलों की सूची बनायीं गयी है। इनमे राज्यभर के जिलों को कुछ वर्गों में बांटकर वहां ज्यादातर किसानों द्वारा बोई जाने वाली फसलों के अनुसार उन्हें बीमित करने की व्यस्था की है। उदहारण के लिए लिए माना किसी जिले के किसानों द्वारा रबी सीजन में आलू बोये जाते है, तो दूसरे जिले में उसी सीजन में गेहू बोये जाते है। तो पहले जिले में आलू को बीमित किया जायेगा एवं दूसरे जिले में गेहू का बीमा किया जायेगा। नीचे कुछ बिंदु दिए गए है।

  • राज्य के 17 जिलों को चने की फसल हेतु चयनित किया गया है। इन 17 जिलों में प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान की भरपाई सरकार या बीमा कंपनी द्वारा की जाएगी।
  • सरकार द्वारा राज्य के लगभग 35 जिलों को मसूर, 22 जिलों को अरहर, 16 जिलों को गन्ना एवं 38 जिलों को गेहू व मक्का के लिए अधिसूचित किया है।
  • सरकार द्वारा सालभर में बोई जाने वाली सभी अन्य फसलों को भी जिलेवार वर्जित किया है। जिससे किसी भी क्षेत्र का किसान
  • बिहार राज्य फसल सहायता योजना से वंचित न रह जाये।

बिहार फसल बीमा योजना आवेदन फॉर्म – 2022

आपदा से फसल ख़राब होने पर किसान अपना फार्म बिहार राज्य फसल सहयता योजना पोर्टल पर ऑनलाइन भर सकते है। आवेदन करने की प्रक्रिया हमने नीचे बताई है। सहायता योजना से राज्य के सभी किसानो को फसल बर्बाद होने पर सरकार द्वारा कुछ धनराशि दी जाती है। योजना से संबधित नवीनतम जानकारी के लिए आप आधिकारिक वेबसाइट को समय समय पर विजिट करते रहना चाहिए।

बिहार राज्य फसल बीमा योजना के लाभ

  • यह योजना का लाभ बिहार के इन किसान भाइयों को दिया जाएगा जिसकी फसल प्राकृतिक आपदा से खराब हुए होगी
  • Fasal bima yojana के तहत 20% फसल के नुकसान पे प्रति हेक्टेयर 7500 रुपये की धनराशि दी जाएगी और 20% से अधिक नुकसान होने पे प्रति हेक्टेयर 10000 रुपये की धनराशि दी जाएगी
  • यह धन राशि आपके बैंक एकाउंट में जमा होगी जिससे इसमे किसी भी प्रकार का भ्र्ष्टाचार ना हो

बिहार फसल सहायता योजना हेतू पात्रता

  • आवेदक बिहारी का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक बिहार का किसान होना चाहिए।
  • आवेदक किसान के पास बैंक खाता होना आवश्यक है।
  • जमीन से जुड़े बैध कागज जैसे – खतौनी / जमाबंदी होना आवश्यक है।

आवश्यक दस्तावेज

फसल सहायता राशि बिहार हेतु आवेदन के लिए आपके पास निम्न दस्तावेज का होना आवश्यक है।

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • खेत के कागज
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • फसल ख़राब होने संबधी घोषणा पत्र।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेतु इच्छुक आवेदनकर्ता किसान जो भी इस योजना का लाभ लेना चाहते है। उन्हें अपना आवेदन फार्म ऑनलाइन भरना होता है। आवेदन करने की आसान प्रक्रिया हमने नीचे स्टेप बाई स्टेप बताई है। यदि आपको आवेदन करने में समस्या आती है तो आप इन्हे देखकर आवेदन कर सकते है। (नोट – पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन आप सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे की बीच कर सकते है।)

बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • अगले पेज पर आपको किसान पंजीकरण के लिए पंजीकरण करें विकल्प मिलेगा। आपको इस पर क्लीक करना है। अब आप पुनः एक नए पेज पर आ जायेंगे।
बिहार राज्य फसल सहायता योजना
  • अब नए पेज पर आपसे आधार कार्ड है या नहीं है, विकल्प आएगा। आप यहां पर यदि आधार कार्ड है तो हाँ विकल्प पर क्लीक कर दें। अगले पेज पर आधार नंबर भरकर सबमिट कर दें।
  • अब आपके आधार कार्ड पर रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक पासवर्ड (otp) प्राप्त होगा। आपको उसे यहां पर सत्यापित कर दें।
  • सत्यापित करने के बाद आपके पंजीकरण की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

मैं एक बिहार का किसान हूँ, क्या मुझे इस योजना के तहत लाभ मिल सकता है?

हाँ, बिहार राज्य सहायता योजना के अंतर्गत बिहार का कोई भी किसान आवेदन कर सकता है। सरकार द्वारा बिहार के प्रत्येक किसान को लाभ पहुँचाने के लिए ही इस योजना को शुरू की गयी है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!