प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021 | किसान फसल बीमा ऑनलाइन 2021 | फसल बीमा लिस्ट जिलेवार सूची | फसल बीमा राशि | Pradhanmantri Fasal Bima Yojana Claim 2021| PMFBY Kya hai?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 क्या है ?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानो के फसल की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गयी है। यदि किसानों की फसल ख़राब हो जाती है, तो उस पर बीमा कवर देने का प्रावधान किया गया है, यानि फसल ख़राब होने पर बीमा दावा (क्लेम) राशि दी जाएगी। इसे सरकार की दो पूर्ववर्ती योजनाओं से बदला (रिप्लेस) गया है। उनमें पहली नेशनल एग्री एंश्योरैंस स्कीम और दूसरी मॉडिफाई एग्री एंश्योरेंस स्कीम थी। इन दोनों स्कीम में काफी कमियां थी। पुरानी दोनों योजनाओं सबसे बड़ी कमी उनकी लम्बी दावा (क्लेम) की प्रक्रिया थी।

इसमें किसानो के फसल ख़राब होने पर क्लेम में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। यही कारण रहा की इन दोनों स्कीम की जगह प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को लाया गया। PMFBY Scheme की शुरुआत 13 मई 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी थी। इसमें प्रीमियम राशि को प्रत्येक किसान की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए काफी कम रखा गया है। खरीफ पर 5% व रबी पर मात्र 1.5% प्रीमियम राशि है।

PM Fasal Bima Yojana Overview 2021

योजना का नाम। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
योजना की शुरुआत। 13 मई 2016
किसने शुरू किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।
किस मंत्रालय के अधीन है। कृषि मंत्रालय। (MINISTRY OF AGRICULTURE & FARMERS WELFARE)
प्रीमियम की अंतिम तारीख खरीफ के लिए जुलाई व रबी के लिए दिसंबर माह की अंतिम तारीख। 
अधिकतम क्लेम। 200000/-
किसकी योजना है। केंद्र सरकार। 
आधिकारिक वेबसाइट। https://pmfby.gov.in/
उद्देश्य किसानों को फसल संबधित नुकसान की भरपाई करना। ( किसानों को सशक्त करना)
वर्तमान स्थिति Close for Kharif 2021 
लास्ट डेट खरीफ के लिए 31 जुलाई 2021 एवं रबी के लिए 31 दिसम्बर 2021 

fasal bima Kharif 2021 Latest Updates

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 में खरीफ फसल के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन शुरू हो गए है। खरीफ फसल के लिए बीमा हेतु अंतिम तिथि 31 जुलाई है। किसान भाइयों आपने खरीफ 2021 के लिए बुहाई कर दी होगी या करने वाले होंगे। ऐसे में फसल की सुरक्षा के लिए आप फसल बीमा करवा सकते है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत आपसे बहुत कम प्रीमियम पर पूरी फसल को कवर दिया जाता है। यदि आपकी फसल किसी आपदा के कारण ख़राब हो जाती है, तो आपको कवर दिया जायेगा। 

Pradhanmantri fasal bima yojana online registration करने पर किसानो से मात्र 1.5% से लेकर 5% तक प्रीमियम लिया जाता है। शेष सरकार द्वारा वहन किया जाता है। यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है, नजदीकी जनसेवा केंद्र या यदि आपने बैंक से कृषि ऋण लिया है तो अपने बैंक जाकर बीमा करवा सकते है। आप स्वंम भी Online apply कर सकते है। 

online form भरने के लिए आपको pmfby की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद Farmer corner पर जाना होगा। हमने ऑनलाइन फार्म भरने के लिए निचे विस्तार से जानकारी दी है। कृपया आर्टिकल को पूरा पढ़े।

pradhan mantri fasal bima yojana online registration 2021 last date

सरकार द्वारा pmfby kahrif 2022 हेतु आवेदन हेतु विज्ञापन जारी कर दिया है। pmfby kharif 2021-22 last date से पहले ही आपको आवेदन करना होगा। सरकार द्वारा pmfby rabi 2021-22 हेतू last date 31 दिसम्बर 2021 है। कट ऑफ़ डेट से पहले ही आपको आवेदन करना होगा।

PMFBY Important links 2021 

फसल बीमा Farmer corner Click here 
crop insurance premium calculator Click here 
fasal bima application status Click here 
fasal bima technical grievance Click here 

PMFBY योजना के मुख्य बिंदु।

  • PMFBY में किसानो से रबी के लिए 1.5%, खरीफ के लिए 2% व वाणिज्यिक व बागवानी फसलों के लिए 5% प्रीमियम है।
  • crop insurance में किसानों से बहुत काम प्रीमियम लिया जाता है। ज्यादातर प्रीमियम सरकार द्वारा भरा जाता है। ताकि कोई भी किसान बीमित होने से न रह जाये। जिससे आपदा में हुए नुकसान की भरपाई हो सकें। 
  • PMFBY में टेक्नोलॉजी को भरपूर प्रयोग किया गया है। जिससे क्लेम सेटल करने के समय को काफी कम किया जा सके।
  • इसे एग्रीकल्चर इंडिया इन्शुरन्स कंपनी द्वारा नियंत्रित किया जाता है। 
  • 2016-17 के बजट में PMFBY के लिए 5550 करोड़ रूपए का आवंटन किया गया था।
  •  फसल बीमा योजना को पूर्ववर्ती दो योजनाओँ राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (एनएआईएस) एवं संशोधित राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (एमएनएआईएस) से रिप्लेस किया गया है।

किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें।

ऋण खाताधारकों किसानों के लिए। : यदि आपने बैंक से कृषि ऋण लिया है। तो बैंक अब आपसे जबदरस्ती बीमा नहीं करवाएगा। क्यूंकि अब यह बीमा ऋणधारकों के लिए अनिवार्य नहीं रह गया है। आपको दो विकल्प दिए जाएंगे। आप लेना चाहते है तो option in फॉर्म भरकर बैंक को देना है। और यदि नहीं करवाना चाहते है तो Option Out फॉर्म देना होगा। यदि आपने Option In फार्म दिया है, तो फॉर्म भरकर देने के बाद आपको कुछ भी करने की जरुरत नहीं है। बैंक स्वंम ऑनलाइन फॉर्म भरकर प्रीमियम आपके ऋण खाते से नामे (Debit) कर लेगा। पूरी प्रक्रिया बैंक स्वंम करेगा। 

Option Out फॉर्म देने से आप इस बीमा को लेने से मना कर रहे है। ऐसी स्थिति में बैंक आपका फसल बीमा नहीं करेगा। बैंक द्वारा आपके खाते से प्रीमियम नामे (Debit) नहीं किया जायेगा। ऑप्शन आउट का चयन करने पर भविष्य में इस फसल पर होने वाले किसी भी आपदा या अन्य नुकसान को आपको स्वम वहन करना पड़ेगा।

आयुष्मान भारत योजना क्या है ?

स्वंम से फसल बीमा करवाए। (गैर ऋण खाताधारकों )। 

यदि आपने कृषि ऋण नहीं लिया है, और आप फसल बीमा करवाना चाहते है, तो आपके पास दो विकल्प है। एक या तो आप किसी कृषि जन सेवा केंद्र जाकर फसल बीमा करवाए और या फिर स्वंम किसान पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरकर आवेदन करें। पूरी प्रक्रिया का विवरण निचे दिया गया है। यदि आप स्वंम आवेदन करना चाहते है तो सबसे पहले आपको फसल बीमा के आधिकारिक वेबसइट पर जाना होगा। 

उसके बाद आपको Farmar corner विकल्प का चयन करना होगा। फार्मर कार्नर विकल्प का चयन करने के बाद एक नई विंडो खुलेगी। फिर आपको guest Farmer विकल्प का चयन करना होगा। उसके बाद एक फॉर्म आएगा जिसे आपको पूरा भरना होगा। फॉर्म में जमीन, व बैंक की जानकारी मांगी जाएगी। ये सभी विवरण सावधानी से भरकर आप प्रीमियम का भुगतान कर लें। इस प्रकार आपके आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी। 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 हेतु बजट। 

जैसा की आप सभी जानते ही होंगे की सरकार द्वारा 13 मई 2016 को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को अपनी दो पूर्ववर्ती योजनाओं राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (एनएआईएस) एवं संशोधित राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (एमएनएआईएस) से रिप्लेस करके शुरू की थी। 2016-17 में सरकार द्वारा इसके लिए कुल बजट रुपये 5550 करोड़ रुपये रखा था। जिसमें प्रतिवर्ष बढ़ोतरी की जा रही है। 2020-21 में इसे बढ़ाकर 15650 करोड़ रुपये का आवंटन किया था। और २०२१-२२ के लिए इसे और बढ़ा दिया है। फसल बीमा योजना का बजट इस वर्ष के लिए 16000 करोड़ रुपये किया गया है।

  • बीमा कंपनियों को IRDA द्वारा कवरेज बढ़ाने को कहा गया था। क्यूंकि नॉन बीमा कंपनियों को उनके Profit के हिसाब से प्रीमियम नहीं मिलने के कारण फसल बीमा में कम इंटरेस्ट ले रही थी। यही कारण रहा की IRDAI को सामने आना पढ़ा और बीमा कंपनियों से इसका कवरेज दायरा बढ़ाने के लिए कहा। 
  • फसल बीमा का जो कवरेज है, वह फसल की बुहाई के साथ शुरू हो जाता है। और फसल के कटाई के बाद तक बना रहता। इसमें किसान से प्रीमियम राशि बहुत कम लिया जाता है। 1.5% रबी, 2% खरीफ और वाणिज्यिक व बागवानी के लिए 5 % रहता है।

फसल बीमा योजना हुआ वैकल्पिक। डाउनलोड PMFBY Opt Out Opt in फॉर्म। 

फसल बीमा योजना कहीं साल पहले ही शुरू हो गया था। लेकिन पहले उसके कहीं अन्य नाम थे। और यदि आपने कृषि ऋण लिया होता था तो आपको यह अनिवार्य रूप से लेना होता था। लेकिन अब ऐसा नहीं रह गया है। अब यदि आपको लगता है कि में इसे नहीं करवाना चाहता हूँ तो इसका विकल्प अब दे दिया गया है। आपको बीमा कम्पनी द्वारा दो विकल्प दिए जायेंगे। Option Out और Option In . यदि आप करवाना चाहते है तो ऑप्शन इन और यदि नहीं करवाना चाहते है तो ऑप्शन आउट फॉर्म भरकर बैंक को देना होगा।

यहाँ से डाउनलोड करें।

FAQ

Pmfby क्या है ?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 केंद्र सरकार द्वारा फसल की सुरक्षा हेतु शुरू की गयी एक बीमा योजना है। इसके तहत किसान से बहुत कम प्रीमियम राशि ली जाती है। किसान अपनी फसल को सुरक्षित कर पाते है। 

1 thought on “प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021”

Leave a Comment

error: Content is protected !!