कुसुम योजना फ्री सोलर पैनल योजना – Pradhan Mantri Solar Panel Yojana 2021

दोस्तों आज हम Pradhan Mantri Solar Panel Yojana के बारे में जानेंगे। प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना के तहत देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गांव में बिजली प्रदान करने के लिए नई सौर ऊर्जा शुरू की है, इस योजना का मुख्य उदेश्य छोटे और बड़े किसानों को सोलर पैनल द्वारा बिजली उपलब्ध करवाना है।

जिसके दो लाभ होंगे एक पानी के ट्यूबबेल को हर समय विजली मिलेगी और बची हुई बिजली को किसान बेच भी सकेंगे। अगर आप भी प्रधान मंत्री सौर योजना का लाभ लेना चाहते हैं, एवं अपने घर को रोशन करना चाहते हैं, तो आपको नीचे बताई गई प्रक्रिया को अपनाना होगा। कृपया लेख को पूरा पढ़े।
किसान भाइयो आप कम से कम लागत पर सौर पैनल योजना (Solar Panel Yojana) का लाभ उठा सकते हैं, इसके अलावा, आपको नवीकरणीय ऊर्जा (रिन्यूएबल एनर्जी) हेतु सब्सिडी भी दी जाती है। आजकल सरकार सौर ऊर्जा पर वह इलेक्ट्रिक से चलने वाहनों पर भी भारी छूट देती है।

कुसुम योजना सोलर पैनल योजना 2021

PM सोलर पैनल योजना यानि कुसुम योजना को नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया। इस योजना के तहत सरकार द्वारा सभी किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना के तहत लगभग 10 लाख किसानो को लाभ दिया जायेगा। कुसुम योजना केवल किसानों के लिए लागू की गई है, जिसके तहत उन्हें मुफ्त में सौर पंप सेट भी वितरित किए जायेंगे, इसके अलावा जो कोई भी सौर के लिए आवेदन करना चाहता है, वह निचे दी गयी प्रक्रिया को अपनाये।

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana Overview

Scheme NamePradhan Mantri Solar Panel Yojana
Launched byIndia Government
DepartmentMinistry of New and Renewable Energy
StatusActive
Cost of SchemeRs 10000 crore
BeneficiaryFarmers of the Country
The time duration of Scheme10 Years
Official websitehttps://mnre.gov.in/

प्रधान मंत्री सौर पैनल योजना हेतू महत्वपूर्ण दस्तावेज

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए दस्तावेजों की सूचि निम्न है-

  • आधार कार्ड।
  • पैन कार्ड।
  • डर्केलरेशन पत्र।
  • बैंक पासबुक।
  • पासपोर्ट आकार का फोटो। 
  • एक किसान की भूमि का पूरा विवरण खतौनी आदि। 

Benefits of Prime Minister Solar Panel Scheme

  • किसानो द्वारा सोलर सिंचाई पंप उपलब्ध होने से पेट्रोलियम ईंधन की लागत कम हो जाएगी।
  • किसानो द्वारा अपने उपभोग के बाद बची बिजली सीधे सरकार को बेच सकेंगे।
  • प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना से ऐसे किसानों को अतिरिक्त आय प्रदान होगी जो अपनी जमीन पर सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करेंगे। 
  • इस योजना से प्रतिमाह 6000 रुपये तक ट्रांसफर किये जायेगे |
  • सोलर प्लांट के नीचे किसान आसानी से सब्जियां इत्यादि उगा सकेंगें।  

ये भी पढ़े – Pradhan Mantri Jivan Jyoti Bima Yojana

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana का मुख्य उद्देश्य

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana का उद्देश्य देश के सभी किसानों को बिजली की समस्या से छुटकारा दिलाना है। उन्हें सशक्त बनाना तथा उनकी आय के अतिरिक्त विकल्प उपलब्ध कराना है, यह योजना निश्चित रूप से देश के किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में तथा उनकी आय को दोगुना करने में काफी मददः करेगी।

सिंचाई के लिए उपयोग में आने वाले पेट्रोल और डीजल का खर्च भी कम करेगी, इसके साथ ही साथ अतिरिक्त मासिक खर्च को कम करना एवं अतिरिक्त आय का साधन भी उपलब्ध कराना है। बताया जाता है कि यदि आप अपनी 5 एकड़ जमीन पर 1 मेगा वाट का सोलर प्लांट लगायेंगे, तो आपको बिजली कंपनियों द्वारा 30 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान किया जाएगा तथा 1 वर्ष में 1 मेगा वाट का सोलर प्लांट 11 लाख यूनिट बिजली उत्पन्न की जाएगी। 


Pradhan Mantri Solar Panel Yojana Budget

इन सभी सेवाओं से Pradhan Mantri Solar Panel Yojana के तहत किसानों को लाभ मिल सकता है, हाल ही में केंद्र सरकार ने कुसुम योजना की सुचारू रूप से शुरू करने के लिए किसानों को 48 हजार करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। इस योजना के तहत, 10000 मेगावाट के सौर संयंत्र ऐसे बंजर भूमि पर स्थापित किए जाएंगे जहाँ खेती करना संभव नहीं है। 

अपने खेतों में सोलर प्लांट, फिर वह इन सोलर प्लांट्स के तहत छोटे फलों जैसे आलू की फसल आदि की खेती भी कर सकते हैं। बंजर जमीन में इस सोलर प्लांट को स्थापित करने से किसानों को कम से कम कीमत पर बिजली उपलब्ध हो सकेगी, जिससे किसानों की उपज को बेहतर बनाया जा सके।

कुसुम योजना पंजीकरण

अगर आप भी Pradhan Mantri Solar Panel Yojana या कुसुम योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको निम्नलिखित प्रक्रिया अपनानी होगी। इस योजना से संबंधित, आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। इसके बाद, यहां दी गई सभी पात्रता और जानकारी के बारे में ध्यान से पढ़ें। फिर मंत्रालय और नवीकरणीय ऊर्जा द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करें और इस योजना का लाभ लेने के बारे में सभी नियमों को पूरा करें।

इलेक्ट्रिक डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों और नोडल एजेंसियों और एमएनआरई ने इस योजना को लागू किया है जिसके लिए जल्द ही विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। सौर प्रणाली की स्थापना के लिए कितनी प्रतिशत सब्सिडी दी जाती है, भारत सरकार में, केंद्र और राज्य सरकारों ने निर्णय लिया है ,सोलर पैनल या सोलर प्लांट पर अलग-अलग शहर बसाने के लिए, 

जिसमें आपको सौर ऊर्जा से चलने वाले उपकरणों पर सब्सिडी दी जाती है, यह शहर 20 प्रतिशत से 30 प्रतिशत तक हो सकता है।  यह राज्य सरकार है जो विभिन्न निर्धारण करती है।  

अगर आप भी भारत सरकार द्वारा प्राप्त की जा रही सब्सिडी का लाभ उठाना चाहते हैं और सोलर प्लांट प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको नीचे दी गई प्रक्रिया को अपनाना होगा। सोलर पैनल किस प्रकार के हैं और हमें कौन सा सोलर सिस्टम लगाना चाहिए तो हम आपको बता दें कि दो प्रकार के सौर पैनल होते हैं और आप इनमें से किसी भी प्रकार के सौर पैनल स्थापित कर सकते हैं, बशर्ते ये सौर पैनल अलग-अलग क्षेत्रों के अनुसार डिजाइन किए गए हों। सॉलर पैनल एक पॉलीक्रिस्टल और मोनोक्रिस्ट बाजार में उपलब्ध हैं। 


आपको बता दें कि सौर संयंत्र भी दो प्रकार के होते हैं। 

  • ऑफ ग्रिड सोलर प्लांट (Off grid solar plant)
  • ऑन-ग्रिड सोलर प्लांट  (On-grid solar plant)

ऑफ-ग्रिड सोलर प्लांट:-  सौर ऊर्जा में, ऊर्जा बैटरी द्वारा संग्रहीत की जाती है और बिजली जाने पर इसका उपयोग किया जाता है  बाहर या इसका उपयोग तब किया जाता है जब सूरज की रोशनी निकलती है।
ऑन-ग्रिड सौर प्रणाली के बारे में बात करते हैं:- यहाँ आप सूरत से आने वाली बिजली को सीधे एसी में बदल सकते हैं या इसे सीधे उपयोग कर सकते हैं या रात को इलेक्ट्रिक को भेजा जाता है  नगर विभाग, ताकि  कुछ पैसे आप इसे कमा सकते हैं या जब तक आपके पास सूरज की रोशनी है, आप राज्य सरकार को बिजली भेजते हैं और जब आप कट जाते हैं या आपके पास बिजली नहीं होती है, तो रात में सरकार बिजली प्रदान करती है और इसमें किसका बिल बकाया है  कुसुम सौर पंप योजना लागू करें। 

Convolution

दोस्तों हमने Pradhan Mantri Solar Panel Yojana के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने की कोशिश की। इसमें इसके क्या-क्या लाभ है, इसे कैसे स्थापित किया जाता है, यह देश हित के लिए कितना जरुरी है, मै आशा करता हूँ, कि इस लेख से आपको प्रधान मंत्री सौर पैनल योजना की पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी, यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर करे और इस लेख से जुड़ा कोई भी सुझाव देना चाहते है तो हमे कमेंट करे, धन्यवाद।

faq

कुसुम योजना क्या है ?

PM सोलर पैनल योजना या कुसुम योजना को भारत सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू किया गया है। इसका उदेश्य सरकार द्वारा सभी किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करना है। योजना के द्वारा लगभग 10 लाख किसानो को लाभ दिए जाने की योजना है। कुसुम योजना किसानों के लिए शुरू की गयी है, इस योजना में किसानों को मुफ्त में सोलर सेट वितरत किया जायेंगे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!