उत्तराखंड सोलर वाटर हीटर योजना 2022 | Uttarakhand Solar Water Heater Yojana Apply

Uttarakhand Solar Water Heater Yojana: उरेडा अथवा उत्तराखंड अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी द्वारा उत्तराखंड बिजली, पर्यावरण एवं लोगों के बिजली बिल में कमी लाने के उदेश्य से एक बड़ी सोलर योजना Uttarakhand Solar Water Heater Yojana की शुरुआत की गयी है, उरेडा उत्तराखंड की इस योजना से राज्य के लोगों को पानी को गर्म करने के लिए सोलर वाटर हीटर स्कीम को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँचाने के लिए प्रोत्साहन हेतु सब्सिडी भी देता है। सब्सिडी 30% से लेकर 60% तक दी जाती है।

Uttarakhand Solar Water Heater Yojana

उरेडा द्वारा लगभग 75 हजार लीटर से अधिक लीटर के वाटर हीटर लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिए उरेडा राज्य में 100 से 800 लीटर क्षमता तक के वाटर हीटर लगाएगा। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक घरलू वाटर हीटर को 60%की छूट सब्सिडी के रूप में दी जाएगी, जबकि कॉमर्शियल के लिए 30% की छूट दी जाएगी।

विषय सूची

उत्तराखंड सोलर सब्सिडी वाटर हीटर योजना 2022

सोलर वाटर हीटर सोलर सिस्टम के माध्यम से पानी गरम करने का एक यन्त्र है, जिसे घरों की छत पर लगाया जाता है, यह पूरी तरह से सौर ऊर्जा से चलता है, इसका प्रयोग घरों में प्रयोग होने वाले पानी को गरम करने के लिए किया जाता है। उड़ेगा के इस प्रोजेक्ट से लोगों कम बिजली बिल देना होता है, साथ ही अनावश्यक खर्च होने वाली बिजली की भी बचत होती है। यदि आप भी उत्तराखंड के रहने वाले है, तो आपको इस योजना का लाभ अवश्य लेना चाहिए।

इससे अवश्य ही लोगों के घरों में खर्च होने वाली बिजली में काफी बचत होगी, जिसका सीधा सीधा असर लोगों के बिजली बिल पर भी पड़ता है। इस आर्टिकल में हम बताएँगे कि आप उत्तरखंड वाटर हीटर सब्सिडी योजना का लाभ कैसे ले सकते है, उरेडा की यह वाटर हीटर योजना क्या है, इसके क्या – क्या लाभ है, वाटर सोलर सब्सिडी योजना के लिए आवश्यक पात्रता क्या है, आदि के बारे में बात करेंगे। कृपया वाटर हीटर सब्सिडी आर्टिकल को अंत तक पढ़ें। ये भी पढ़ें – प्रधानमंत्री कुसुम सोलर योजना

सोलर वॉटर हीटर क्या होता है?

यह सोलर सिस्टम से चलने वाला एक यंत्र है, जो घरों में प्रयोग होने वाले पानी जैसे – नहाने, बर्तन धोने या अन्य कार्य हेतु आदि के लिए गर्म करने के काम आता है। इस यंत्र में सोलर पैनल लगे होते है, जिसमे सीधे सूर्य की रोशनी पड़ने से एकत्र हुई ऊर्जा के द्वारा पानी को गर्म करने का काम करती है।

यह एक सुरक्षित माध्यम है, इसे आपके द्वारा एक बार लगवा लेने के बाद से इस बात की टेंशन नहीं रहती है कि लाइट है या नहीं। केवल दिन में सूरज की रोशनी (धुप) होनी चाहिए। इसमें लगे सोलर पैनल के साथ एक टेंक लगा होता है, जिसमे पानी भरा जाता है। टैंक में भरा पानी सोलर पैनल के माध्यम से गर्म होता है। सोलर पैनल मुख्यतः दो प्रकार के होते है –

  • Flat Plate Collectors (FPC)
  • Evacuated Tube Collectors (ETC)

Uttarakhand Solar Water Heater Yojana 2022 Highlights

योजना का नामउत्तराखंड सोलर वाटर हीटर सब्सिडी योजना।
राज्यउत्तराखंड
न्यूनतम क्षमता वाले सोलर वाटर की कीमत15 – 22 हजार रूपए।
संबधित विभागउत्तराखंड अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी।
लाभार्थीउत्तराखंड राज्य के निवासी।
उद्देश्यलोगों को सोलर हीटर के लिए प्रोत्साहन देना / बिजली की बचत।
आधिकारिक वेबसाइटureda.uk.gov.in

सोलर हीटर वाटर सब्सिडी योजना के लाभ व विशेषताएं

उत्तरखंड सरकार के उरेडा द्वारा चलायी जाने इस सोलर हीटर योजना के कहीं फायदे है, जिनका विवरण निम्न है –

  • उरेडा द्वारा घर में वाटर हीटर लगाए जाने से लोगों के बिजली बिल में कमी आएगी, लोगों को पानी गर्म करने से होने वाले अतिरिक्त खर्च की बचत होगी। उरेडा का दावा है कि वाटर हीटर से प्रति वर्ष लगभग 1500 यूनिट बिजली की बचाई जा सकती है।
  • यूके सोलर सिस्टम वाटर हीटर योजना के तहत लगने वाले यंत्रो की कीमत काफी कम है, 100 लीटर क्षमता वाले हीटर की कीमत लगभग 15-20 हजार है।
  • सोलर वाटर हीटर की कीमत काफी कम होने के वावजूद इसमें अतरिक्त सब्सिडी दी जाती है, यदि आप घरलू उपभोग के लिए लगवाते है तो आपको 60% सब्सिडी दी जाएगी, जबकि कॉमर्सिअल पर्पज के लिए 30% सब्सिडी उरेडा द्वारा दी जाती है।
  • केवल 100 लीटर क्षमता का वाटर हीटर लगने से एक वर्ष में 1.5 तन कार्बनडाईऑक्साइड के उत्सर्जन को रोका जा सकता है, अथवा पर्यावरण की दृष्टि से भी यह सोलर हीटर काफी फायदेमंद है।
  • सोलर वाटर हीटर एक बार इनस्टॉल हो जाने से आपके घर पर यह 15 से 20 वर्ष तक प्रयोग में लाया जा सकता है।
  • बिजली की बचत होने से सरकार के ऊपर होने वाले अतरिक्त बिजली जरूरतों के लोड को कम करने में काफी मदद मिलेगी।
  • भारत एक ऐसे भौगोलिक लोकेशन में स्थित है, जहां साल भर न्यूनतम 10 से 12 घंटे धुप रहती है, यही एक प्रमुख वजह है कि यह योजना हमारे देश में काफी सफल हो सकती है।
  • इन सभी विशेषताओं के अलावा वाटर हीटर लगवाने का एक और लाभ भी है, यदि इसे लगवाने पर उत्तरखंड सरकार आपको बिजली बिल में भी विशेष छूट देगी।

उत्तर प्रदेश सोलर ऊर्जा योजना

सोलर वाटर हीटर का प्रयोग कहां करें?

  • solar water heater (SWH) का प्रयोग आप अपने घरों में, अस्पतालों में, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में, होटल में, डेयरी प्लांट, छात्रावास (स्टूडेंट हॉस्टल) स्विमिंग पूल, कैंटीन, डेयरी आदि में किया जा सकता है।
  • इसका प्रयोग आप अपने घरों में कपड़ों को धोने में कर सकते है।
  • होटल एवं रेस्त्रां आदि में भी वाटर हीटर का प्रयोग किया जा सकता है।
  • इस प्रकार आप SWH का यूज कहीं तरीके से कर सकते है, यह काफी किफायती है, आपके बिजली के बिल को काफी कम कर सकता है।

सोलर वॉटर हीटर उत्तराखंड के लिए आप कैसे आवेदन करें?

यदि आप उत्तराखंड के निवासी है, और आप भी अपने घर पर वाटर हीटर लगवाना चाहते है, तो आपको इसके लिए निम्न प्रक्रिया को अपनाना होगा।

  • वाटर हीटर लगवाने के लिए सबसे पहले आपको अपने क्षेत्र में कार्यरत वाटर हीटर कंपनी से संपर्क करना होगा।
  • कंपनी से संपर्क करने के बाद आपको इसके लिए एक आवेदन फॉर्म दिया जायेगा, आपको इस आवेदन फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारियों को भरना होगा।
  • इसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेज की फोटो कॉपी साथ में सलग्न कर कंपनी के कर्मचारी के पास जमा कर देना होगा।
  • इस प्रकार अब आपका आवेदन फॉर्म जमा जो जायेगा, आप कंपनी के संबधित कर्मचारी से उनका कांटेक्ट नंबर ले सकते है।
  • कुछ दिनों के बाद आप अपने आवेदन का स्टेटस पता कर सकते है।

उत्तर प्रदेश किसान उदय योजना

FAQ : सोलर वाटर हीटर योजना से संबधित पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न 1 – SWH यानि सोलर वाटर हीटर लगाने का मुख्य लाभ क्या है?

उत्तर – सोलर हीटर लगाने पर आपको कहीं फायदे हो सकते है, जैसे – बिजली बिल में कमी, पर्यावरण को स्वच्छ रखने में आप योगदान दे पाएंगे। इसके अलावा आपके घर पर आने वाले बिजली बिल में भी आपको विशेष छूट दी जाएगी।

प्रश्न 2 – मैं सोलर हीटर लगवाना चाहता हूँ, क्या मुझे इसके लिए सरकार द्वारा कोई साहयता राशि / प्रोत्साहन राशि मिलेगी?

उत्तर – हाँ, आपको उरेडा (उत्तराखंड अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी) द्वारा आपको सब्सिडी दी जाएगी। उरेडा आपको प्रति 100 लीटर के हीटर के लिए 1200 रुपये की सब्सिडी देता है।

प्रश्न 3 – क्या सोलर हीटर का उपयोग में अपने व्यावसायिक कार्य में कर सकता हूँ?

उत्तर – हाँ, आप उत्तराखंड सोलर वाटर हीटर स्कीम के तहत लगने वाले हीटर का प्रयोग अपने व्यावसायिक कार्य जैसे – होटल, लॉज आदि में भी कर सकते है।

प्रश्न 4 – एक बार सोलर हीटर लगाने के बाद यह कितने वर्ष तक उपयोग में लाया जा सकता है?

उत्तर – उरेडा के तहत लगाएं जाने वाले सोलर हीटर काफी अच्छी गुणवत्ता के होते है, एक बार इसे अपने घर की छत पर इंस्टॉल करवाने के बाद यह 15 से 20 वर्ष तक यूज में लाया जा सकता है।

प्रश्न 5 – क्या कोई भी व्यक्ति इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है?

उत्तर – हाँ, उत्तराखंड का कोई भी व्यक्ति इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है, इसके लिए आपको वाटर हीटर की कंपनी के नजदीकी कार्यालय जाना होगा, जहां पर आप आवेदन फॉर्म लेकर आवश्यक दस्तावेज जमा करके इस योजना का लाभ ले सकते है।

प्रश्न 6 – उत्तराखंड वाटर हीटर योजना के अंतर्गत कितने % (प्रतिशत) सब्सिडी दी जाती है?

उत्तर – इस योजना के लिए दो श्रेणियों में बांटा गया है, घरेलु उपयोग एवं वाणिज्यिक उपयोग। वाटर हीटर के लिए उरेडा द्वारा घरेलु उपयोग हेतु 60% सब्सिडी एवं वाणिज्यिक उपयोग के लिए 30% की सब्सिडी दी जाती है।

प्रश्न 7 – सोलर हीटर में हम कितने समय के लिए पानी गर्म रह सकते है?

उत्तर – 24 से 48 घंटो तक हम सोलर हीटर में पानी को गर्म रख सकते है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!