CM Helpline Number Uttarakhand 1905 पर शिकायत कैसे करे?

CM Helpline Number Uttarakhand: उत्तराखंड के नागरिकों के लिए सरकार ने एक ऑफिशियल हेल्पलाइन नंबर और पोर्टल जारी किया है। जब भी हम कोई सरकारी काम करवाने जाते हैं तो हमें एक काम के लिए सैकड़ों बार सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने होते हैं। कई बार हमारा काम हो भी नहीं पाता है। इस प्रकार की समस्या अक्सर ही नागरिकों को सामना करनी पड़ती है। इसी को ध्यान में रखकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने प्रत्येक विभाग की शिकायतें प्राप्त करने के लिए उत्तराखंड सीएम हेल्पलाइन नंबर और ऑफिसियल पोर्टल की सुविधा जारी की है। अब आप सरकारी कार्यालय से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

आज इस आर्टिकल में हम आपको CM Helpline Number Uttarakhand और CM Helpline Portal के बारे में आपको जानकारी देने वाले हैं। हम आपको बताएंगे कि अगर आप उत्तराखंड के निवासी हैं तो किस प्रकार से अपनी शिकायत अपने मुख्यमंत्री तक पहुंचा सकते हैं जिससे आपकी शिकायत का निवारण जल्द से जल्द किया जा सके।

CM Helpline Uttarakhand क्या है?

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी द्वारा इस हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत की गई थी। 23 फरवरी 2019 को देहरादून में राज्य के नागरिकों की समस्याओं को ध्यान में रखकर इस हेल्पलाइन नंबर और पोर्टल को प्रारंभ किया गया। इस हेल्पलाइन नंबर की सहायता से राज्य का कोई भी नागरिक अपनी समस्या सीधे ही सरकार तक पहुंचा सकता है। उनके द्वारा की गई शिकायत को कोई भी नहीं हटा सकता है जब तक कि वह शिकायत हल नहीं की जाती है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

आम आदमी को सरकारी काम करवाने में कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है। अब आम नागरिक जब अपनी समस्या की शिकायत सरकार से करेगा तो उसका तुरंत समाधान किया जाएगा। इसके लिए बस व्यक्ति के पास एक मोबाइल नंबर होना आवश्यक है, साथ ही एक स्मार्टफोन होना आवश्यक है। इसके अलावा ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी आप अपनी शिकायत बेहद आसान तरीके से दर्ज कर सकते हैं।

विशेष बात यह है कि सीएम हेल्पलाइन नंबर 24 घंटे चालू रहता है और इस पर शिकायतों का निवारण की प्रक्रिया भी 24 घंटे चालू रहती है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी द्वारा भी हेल्पलाइन नंबर का नया प्रारूप शुरू किया गया है। इसमें कुछ बदलाव किए गए हैं जो राज्य की आम जनता के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होंगे।

CM Helpline का उद्देश्य

आम नागरिक जब कोई सरकारी कार्य करवाने के लिए किसी ऑफिस में जाते हैं तो वहां पर उनकी समय और पैसे दोनों की बर्बादी होती है और उनका कार्य भी समय पर पूरा नहीं होता है। कई बार भ्रष्टाचार और रिश्वत लेकर भी काम करवाना पड़ता है। नागरिक शिकायत तो करना चाहते हैं लेकिन किससे शिकायत करें। इसी समस्या को ध्यान में रखकर मुख्यमंत्री जी ने सीएम हेल्पलाइन का उद्घाटन कर दिया।

अब राज्य का प्रत्येक नागरिक अपना समय और पैसे दोनों की बचत कर सकता है और बहुत ही पारदर्शी तरीके से सरकार तक अपनी शिकायत पहुंचा सकता है। हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके आप कभी भी अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। किसी सरकारी कर्मचारी के खिलाफ अपनी शिकायत कर सकते हैं। अगर आपका काम किसी भी प्रकार से नहीं किया जा रहा है तो आप शिकायत कर सकते हैं। 24 घंटे के अंदर आपकी शिकायत का निवारण किया जाएगा। इस हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से कोरोनावायरस के दौरान भी लोगों की शिकायतों का निवारण किया गया था।

CM Helpline Number Uttarakhand के लाभ

  • सीएम हेल्पलाइन नंबर पर कभी भी कोई भी व्यक्ति कॉल करके अपनी समस्या दर्ज कर सकता है।
  • जैसे ही आप अपनी कोई भी समस्या हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करते हैं तो उसको जल्द ही हल कर दिया जाता है।
  • इस हेल्पलाइन नंबर पर 24 घंटे कभी भी संपर्क किया जा सकता है।
  • आपको शिकायत दर्ज करने के लिए किसी दूसरे ऑफिस या उच्च अधिकारियों के पास नहीं जाना होगा।
  • आप घर बैठे ही है शिकायत दर्ज कर सकते हैं इससे आपके समय और पैसे दोनों की बचत होती है।
  • अगर आप किसी भी सरकारी कार्य से संतुष्ट नहीं है तो उसकी शिकायत भी संपर्क टोल फ्री नंबर पर दर्ज कर सकते हैं।
  • सरकारी विभाग द्वारा किसी भी प्रकार के कार्य की शिकायत आप सीएम हेल्पलाइन नंबर पर कर सकते हैं।
  • अभी तक उत्तराखंड सीएम हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से 50000 से भी ज्यादा शिकायतों का निवारण किया जा चुका है।
  • आप चाहे तो ऑफिशियल पोर्टल के माध्यम से भी अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

Uttarakhand CM Helpline पर मिलने वाली सुविधाएं

इस आर्टिकल में हम आपको सीएम हेल्पलाइन के बारे में कई प्रकार की जानकारी दे रहे हैं। नीचे हम आपको बता रहे हैं कि सीएम हेल्पलाइन पर आपको कौन-कौन सी सुविधाएं मिलती है। जब भी आप सीएम हेल्पलाइन का उपयोग करें उससे पहले आपको इन सुविधाओं के बारे में पता होना चाहिए।

  • सीएम हेल्पलाइन पोर्टल पर आप मोबाइल ओटीपी के माध्यम से आसानी से खुद को रजिस्टर कर सकते हैं।
  • प्रत्येक सरकारी डिपार्टमेंट की शिकायत ऑनलाइन दर्ज की जा सकती है।
  • जब आप कोई भी शिकायत दर्ज कर देते हैं तो उसकी अपडेट आपको एसएमएस और ईमेल के माध्यम से नियमित मिलती रहती है।
  • किसी भी समय आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं 24 घंटे सीएम हेल्पलाइन चालू रहता है।
  • आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर अथवा ईमेल आईडी से अपनी शिकायत की स्थिति कभी भी ट्रैक कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन दर्ज की गई शिकायत पर जितना जल्दी हो कार्रवाई शुरू कर दी जाती है।
  • समय पर शिकायत का निवारण न होने पर आपको रिमाइंडर SMS के रूप में अथवा ईमेल पर भेजा जाता है।
  • जब आपकी शिकायत का निवारण हो जाता है तो आपको उस पर फीडबैक देने का मौका भी दिया जाता है।
  • जब आप कभी भी फीडबैक देते हैं तो उसका उच्च अधिकारियों द्वारा चेक किया जाता है अगर कोई सुझाव पसंद आता है तो सरकार उस पर अमल भी करती है।
  • अगर राज्य का कोई भी नागरिक सरकार की किसी भी शिकायत निवारण से संतुष्ट नहीं है तो वह दोबारा से कार्रवाई करने की मांग कर सकता है।

Uttarakhand CM Helpline पर शिकायत दर्ज कैसे करें

उत्तराखंड सीएम हेल्पलाइन पर दो प्रकार की शिकायत दर्ज की जा सकती है। पहला है हेल्पलाइन नंबर द्वारा और दूसरा है ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से। नीचे हम आपको दोनों ही तरीके बता रहे हैं। आपको जो भी तरीका सही लगता है आप उसका उपयोग कर सकते हैं।

Helpline Number पर शिकायत कैसे करें?

अगर आप 24/7 एक्टिव रहने वाले हेल्पलाइन नंबर 1905 पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। जब आप इस नंबर पर कॉल करेंगे तो आपसे कई प्रकार की जानकारी पूछी जाएगी जो आपको दर्ज करते जाना है। उसके बाद आप अपनी शिकायत भी दर्ज कर पाएंगे।

Uttarakhand CM Helpline Portal पर शिकायत दर्ज कैसे करें

अगर आप उत्तराखंड के नागरिक हैं और सीएम हेल्पलाइन पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करना चाहते हैं तो नीचे हम आपको स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस बता रहे हैं, जिसे आप को ध्यानपूर्वक फॉलो करना है।

  • सबसे पहले आपको सीएम हेल्पलाइन उत्तराखंड की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना है।
  • यहां पर आपको होम पेज पर शिकायत/ मांग/ सुझाव दर्ज करें का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना है उसके बाद Get OTP पर क्लिक करना है।
  • आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा वह दर्ज करके आपको Submit बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा जहां पर आप से आधार कार्ड नंबर से लेकर नाम, अपना ईमेल आईडी, जेंडर, आपका पता कई प्रकार की जानकारी पूछी जाएगी जो आप को ध्यानपूर्वक दर्ज करना है।
  • सभी प्रकार की शिकायत दर्ज करने के बाद में आपको अंत में जन शिकायत को दर्ज करें कि विकल्प पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद में आपकी द्वारा की गई शिकायत संबंधित विभाग और सीएम हेल्पलाइन में नियुक्त किए गए अधिकारियों के पास पहुंच जाती है और कुछ ही समय में इस पर कार्यवाही होना शुरू हो जाता है।

Complaint की स्थिति को कैसे ट्रैक करें

अगर आपने सीएम हेल्पलाइन नंबर टोल फ्री नंबर अथवा पोर्टल के माध्यम से शिकायत दर्ज की है तो आप उसकी स्थिति को समय-समय पर ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर चेक कर सकते हैं। हम आपको नीचे आपके द्वारा की गई शिकायत की स्थिति को ट्रैक करने की स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस बता रहे हैं। उसे आप को ध्यान पूर्वक फॉलो करना है।

  • सबसे पहले आपको सीएम हेल्पलाइन की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना है।
  • यहां पर होम पेज पर आपको शिकायत की स्थिति का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाता है जहां पर आपको अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और शिकायत नंबर दर्ज करना है।
  • उसके बाद आपको देखे विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने स्क्रीन पर आपके द्वारा की गई शिकायत की स्थिति नजर आ जाएगी।

सारांश

हमने आज इस आर्टिकल में आपको उत्तराखंड सीएम हेल्पलाइन के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई है जानकारी आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी। अगर आप उत्तराखंड के नागरिक हैं अथवा अन्य राज्य के नागरिक है तो उन्हें जरूरतमंद लोगों तक इस जानकारी को जरूर शेयर करें।

Leave a Comment

error: Content is protected !!