दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा योजना | Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana Online Application Procedure | 2023

Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana: उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के सरकारी कर्मचारियों के लिए नि:शुल्क (फ्री) चिकित्सा सेवा उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी पात्र (Eligibile) लाभार्थियों को एक स्वास्थ्य कार्ड दिया जायेगा। जिसके माध्यम से राज्य के सरकारी कर्मचारी, पेंशनर्स एवं उनके परिवार के नागरिक राज्य के किसी भी निजी अस्पतालों में कैशलेस चिकित्सा की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश शासन द्वारा जारी शासनादेश दिनांक 7 जनवरी 2022 को इस योजना के तहत लाभार्थियों को कैशलेस चिकित्सा सुविधा का प्रावधान किया गया है।

Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana (1)

आगे इस लेख में हम आपको यह बताने वाले हैं कि कैसे आप स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन (State Health Card Online Apply) कर सकते हैं। साथ ही हम आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना क्या है, इस योजना के क्या लाभ है, इस योजना का उद्देश्य, इसके लिए निर्धारित की गई पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेजों के बारे में पूरी जानकारी देने करने वाले हैं। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो कृपया हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

विषय सूची

पंडित दीनदयाल उपाध्याय कर्मचारी कैशलेस योजना 2023

उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा राज्य के सरकारी कर्मचारी एवं पेंशनर्स के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य के पात्र लाभार्थियों को आयुष्मान भारत योजना में शामिल लगभग 1900 नीजी अस्पतालों में 5 लाख रुपए तक की मुफ्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा लाभार्थियों को यूनिक नंबर का एक हेल्थ कार्ड (Health Card) उपलब्ध करवाया जाएगा। जिसकी मदद से लाभार्थी नागरिक असीमित कैशलैस ट्रीटमेंट का लाभ उठा पाएंगे।

इस योजना के अंतर्गत राज्य के 22 लाख कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को लाभ प्राप्त होगा। जिनमें उनके आश्रित परिवार के सदस्यों को जोड़कर 75 लाख से भी अधिक लोगों को लाभान्वित किया जाएगा। सरकार द्वारा राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022-23 के संचालन के लिए 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। जिसमें 10 करोड़ रुपए की पहली किस्त जारी कर दी गई है। योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए इस लेख को आगे ध्यानपूर्वक पढ़ें।

पीएम आयुष्मान भारत योजना

Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023 Overview

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
किसने शुरू कियामुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 
लाभार्थीसरकारी कर्मचारी एवं पेंशनर्स
उद्देश्यराज्य के सरकारी कर्मचारियों, पेंशनर्स एवं उनके आश्रित परिवारों कैशलेस चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध कराना। 
राज्यउत्तर प्रदेश 
वर्ष2023 
घोषणा की तारीख21 जुलाई 2022
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sects.up.gov.in/

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा स्कीम के लाभ

  • SECTS – State Employees Cashless Treatment Scheme का लाभ राज्य के कर्मचारियों को सरकारी चिकित्सा संस्थान, निजी अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।
  • राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा संस्थान एवं मेडिकल कॉलेज के लिए 200 करोड़ रुपए एवं निजी अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का कॉरपस फंड तैयार किया गया है।
  • इस फंड के जरीये सरकारी चिकित्सा संस्थानों को इलाज में होने वाले खर्च का 50% धनराशि देना होगा। एवं बाकी 50% धनराशि उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने पर प्रदेश के वित्त विभाग द्वारा खर्च किया जाएगा। 
  • इस योजना के अंतर्गत निजी अस्पतालों के माध्यम से राज्य के कर्मचारियों, पेंशनर्स एवं उनके आश्रित परिवारों को अधिकतम 5 लाख रुपए तक की नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्रदान करने के लिए सभी पात्र लाभार्थियों का स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड बनाया जाएगा।
  • PDURKCCY योजना के माध्यम से राज्य के लगभग 30 लाख से भी अधिक नागरिकों को लाभ पहुंचाया जाएगा।

Twitter Link :-

State Employees Cashless Treatment Scheme के लिए पात्रता

  • इस कैशलेस चिकित्सा योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश राज्य के सरकारी कर्मचारी ही उठा सकते हैं।
  • पेंशनर्स भी इस योजना के तहत लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर (आधार कार्ड से लिंक)

स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन प्रक्रिया (State Health Card Registration)

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन हेतु नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें –

  • स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन हेतु सबसे पहले आपको इस योजना के आधिकारिक वेबसाइट https://sects.up.gov.in/ पर विजिट करना होगा।
  • इस वेबसाइट पर जाने के बाद आपको होम पेज पर Apply For State Health Card का एक विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक कर लेना है।
Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana health card
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म खुलेगा। 
  • इस फॉर्म में आपको अपना आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड एंटर करना है। 
  • इसके बाद आप Generate OTP के बटन पर क्लिक कर लें।
Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana health card
  • क्लिक करते ही आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा। जिसे आपको OTP के बॉक्स में दर्ज करके वेरीफाई कर लेना है।
  • वेरीफाई करने के पश्चात आपको दिए गए ऑप्शन If the Information Correct में Yes पर क्लिक कर लेना है।
  • इसके बाद Are there any Depends में दिए गए विकल्प Yes और No में से किन्हीं एक विकल्प का चयन कर ले।
  • इसके बाद आपको Save & Next के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आवेदन फॉर्म में मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेजों को अपलोड कर दें। अपलोड करने के बाद सबमिट पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

Application Status ऑनलाइन देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आप PDURKCCY योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर चले जाएं।
  • अब इस वेबसाइट के होम पेज पर आपको Employee / Pensioner Application के सेक्शन में जाकर Check Application Status के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने Status Tracking का एक पेज ओपन होगा।
  • अब इस पेज पर आपको आधार नंबर और कैप्चा कोड डालकर Search के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके स्क्रीन पर आवेदन से संबंधित सभी डिटेल्स ओपन हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप हेल्थ कार्ड के लिए आवेदन की स्थिति (Application Status) को ट्रैक कर सकते हैं।

Application Download करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आप राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के आधिकारिक वेबसाइट sects.up.gov.in पर चले जाएं।
  • इसके बाद होम पेज के मेन्यू पर उपलब्ध Employee / Pensioner Application के विकल्प पर जाएं। 
  • अब यहाँ Download Application के विकल्प का चयन करें।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको आधार नंबर और कैप्चा कोड एंटर करना होगा।
  • डिटेल्स एंटर करने के बाद आपको Send OTP के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा। जिसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना है।
  • OTP दर्ज करने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  • अब एक नए पेज पर आपको एप्लीकेशन लिंक दिखाई देगा। इस लिंक पर क्लिक कर ले।
  • इसके पश्चाताप की स्क्रीन पर एप्लीकेशन खुलकर आ जाएगा। 
  • जिसे आप Download के विकल्प पर क्लिक करके आसानी से एप्लीकेशन को डाउनलोड कर सकते हैं।

इस योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

इस लेख में हमने आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा योजना से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध करा दी है। लेकिन फिर भी यदि आपको कोई अन्य जानकारी चाहिए या आपको कोई शिकायत है, तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर या ईमेल आईडी के द्वारा संपर्क कर सकते हैं।

  • हेल्पलाइन नंबर: 1800-1800-4444
  • ईमेल आईडी: [email protected]

PDURKCCY योजना से संबंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

स्टेट हेल्थ कार्ड बनवाने हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

यदि आप इस योजना के लिए पात्र हैं तो आपको इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करके स्टेट हेल्थ कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन की पूरी प्रक्रिया हमने इस आर्टिकल में उपलब्ध करा दी है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी चिकित्सा योजना का उद्देश्य क्या है?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को कैशलेस चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध कराना है। इस योजना के माध्यम से पात्र लाभार्थियों का स्टेट हेल्थ कार्ड बनवाया जाएगा। जिससे वह राज्य के निजी अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का निशुल्क इलाज की सुविधा प्राप्त कर पाएंगे।

Leave a Comment