यूपी गोपालक योजना एप्लीकेशन फॉर्म | UP Gopalak Yojana Online Registration, आवेदन, पात्रता | 2022

यूपी गोपालक योजना ऑनलाइन आवेदन | UP Gopalak Yojana In Hindi | up Kamadhenu yojna डेयरी लोन उत्तर प्रदेश 2022 | पशुपालन मिनी डेयरी योजना उत्तर प्रदेश 2022 |

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा UP Gopalak Yojana 2022 की शुरुआत की गयी है। इस योजना का उदेश्य मुख्य रूप से प्रदेश के बेरोजगार युवकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाना है। राज्य के बेरोजगार युवाओं को डेयरी उद्योग / डेयरी फार्म के लिए स्वरोजगार शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता (ऋण) उपलब्ध करवाई जाएगी। बैंकों द्वारा लाभार्थी को पशुपालन करने के लिए रुपये 9.00 लाख तक का ऋण कम ब्याज दर व आसान शर्तो में उपलब्ध करवाया जा रहा है।

UP Gopalak Yojana

इस आर्टिकल में हमने बताया है, जैसे – यूपी गोपालक योजना क्या है ? गोपालक योजना का लाभ कैसे लें ? इसके उद्देश्य क्या है? आवेदन की प्रक्रिया, दस्तावेज़ आदि। कृपया आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

विषय सूची

यूपी गोपालक योजना – 2022

उत्तर प्रदेश राज्य के ऐसे पढ़ें लिखे युवा जो शिक्षित है, लेकिन उनके पास रोजगार नहीं है। सरकार द्वारा बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार उपलब्ध करवाने लिए इस योजना को शुरू किया गया है। योजना से राज्यभर के हजारों बेरोजगार युवाओ को रोजगार सृजित होंगे। उन्हें इस व्यवसाय के लिए बैंकों के माध्यम से ऋण जायेगा, जिससे वे खुद का अपना रोजगार शुरू कर सके। इस योजना का उद्देश्य युवाओं को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाना है। इसके अलावा प्रदेश सरकार का मकसद इस योजना के माध्यम से प्रदेश को एक सशक्त राज्य बनाना है।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना क्या है?

UP Gopalak Yojana के तहत राज्य के बेरोजगार युवाओ को राज्य सरकार द्वारा बैंक के माध्यम से नौ लाख रूपए तक का लोन प्रदान किया जायेगा। इस योजना के अनुसार बैंक द्वारा यह लोन का लाभ उन पशुपालको को दिया  जायेगा जिनके पास 10 से 20 गाये है। यदि गाय और भेस रखने वाले पशुपालक के पास पांच पशु भी होने तब भी वह इस लोन सुविधा का लाभ उठा सकता है। 

उत्तर प्रदेश के जितने भी इच्छुक युवा है, वह इस योजना का लाभ उठाना है तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन देना होगा। परन्तु आपको इस बात की जानकारी होना चाहिए की इस योजना के तहत पशुपालक को 10 पशुओ के हिसाब से कम से कम 1.5 की कीमत लगाकर खुद पशुशाला बनानी होगी। उसके पश्चात ही इस यूपी गोपालक योजना के चलते आप लोन ले सकते है। इस योजना में बेरोजगार युवा खुद का डेरी फार्म भी खोल सकते है। 

UP Gopalak Yojana Highlights – 2022

योजना का नामयूपी गोपालक योजना 2022
योजना की शुरुआत किसने कीमुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा।
लाभार्थीयूपी राज्य के बेरोजगार युवा को।
योजना का उद्देश्यरोजगार के लिए लोन की सुविधा प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट यूपी गोपालक योजना

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आवेदक का आधार कार्ड।
  • पहचान पत्र।
  • आय प्रमाण पत्र (वार्षिक आय एक लाख रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।)
  • निवास प्रमाण पत्र, जिससे साबित हो सके की आप उत्तर प्रदेश के निवासी है।
  • मोबाइल नंबर।
  • पासपोर्ट साइज फोटो।

यूपी गोपालक योजना पात्रता 

  • गोपालक योजना से लाभान्वित होने के  लिए आवेदन करने वाले का उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना जरुरी है। 
  • इस योजना का कभ यूपी राज्य के बेरोजगार युवाओ पशुपालको को भी दिया जायेगा। 
  • योजना का लाभ लेने के लिए पशुपालक के पास कम से कम 5 पशु होना जरुरी है और पशु दूध देने वाले होना चाहिए। 
  • 5 से कम पशु होने पर पशुपालको को इस योजना के अन्तर्गत लाभ प्राप्त नहीं होगा।
  • इस योजना के अंदर आवेदन करने वाले की वार्षिक आय 1 लाख रूपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। 
  • योजना के तहत पशुओ को पशु मेले से खरीदे जाना आव्यशक है। साथ ही मेले में खरीदे जाने वाले पशु गाय या भेस बिल्कुल स्वस्थ होने चाहिए।

UP Gopalak Yojana के लाभ

  • इस योजना में आपके पास गाय या भैंस दोनों में से एक या दोनों रखने का विकल्प खुला है। किन्तु पशु दूध देने वाला ही होना जरुरी है। तभी आप इस योजना का लाभ ले सकते है।
  • इस योजना के चलते यूपी के केवल उन्हीं बेरोजगार युवाओ को इसका लाभ प्रदान किया जायेगा जिन पशुपालको के  पास  कम से कम पांच पशु है।

यूपी शादी अनुदान योजना

यूपी ई-मंडी योजना

उत्तर प्रदेश मानव सम्पदा पोर्टल

  • यदि आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले है और आपके पास 10 -20 गाय है तब भी आप उत्तर प्रदेश गोपालक योजना का लाभ उठा सकते है।
  • राज्य के बेरोजगार जिनके पास कुछ काम नहीं है उन्हें बैंक द्वारा 9 लाख रूपये तक की लोन सुविधा दी जाएगी।
  • इस योजना के चलते उत्तर प्रदेश सरकार राज्य के बेरोजगार शिक्षित और अशिक्षित युवाओ को  डेयरी फार्म के द्वारा रोजगार देने का प्रयास कर रही है।

डेयरी फार्म योजना में आवेदन करने से जान ले यह महत्वूर्ण बात:- 

9 लाख रुपये  प्रदान करने वाली गोपालक डेयरी योजना में, लाभ लेने वाले युवाओ को पशुओ के लिए टीन शेड के निर्माण और व्यवस्था करने के लिए 1.80 लाख रुपये का भुगतान करना जरुरी है।

उत्तरप्रदेश गोपालक योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

  • इस योजना के तहत पशुपालको द्वारा पशु केवल पशुमेले से ख़रीदे जायेंगे। 
  • जो भी पशु मेले से ख़रीदे जाने वाले है वे दूध देने वाले ही होना चाहिए। 
  • योजना के अंतर्गत मिलने वाले पशु स्वस्थ होना चाहिए, उन्हें किसी भी तरह की बीमारी नहीं होनी चाहिए।  
  • गोपालक योजना के तहत सभी पशुओ का बीमा करवाया जायेगा। 
  • जिन्हे पशुपालन में रूचि हो, वे ही इस योजना में भाग ले सकते है। 

ऊपर आपने उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के बारे में जानकारी हासिल की। यदि आप  अपना बिज़नेस करना चाहते है तो संशाधनो की कमी के चलते आपको कोई समस्या नहीं होगी। आप अपने ही राज्य उत्तर प्रदेश में रहकर बिज़नेस कर सकते है। 

यूपी गोपालक योजना आवेदन कैसे करें ?

उत्तर प्रदेश राज्य के जितने भी इच्छुक लभरती है और इस योजना के लिए आवदेन करना चाहते है वे निचे दिए गए तरीको को स्टेप बाय स्टेप फॉलो करे :- 

  • यूपी गोपालक योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक को सर्वप्रथम नजदीकी चिकित्सा अधिकारी के पास पहुंचना होगा।
  • इसके पश्चात चिकित्सा अधिकारी आपको योजना में आवेदन करने का फॉर्म देंगे। 
  • इस आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकरी को आपको सही सही भरना होगा। 
  • सभी जानकारी भरने के पश्चात आपको फॉर्म के साथ सभी जरुरी कागजात अटैच करना होंगे। 
  • जैसी ही आप यह प्रक्रिया कर लेते है, फॉर्म लेकर आपको वापिस चिकित्सा अधिकारी के समीप ही जाना है। 
  • आपके फॉर्म को सबमिट करने के बाद चिकित्सा अधिकारी द्वारा यह फॉर्म पशु चिकित्सा अधिकारी के पास भेज दिया जायेगा।
  • इसके पश्चात आपके फॉर्म को आगे निदेशयालय में भेज दिया जायेगा।
  • इसकेपश्चात चयनित समिति जैसे CVO सचिव, CDO अध्यक्ष तथा नोडल अधिकारी द्वारा आपके आवेदन पर विचार विमर्श किया जायेगा।
  • जिसके पश्चात आपके आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

हरियाणा चारा बिजाई योजना

गोपालक योजनान्तर्गत बैंक ऋण

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के अंतर्गत लाभार्थी को 10 से 20 गाय रखने के लिए बैंक ऋण उपलब्ध करवाया जाता है। आवेदक लाभार्थी कोई भी दुधारू पशु जैसे गाय या भैंस आदि रख सकता है। इसके अलावा इस स्कीम का लाभ लेने के लिए अन्य कोई विशेष पात्रता नहीं है। लेकिन किसानों या अन्य कोई भी लाभार्थी को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वह जिस भी पशु के लिए ऋण लेने जा रहे है, वह दुधारू होने चाहिए। बैंक ऋण लेने से संबधित कुछ महत्वपूर्ण बिंदु निम्न है –

  • गोपालक योजना के किसी भी लाभार्थी के लिए न्यूनतम 5 पशु को रखना अनिवार्य है।
  • यूपी गोपालक स्कीम के तहत न्यूनतम पांच पशु के लिए 3.60 लाख रुपये एवं अधिकतम 9 लाख रुपये तक का बैंक ऋण प्रदान किया जायेगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना में अनुदान राशि दी जाती है, यह राशि न्यूनतम 5 पशु के लिए 1 लाख रुपये एवं 10 पशु के लिए 2 लाख रुपये तक का अनुदान दिया जाता है।
  • अनुदान राशि 40 हजार प्रतिवर्ष के अनुसार दी जाएगी। पांच वर्षो में कुछ मिलकर अधिकतम दो लाख रुपये अनुदान राशि दी जाएगी।

यूपी गोपालक योजना से सम्बंधित प्रश्न (FAQ)

प्रश्न 1: गोपालक योजना क्या है?

उत्तर: गोपालक योजना के तहत बैंक द्वारा 10 से 20 गाये रखने वाले पशुपालको को लोन मिलेगा। इसमें गाय, भेस पालने वाले पशुपालको के समीप कम से कम ५ पशु होना आवयशक है। उसके बाद ही आप इस योजना का लाभ उठा सकते है। साथ ही योजना के चलते बेरोजगार युवा खुद का भेस डेयरी फॉर्म भी खोल सकते है।

प्रश्न 2: क्या गोपालक योजना का फायदा हर कोई पशुपालक उठा सकता है?

उत्तर: इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपका उत्तरप्रदेश का निवासी होना आवयशक है। 

प्रश्न 3: क्या इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है?

उत्तर: नहीं इस योजना के लिए आपको ऑफलाइन ही आवेदन करना होगा। 

प्रश्न 4: उत्तरप्रदेश गोपालक योजना में भाग लेने के लिए फॉर्म कहा से लेने होंगे?

उत्तर: इस योजना के लिए आपको नजदीकी चिकित्सक से फॉर्म लेने होंगे और भर के उन्ही के पास जमा करने होंगे। 

प्रश्न 5: UP Gopalak Yojana किसने शुरू की है?

उत्तर: UP Gopalak Yojana उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शुरू की गयी है। 

प्रश्न 6: इस योजना के तहत कितना लोन मिलेगा?

उत्तर: इस योजना के तहत बैंक आपको 9 लाख तक का लोन मुहैया करवाएगी। यदि आप 5 पशु पालते हैं, तो  आपको  इसके लिए1 लाख रुपये तक का अनुदान मिलेगा और यदि आप  10 पशु पालते हैं, तो आपको 2 लाख रुपए का अनुदान मिलेगा। योजना के तहत यह अनुदान आपको आपको 5 साल तक 20 हजार या 40 हजार के किस्त के रूप में दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त यदि आप कारोबार करते है तो आपको 7.20 लाख को लोन भी दिया जाएगा। 

प्रश्न 7: इस योजना की शुरुआत कब हुई है?

उत्तर: यूपी गोपालक योजना की शुरुवात 2022 में हुई है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!