IGRS RAJASTHAN GOV IN 2022 | IRGS RAJ PORTAL Registration Process

IGRS Rajasthan 2022: राजस्थान सरकार ने रियल एस्टेट व्यवसाय से संबंधित ऑनलाइन सेवाएं एवं सुविधाएं प्रदान करने के लिए IGRS Rajasthan पोर्टल को शुरू किया है। आइजीआरएस राजस्थान, संपत्ति से संबंधित लेनदेन एवं अन्य गतिविधियों पर कर लगाने का कार्य करती है। इस पोर्टल पर राजस्थान के नागरिकों के लिए कई सारी सुविधाएँ उपलब्ध है। नागरिकों को संपत्ति की खरीद-बिक्री और निर्माण हमेशा सरकारी दिशानिर्देशों के अनुसार ही करना चाहिए। ई पंजीयन राजस्थान के माध्यम से आपको संपत्ति मूल्यांकन, स्टांप शुल्क, शुल्क विवरण, लेनदेन के नियम आदि सेवाएं उपलब्ध कराई जाती है।

IGRS RAJASTHAN

यदि आप राजस्थान राज्य के रहने वाले हैं और रियल एस्टेट व्यवसाय या भूमि से संबंधित कोई काम करते हैं, तो यह पोर्टल आपके लिए काफी उपयोगी है। इसलिए आज हम आपको IGRS राजस्थान पोर्टल (पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग, राजस्थान) के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं। यहाँ हम आपको IGRS Rajasthan पोर्टल क्या है? IGRS राजस्थान का उद्देश्य क्या है, इस पोर्टल पर उपलब्ध सेवाएं, आवश्यक दस्तावेज, ePanjiyan राजस्थान पर संपत्ति पंजीकरण ऑनलाइन कैसे करे आदि के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है। इसलिए कृपया आप इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।  

IGRS Rajasthan Portal 2022

IGRS Rajasthan, राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किया गया एक वेब पोर्टल है। जिसका पूर्ण रूप राजस्थान के पंजीकरण और टिकटों का महानिरीक्षक है। यह पोर्टल संपत्ति के लेनदेन से संबंधित गतिविधियों पर कर लगाने का कार्य करती है। इस पोर्टल पर राजस्थान के नागरिकों को भूमि से संबंधित विभिन्न प्रकार की सेवाएं उपलब्ध कराई गई है। इसके साथ ही पोर्टल पर ई-पंजीयन राजस्थान नामक एक वर्कस्पेस भी है, जिसमें संपत्ति का पूरा ब्यौरा दर्ज है।

IGRS UP PORTAL

IGRS Rajasthan Portal Overview 2022

पोर्टल का नामIGRS Rajathan / ई पंजीयन 
किसने लांच कियाराजस्थान सरकार 
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक 
उद्देश्यसंपत्ति पंजीकरण एवं भूमि से सम्बंधित सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध कराना 
राज्यराजस्थान 
वर्तमान वर्ष2022 
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन 
आधिकारिक वेबसाइटigrs.rajasthan.gov.in or epanjiyan.nic.in 

IGRS राजस्थान का मुख्य उद्देश्य

  • 1908 के प्रावधानों के पंजीकरण अधिनियम को लागू करना।
  • राजस्थान राज्य में स्टाम्प एवं टिकटों से संबंधित कानूनों में परिवर्तन करना।
  • एक पारदर्शी प्रभावी और उपयोगकर्ता के अनुकूल प्रणाली प्रदान करना।
  • स्टाम्प शुल्क एवं पंजीयन शुल्क के माध्यम से राज्य के राजस्व में वृद्धि करना।
  • ऑनलाइन पोर्टल epanjiyan.nic.in पर जाकर आप आइजीआरएस राजस्थान के पंजीकरण और स्टांप विभाग की सेवाओं का लाभ उठा सकते है।

ई-पंजीयन राजस्थान पर उपलब्ध सेवाएं

आप ई-पंजीयन राजस्थान के अधिकारिक वेबसाइट पोर्टल पर विभिन्न सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं, जिनकी सूची निम्नलिखित है –

  • संपत्ति का मूल्यांकन
  • डीएलसी दर की जानकारी
  • भूमि विवाद विवरण
  • ऑनलाइन टाइम स्लॉट बुकिंग
  • ई निरीक्षण / खोज ई पंजीयन
  • ट्रैक सीआरएन / दस्तावेज स्थिति
  • दस्तावेज के अनुसार शुल्क और छूट
  • ई पंजीकरण सॉफ्टवेयर पर नागरिकों को मौजूदा बिक्री विलेख रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए दिशानिर्देश

ई-पंजीयन पर संपत्ति पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • स्वामित्व का प्रमाण दिखा रही बिक्री विलेख की प्रति
  • नियम और शर्तों का समय 1 वर्ष से अधिक होने की स्थिति में लीज डीड
  • पैतृक संपत्ति पहचान हेतु रिलीज डीड
  • फोटो
  • संपत्ति का नक्शा
  • विक्रेता / खरीदार का फोटो पहचान पत्र
  • संपत्ति का अन्य दस्तावेज
  • पैन कार्ड और फॉर्म 60

IGR MP PORTAL

e-Panjiyan राजस्थान पर संपत्ति पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया

यदि आप ई-पंजीयन राजस्थान पोर्टल के माध्यम से अपनी संपत्ति का पंजीकरण करना चाहते है, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके Rajasthan Property Registration Online कर सकते है।

  • इसके लिए सबसे पहले आपको ई-पंजीयन राजस्थान के अधिकारी वेबसाइट https://epanjiyan.nic.in/ पर जाना होगा।
  • इसके होम पेज पर “ऑनलाइन फैसिलिटीज” के सेक्शन में जाये और Property Valuation for Citizen के विकल्प पर क्लिक करें।
IGRS RAJASTHAN
  • अब आपके सामने एक नया पृष्ठ प्रदर्शित होगा। यहां आपको प्रॉपर्टी डिस्ट्रिक्ट सिलेक्ट करके सबमिट कर देना है।
IGRS RAJASTHAN property valuation district
  • अब अगले पेज पर आपको मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड डालकर Fresh Valuation के विकल्प पर क्लिक करना होगा। 
IGRS RAJASTHAN property valuation
  • इसके बाद आपको एक नए पेज पर पूछी गई जानकारी जैसे दस्तावेज का प्रकार, जिला, उप प्रकार, एसआरओ श्रेणी और तहसील विवरण आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आप फिर से एक नए पेज पर आ जाएंगे, इस पेज पर आपको अपनी लोकेशन, कॉलोनी एरिया, प्रॉपर्टी एरिया, ऐड्रेस आदि की डिटेल दर्ज करनी होगी।
  • फिर आपको “अतिरिक्त मूल्य” अनुभाग में भवन क्षेत्र या फर्श के प्रकार का विवरण दर्ज करना होगा।
  • अब आपको आयोग का चयन करना है। जिसके बाद मापा गया मूल्य आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएगा।
  • अब आप भूमि का मूल्य जानने के लिए “संपत्ति विवरण सहेजें” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको नेक्स्ट के बटन पर क्लिक करके निबंधन एवं स्टांप विभाग के स्टांप पेज पर जाकर स्टांप शुल्क की गणना करनी होगी।
  • स्टांप शुल्क और पंजीकरण शुल्क के अलावा आपको सीएसआई, अधिभार और जुर्माना भी देना होगा।
  • अब आपको पार्टी विवरण पर जाने के लिए Next पर क्लिक करना होगा।
  • अब पूछी गई सभी जानकारी जैसे प्रस्तुतकर्ता का प्रकार, पार्टी श्रेणी, पार्टी का नाम, लिंग, आईडी प्रुफ, पता और संपर्क विवरण आदि दर्ज करें।
  • इसके बाद आपको सभी जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा। फिर अपलोड और सेव के बटन पर क्लिक करके Exit पर क्लिक करें।
  • अब आप भुगतान के विकल्प पर क्लिक करें। क्लिक करते ही आप ई-ग्रास पोर्टल egras.raj.nic.in पर पहुंच जाएंगे।
  • अगर आप पहले से उपयोगकर्ता है, तो उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड दर्ज करें।
  • यदि आपके पास पहले से उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड नहीं है, तो आपको सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करके पंजीकरण करना होगा। 
  • इसके बाद आप पंजीकरण और टिकट विभाग का चयन करें।
  • अब ई-चालान आवेदन का विवरण भरें।
  • इसके बाद डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड से स्टांप शुल्क और पंजीकरण शुल्क का भुगतान करें और सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  • अब आपको पंजीकरण और टिकट विभाग के लिए राजस्थान उप पंजीयक के कार्यालय में जाने के लिए एक समय स्लॉट का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक सीआरएन नंबर और ओटीपी प्राप्त होगा। जिसे आपको यहां दर्ज कर लेना है।
  • अब आपको चयनित तिथि और समय पर शुल्क रसीद एवं सीआरएन नंबर के साथ उप पंजीयक कार्यालय (एसआरओ) में जाना होगा।
  • अब कार्यालय पहुंचने के बाद विभाग द्वारा सीआरएन नंबर का उपयोग करके डाटा वेरिफिकेशन किया जाएगा।
  • यदि आपने ऑनलाइन भुगतान के जगह मैनुअल भुगतान का चयन किया था तो आपको यहाँ शुल्क का नगद भुगतान करना होगा।
  • इसके बाद विभाग द्वारा सत्यापित होते ही आपका पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

शाला दर्पण राजस्थान

IGRS Rajasthan पर ई स्टाम्प सत्यापन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आप आइजीआरएस राजस्थान के ऑफिशियल वेबसाइट https://igrs.rajasthan.gov.in/ पर चले जाएं।
  • इस वेबसाइट के होम पेज पर E-Citizen के सेक्शन पर क्लिक करें। इसके बाद ड्रॉप डाउन मेनू पर उपलब्ध e-Stamp Verification का चयन करें।
igrs raj e stemp verification
  • इसके बाद आपके सामने एक नया विंडो खुल कर आ जाएगा। 
  • यहां आपको कुछ जरूरी जानकारी जैसे जिला, प्रमाण पत्र संख्या, स्टांप ड्यूटी का प्रकार, प्रमाण पत्र जारी करने की तिथि, सत्र आईडी आदि विवरण दर्ज करना होगा।
igrs raj e stemp verification form
  • सभी जानकारी दर्ज कर लेने के बाद वेरीफाई पर क्लिक करें।
  • अब व्यक्तियों की एक सूची प्रदर्शित होगी। ई-स्टाम्प राजस्थान सेवाओं का लाभ उठाने के लिए आपको इस सूची के व्यक्तियों से संपर्क करना होगा।

दस्तावेज की स्थिति ट्रैक करने की प्रक्रिया

ई-पंजीयन राजस्थान पोर्टल पर दस्तावेज की स्थिति ट्रैक करने के लिए नीचे दिए गए दिशानिर्देशों का अनुसरण करें –

  • सबसे पहले आपको ई-पंजीयन राजस्थान के अधिकारिक वेबसाइट epanjiyan.nic.in पर विजिट करना होगा।
  • अब इसके होम पेज पर “ऑनलाइन सुविधाएं” के सेक्शन के अंतर्गत Track CRN /Documents Status के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज प्रदर्शित होगा। इस पेज पर आपको सिटीजन रिफरेंस नंबर /डॉक्यूमेंट सीरियल नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • जानकारी दर्ज कर लेने के बाद आपको View Status के बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • जिसके बाद आपकी स्क्रीन पर आवश्यक जानकारी खुल जाएगी।

IGRS Rajasthan Portal Contact Details 

यदि आपको आइजीआरएस राजस्थान पोर्टल से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी या कोई समस्या आती है, तो आप नीचे दिए गए कांटेक्ट नंबर द्वारा संपर्क कर सकते हैं।

  • पंजीकरण और स्टांप विभाग
  • नोडल ऑफिसर: श्रीमती श्रुति कृति गुप्ता, डिप्टी डायरेक्टर (कंप्यूटर)
  • महानिरीक्षक, पंजीयन और स्टांप विभाग, प्रधान कार्यालय, अजमेर
  • ऑफिस नंबर: 0145-2971208
  • मोबाइल नंबर: 8209786099

यदि आप संपत्ति पंजीकरण से संबंधित किसी समस्या का सामना करते हैं, तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

  • टोल फ्री नंबर: 1800-180-6127
  • ईमेल आईडी: [email protected]

IGRS Rajasthan से संबंधित प्रश्न (FAQ) 

प्रश्न 1. राजस्थान में संपत्ति पंजीकरण के लिए ऑफिशियल वेबसाइट क्या है?

उत्तर. Rajasthan में संपत्ति पंजीकरण ऑनलाइन करने के लिए ई पंजीयन राजस्थान की ऑफिशियल वेबसाइट epanjiyan.gov.in है।

प्रश्न 2. क्या मैं आईजीआरएस राजस्थान पोर्टल के माध्यम से भूमि कर का भुगतान कर सकता हूं?

उत्तर. अधिनियम के तहत देय किसी भी कर या अन्य राशि का भुगतान करने के लिए ई ग्रास पोर्टल का उपयोग किया जाता है।

Leave a Comment

x