लाड़ली लक्ष्मी योजना 2023 | MP Ladli Laxmi Yojana 2.0 Application Form

MP Ladli Laxmi Yojana 2023: मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य की लड़कियों के प्रति समाज की सकारात्मक सोच, स्वास्थ्य, शिक्षा, लिंगानुपात एवं उनके अच्छे भविष्य के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की है। लाड़ली लक्ष्मी योजना के माध्यम से बाल विवाह, लिंगानुपात जैसी गंभीर समस्याओं से लोगों के नजरिए में बदलाव लाना है। यह योजना उन महिलाओं/बालिकाओं के लिए है, जिनका जन्म 1 जनवरी 2006 के बाद हुआ है।

MP Ladli Laxmi Yojana

लाड़ली योजना कन्या भ्रूण हत्या को रोकने एवं इसे अपनाने वाले परिवारों को उनकी वित्तीय और शैक्षिक स्थिति के लिए एक अच्छा आधार प्रदान करने पर बहुत ध्यान देती है। इसका व्यापक उद्देश्य लड़कियों के जन्म और पालन-पोषण के प्रति रूढ़िवादी भारतीय परिवारों के दृष्टिकोण को अच्छे तरीके से प्रभावित करना है। दोस्तों इस आर्टिकल में हमने मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना के बारे में बताया है, जैसे – लाड़ली लक्ष्मी योजना क्या है, इसके उदेश्य, समाज में होने वाले बदलाव आदि। यदि आप भी माध्यम प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना के बारे में जानना चाहते है, तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Ladli Laxmi Yojana 2023

लाड़ली लक्ष्मी योजना को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 01 अप्रैल 2007 को शरू किया गया था। इस स्कीम का उदेश्य राज्य की बालिकाओं सर्वांगीण विकास करना है जैसे – लिंगानुपात में सुधार लाना, भ्रूण हत्या में कमी लाना, शिक्षिक स्तर में सुधार लाना एवं बेटी पढाई के लिए परिवार की आर्थिक सहायता करना आदि। यह योजना मध्य प्रदेश की बालिकाओं के लिए शुरू की गयी है, यदि आप किसी अन्य राज्य से है, तो आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते है।

सरकार द्वारा लाडली योजना के तहत दी जाने वाली सहायता राशि को किस्तवार विभाजित किया है, जो बच्ची के जन्म से लेकर स्नाकोत्तर की शिक्षा तक निम्न अनुसार दी जाती है, जैसे – 6th में 2000/-, 9th में 4000/- 11th & 12th में 6000/-, स्नातक के प्रथम व द्वितीय वर्ष में प्रत्येक वर्ष 25000/- एवं 21 वर्ष के बाद 100000/- रूपये की सहायता राशि दी जाएगी।

सुकन्या समर्द्धि योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ

MP Ladli Laxmi Yojana 2023

आर्टिकल का नामएमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना
कब शुरू हुई 01 अप्रैल 2007
संबधित विभाग का नाम महिला एवं बाल विकास विभाग, मध्य प्रदेश।
लाभार्थी कौन हैमध्य प्रदेश राज्य की बालिकाएं
उदेश्यलड़कियों के प्रति सकारात्मक सोच का विकास, स्वास्थ्य, शिक्षा, कन्या भ्रूण हत्या पर रोक, अच्छा भविष्य तैयार करना आदि।
कुल सहायता राशि कुल 1,18,000/- रूपये
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://ladlilaxmi.mp.gov.in

लाड़ली लक्ष्मी योजना के उदेश्य

लाड़ली लक्ष्मी योजना को राज्य सरकार द्वारा एक विशेष उदेश्य से शुरू किया है, विवरण निम्न है –

  • मध्य प्रदेश के लोगों को बेटियों के प्रति जागरूक करना, समाज में बेटियां भी बेटों से कम नहीं होती है, इस सोच का विकास करना।
  • बेटियों को अच्छी शिक्षा देना, अच्छी शिक्षा से उन्हें आत्मनिर्भर बनना। इसके साथ ही देश व परिवार का नाम रोशन कर सकें।
  • और फिर देश के अन्य क्षेत्रों में भी लिंगानुपात सूचकांक बढ़ाएँ। समाज में लड़कियों के जन्म के लिए स्वीकृति की संस्कृति को बढ़ावा देना।
  • परिवार नियोजन के लिए प्रोत्साहित करना। (समाज में कहीं बार पहले दो बच्चे बेटियों के रूप में प्राप्त होते है, इससे परिवार जब तक बेटा न हो लगातार बच्चे पैदा करते रहते है। इसके लिए समाज में जागरूकता लाना, इससे जनसंख्या वृद्धि दर में कमी लाना।)
  • बालिका के सफल भविष्य के लिए एक ठोस आधार रखना।
  • महिलाओं की भ्रूण हत्या और कन्या भ्रूण हत्या बंद करें।
  • सेटिंग को लड़कियों के विकास के लिए सहायक और ग्रहणशील बनाएं।
  • कानूनी उम्र में विवाह को प्रोत्साहित करें और बाल विवाह को हतोत्साहित करें।

मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए पात्रता / शर्तें

लाड़ली लक्ष्मी योजना माध्यम प्रदेश का लाभ लेने के लिए आपको निम्न पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा, विवरण निम्न है –

  • सर्वप्रथम आवेदन बालिका मध्य प्रदेश की निवासी होना आवश्यक है। यदि प्रदेश से बाहर की निवासी है, तो आप इस योजना का लाभ नहीं ले पायेगें।
  • आवेदक का परिवार गरीबी रेखा से नीचे (BPL) जीवन यापन कर रहा हो। यदि आपके परिवार के आय अधिक है, तो आप इस योजना के लिए अपात्र हो जायेंगें।
  • यदि परिवार इनकम टेक्स भरता है, तो आप इस योजना के लिए पात्र नहीं है।
  • बालिका को गोद लिए जाने के सन्दर्भ में उसका गोद लेने का प्रमाण पत्र (लीगल सर्टिफिकेट) लेना आवश्यक है, अन्यथा आप इस योजना का लाभ नहीं ले पायेंगें।
  • आखिरी क़िस्त प्राप्त करने के लिए बालिका का 12वीं पास होना आवश्यक है, साथ ही उसका विवाह विवाह एक्ट के अनुसार

एमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना हेतु दस्तावेज

लाड़ली योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास निम्न दस्तावेज होना आवश्यक है –

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड (यदि उपलब्ध हो)
  • राशन कार्ड
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का पहचान पत्र
  • बैंक खाते का विवरण / पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • जाति प्रमाण पत्र
  • गोद लेने का सर्टिफिकेट (यदि गोद लिया हो)
  • बालिका का टीकाकरण कार्ड

मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 के लाभ / मिलने वाली धनराशि

मध्य प्रदेश सरकार लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत मिलने वाली सहायता राशि को कुल 6 किस्तों में दी जाती है। सभी का विवरण नीचे दिया गया है –

प्रथम किस्त: बेटी के कक्षा 6वीं में प्रवेश पर राशि 2000 रूपये की राशि दी जाएगी।

द्वितीय किस्त: बालिका के 9वीं कक्षा में प्रवेश पर 4000 रूपये की राशि दी जाती है।

तृतीय किस्त: लाभार्थी बालिका के कक्षा 11वीं एवं 12वीं कक्षा में 6000/- रूपये की छात्रवृति दी जाएगी।

चौथी व पांचवी किस्त: लाभार्थी को कक्षा 12वीं पास करने के बाद स्नातक या अन्य व्यवसायिक पाठ्यक्रम (न्यूनतम दो वर्ष का पाठ्यक्रम) में एडमिशन लेने पर प्रोत्साहन राशि 25000/- की दो समान क़िस्त प्रथम वर्ष व द्वितीय वर्ष दी जाएगी।

छठी किस्त: बालिका की उम्र 21 वर्ष होने के बाद कुल 100000/- का भुगतान किया जाता है। ( यह क़िस्त लाभार्थी बालिका को तभी दी जाएगी, यदि वह 12 परीक्षा में सम्मिलित हुई हो। यदि बालिका का विवाह हो चूका हो तो वह बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 में दिए उम्र अनुसार हुआ हो।

एमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना के महत्वपूर्ण बिंदु

  • लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ मध्य प्रदेश के गरीब परिवार के लोग ले सकते है, इस योजना के लिए एक परिवार की अधिकतम दो बेटियां ही आवेदन कर सकती है।
  • यदि आप लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए आवेदन करना चाहते है, तो आपको बेटी के जन्म से एक वर्ष के अंदर इस योजना के लिए आवेदन करना होता है।
  • इस योजना के लिए गोद ली हुई बेटी के लिए भी आवेदन कर सकते है। लेकिन आपके पास बेटी के गोद लेने का प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • योजना की आखिरी किस्त 21 वर्ष पुरे होने पर ही दी जाती है। अंतिम क़िस्त के रुप में सरकार द्वारा एक लाख रूपये योजनान्तर्गत दिए जाते है।

मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया?

लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए आवेदन हेतु विस्तृत प्रक्रिया हमने यहां पर दी है, आप निम्न स्टेप्स को फॉलो करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते है –

  • लाड़ली योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन हेतु सबसे पहले आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • लाड़ली योजना के होम पेज पर आने के बाद आप आवेदन करें पर क्लिक करें। इसके बाद आप अगले विकल्प पर आ जायेंगें।
mp ladli lakshmi yojana online
  • नए पेज पर आपके सामने योजना से जुडी टर्म एवं कंडीशन दी रहेगी, इसके अलावा आवश्यक दस्तावेज का विवरण भी दिया रहेगा।

  • इसके बाद आपको कुछ स्वघोषणा को स्वीकार करना होगा। आपको यहां पर आयकरदाता नहीं होने, व्हाट्स ऐप के माध्यम से सूचना प्राप्त करने व कुछ अन्य घोषणा पर टिक करना होगा। इसके बाद आगे बढ़ें विकल्प पर क्लिक करना होगा।
mp ladli lakshmi yojana online
  • आपके सामने अब नई स्क्रीन ओपन हो जाएगी। यहां पर आपको लाड़ली की समग्र आईडी, लाड़ली के परिवार की समग्र आईडी एवं प्रथम / द्वितीय एवं जुड़वाँ लाड़ली के विकल्प का चयन करना है।
  • इसके आपको यहां पर डेटा फेच करने के लिए समग्र से जानकारी प्राप्त करें विकल्प पर क्लिक करना है, एवं आगे बढ़ें विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने अब मध्य प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना का आवेदन फॉर्म ओपन हो जायेगा।
  • आपको लाड़ली फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को भरना होगा, एवं मांगे गए सभी दस्तावेजों व अपने व माता पिता के फोटो को अपलोड करने होंगें।
  • इस प्रकार अब अपने ऑनलाइन फॉर्म को सबमिट कर दें। आपको यहां पर एक सन्दर्भ संख्या मिलेगी, जिसे आपको अपने पास सुरक्षित रखना है, क्यूंकि इसी सन्दर्भ आईडी से आप बाद में अपने आवेदन फॉर्म का स्टेटस चेक कर पायेंगें।

FAQ: MP Ladli Laxmi Yojana 2023

एमपी लाड़ली लक्ष्मी योजना का संबध किससे है?

एमपी लाड़ली योजना का संबध बालिकाओं से है, इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश की बालिकाओं को जन्म से लेकर 21 की उम्र तक स्कालरशिप दी जाती है।

Leave a Comment