ई-चालान ऑनलाइन भुगतान | E Challan Status | Payment @echallan.parivahan.gov.in | 2022

E Challan Status Payment | ई-चालान क्या है? | डिजिटल ट्रैफिक / ट्रांसपोर्ट इंफोर्समेंट सॉल्यूश | echallan.parivahan.gov.in Payment |

E Challan Online Status: देश में ट्रैफिक नियमों की अनदेखी कर उनको तोड़ना अब पहले से काफी भारी पड़ता हैं। गाड़ी चलाते समय होने वाली दुर्घटनाओं को कम करने और लोगों में ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरुकता लाने के लिए केंद्र सरकार व विभिन्न राज्य सरकारें समय-समय पर जागरुकता अभियान चलाती है। लेकिन इसके बावजूद भी अगर आपसे कोई नियम टूट ही जाता है, और आपका चालान कट जाता है। सरकार द्वारा अब चालान काटने व उसके भुगतान की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है। इसीलिए अब आपको पहले की तरह परेशान होने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि अब आप ई-चालान की मदद से घर बैठें भी चालान जमा / भर सकते हैं।

क्या है ई-चालान (e Chalan)?

सबसे पहले आपको बताते हैं कि आखिर ये ई-चालान क्या है? असल में ये भारत सरकार द्वारा चालान भरने के लिए लगने वाली लंबी-लंबी लाइनों और समय की बचत के लिए चलाई गई ऑनलाइन सुविधा है। ई-चालान की मदद से आप ऑनलाइन चालान भरकर चंद सेकेंड में इस परेशानी को दूर कर सकते हैं। ई-चालान एक ऑनलाइन पोर्टल है, जहां पर आप चालान भर सकते हैं। इसकी एप्लीकेशन यानी की एंड्राइड मोबाइल ऐप आप अपने मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर से free download कर सकते हैं। वहां पर भी आप इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

E Challan

सीधे शब्दों में कहा जाए तो, अगर गाड़ी चलाते समय आपसे कोई नियम टूटा है, तो ट्रैफिक police या फिर cctv कैमरे से आपका चालान काटा जाता है, जिसकी जानकारी आपके register mobile नंबर पर आ जाती है। अब इस चालान को भरने के लिए या तो आप जहां चालान कटा है उस RTO कार्यालय में जाकर जमा करना होगा, और फिर आप कहीं से भी अपने घर बैठे online E-Challan के माध्यम से जमा कर सकते हैं।

E Challan 2022 Overview

आर्टिकल का नाम E Challan Online
पोर्टल का नामई-चालान – डिजिटल यातायात/परिवहन प्रवर्तन समाधान। (Digital Traffic/Transport Enforcement Solution)
लोकेशन सम्पूर्ण भारत।
संबधित विभागयातायात विभाग।
उद्देश्यऑनलाइन माध्यम से चालान
व उसका भुगतान करना।
भुगतान प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट echallan.parivahan.gov.in

Online E Challan

ई-चालान का उदेश्य मुख्य रूप से देश में चालान प्रक्रिया को डिजिटली प्रक्रिया से आसान करना है। इसकी मदद से आप ऑनलाइन बैंकिग (online banking), क्रेडिट और डेबिट कार्ड (credit and debit card) या फिर कुछ पेमेंट एप के जरिए भी चालान का भुगतान कर सकते हैं। आपके द्वारा किए गए भुगतान की रसीद भी आपको तुरंत मैसेज पर प्राप्त हो जाती है। इससे आपको चालान भरने के लिए ऑफिस के चक्कर नहीं काटने पड़ते और आपके समय की भी बचत होती है।

सारथि सेवा परिवहन

e-challan के लाभ

e-challan के और भी बहुत से लाभ है। आप किसी भी फर्जी चालान के चक्कर में नहीं फंसते हैं। आपका चालान कहां और किस नियम को तोड़ने के लिए कटा, किस समय काटा गया और आपका चालान कहां जमा होगा आदि जानकारी ई-चालान में दी जाती है। इतना ही नहीं ई चालान की सहायता से आप अपने चालान का status भी ऑनलाइन जान सकते हैं। लोगों के साथ हो रही धोखाधड़ी की रोकथाम के लिए भी ई-चालान काफी फायदेमंद है।

 ई चालान का स्टेटस

अब बात आती है कि चालान का स्टेटस कैसे जानें। इसके लिए आपको ई-चालान पोर्टल एक विशेष सुविधा प्रादन करता है। ई-चालान का स्टेटस पता करने के लिए आपको इसकी वेबसाइट https://echallan.parivahan.gov.in  पर जाना है। इसके बाद आपको step by step आगे बढ़ना होगा-

  • सबसे पहले आपको स्टटेस चेक करने के लिए वेबसाइट में ऊपर की तरफ दिए गए CHECK CHALLAN STATUS पर जा कर क्लिक करना है।
E Challan
  • इस पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुल कर सामने आएगा। इस पेज में पूछी गई सभी जानकारी को आपको ठीक-ठीक भरनी है।
  • जैसे- आपका चालना नंबर, गाड़ी का नंबर, DL (ड्राइविंग लाइसेंस) नंबर, भरने के बाद अंत में नीचे दिए गे कैप्चा कोड डाल कर GET DETAIL पर CLICK करना है।
E Challan
  • जैसे ही आप यहां पर क्लिक करेंगे आपके सामने चालान की सारी जानकारी खुल कर सामने आ जाएगी। इसके बाद आप आगे बढ़ते हुए PAY NOW पर क्लिक कर अपने चालान को भर सकते हैं। जिसके बाद आपको एक रसीद प्राप्त हो जाएगी।

ONLINE ई-चालान कैसे भरें

चालान कटने के बाद आपके पास कुछ जानकारियां मैसेज द्वारा आ जाती है। अब या तो मोबाइर एप या फिर अधिकारिक वेबसाइट  https://echallan.parivahan.gov.in पर जा कर अपना चालान भर सकते हैं। यहां पर आप चाहे तो ONLINE BANKING, DEBIT CARD, CREDIT CARD, GOOGLE PAY,  PAY TM या फिर किसी दूसरी PAYMENT APP से अपना चालान भर सकते हैं। 

  • अब आप सामने दिए गए OPTIONS (विकल्प) पर क्लिक करें।
  • आपके सामने यहा पर काफी सारे ऑप्शन खुल कर सामने आते हैं आपको इनमें से चालान भुगतान पर क्लिक करना है।
E Challan
  • इतना काम करने के बाद आप ट्रैफिक अथॉरिटी को चुने और अपना चालान नंबर यहां पर सही-सही भरें।
  • इसके बाद आपसे कुछ और जानकारी भी पूछी जाएगी जिसे आपको सही और ध्यान से भरना है।
E Challan
  • और अंत मे आकर आपको PAY NOW पर क्लिक करना है जैसे ही यहां पर क्लिक करेंगे आपका चालान भर जाएगा।

इसके बाद आपको आपके चालान की रसीद भी प्राप्त होगी जिसे आप प्रिंट या फिर फोन में SAVE करके रख सकते हैं।

चालान की रसीद क्यों है जरूरी

चालान भरने के बाद आपको एक रसीद मिलती है। उसका आपके पास होना जरूरी है। उस रसीद में काफी महत्वपूर्ण बातें होती है जो आपके लिए जरूरी होती है। इसका एक लाभ ये भी है कि आपको अगर फिर से वहीं चालान भरने के लिए कहा जाता है तो आप उसे दिखा सकते हैं कि आप पहले ही अपने चालान का भूगतान कर चुके हैं। इस रसीद में रसीद संख्या के साथ-साथ ई-चालान स्थान यानी की चालान कहां कटा, चालाक का नाम और वाहन संख्या लिखी होती है।

इसके अलावा बुक नंबर, राजकोष चालान संख्या और आपके द्वारा की गई भूगतान धनराशि को भी दिखाया जाता है। बैंक संदर्भ संख्या, किस दिन चालान भरा गया उस दिन का तारिख, कार्यालय का नाम, भुगतान की तिथि, चेसिस नंबर के अलावा प्रवर्तन अधिकारी का नाम, प्रवर्तन अधिकारी के पद का नाम और पेमेंट गेट वे का पूरा विवरण विस्तार से दिया गया होता है।

गलत चालान आने पर क्या करें?

ऐसा बहुत बार होता है कि आपने कोई नियम नहीं तोड़ा फिर भी आपके पास चालान आ गया। ऐसे में आप परेशान हो जाते हैं और इस सोच में पड़ जाते है कि अब क्या होगा। अगर आपके पास गलत चालान आ भी जाता है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप इस परेशानी से बहुत सी आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए आपको हेल्पलाइन नंबर पर या ट्रैफिक पुलिस से CONTACT करना है।

वहां पर पूछे जाने वाली सभी जानकारी आपको सही-सही बतानी होगी। इसके बाद आपका चालान रद्द कर दिया जाएगा। इसके लिए आपको कोई पैसा नहीं देना होता है। अगर आप चाहे तो इसके लिए भी आप ऑनलाइन शिकायत दर्ज कर गलत चालान से छुटकारा पा सकते हैं। ये सभी सुविधाएं एक दम फ्री होती है इसके लिए आपसे कोई पैसा नहीं लिया जाता। 

गलत या फर्जी ई-चालान वेबसाइट

आपके पैसे पर गलत लोगों की नजरें हमेशा बनी रहती है। ऐसे में कभी-कभी आपके पास जानकारी ना होने पर आपको बड़ा नुकसान होता है और आप गलत वेबसाइट पर जा कर चालान भर देते हैं। ऐसी फर्जी और गलत बेवसाइट पर चालान भरने से आपको दोगुना नुकसान होता है। इस तरह की वेबसाइट गलत लोगों द्वारा बनाई जाती है जो हू-ब-हू असली वेबसाइट की तरह दिखती है। इसलिए आपको इस तरह की किसी भी फर्जी या फिर गलत वेबसाइट पर जाने बचना होगा और सावधान रहते हुए सही वेबसाइट पर जा कर ही चालान भरना होगा।

E-Challan ऑफलाइन कैसे भरें?

कभी-कभी ऐसा होता है कि आपके पास आपका मोबाइल नहीं होता या फिर इंटरनेट की दिक्कत के चलते आप अपनी पेमेंट एप का यूज नहीं कर पाते। ऐसे में आपके सामने परेशानी होती है कि अब ई-चालान को कैसे भरा जाए। इसके लिए आप इसे ऑफलाइन भी भर सकते हैं। आपको सिर्फ कुछ काम करना होगा जिससे आपका ई-चालान ऑफलाइन भरा जा सकता है। इसके लिए आपको-

  • सबसे पहले आपको अपने एरिया के नजदीकी पुलिस स्टेशन में जाना होगा। 
  • यहां जा कर आपको अपने ई-चलाना के बारें में जानकारी विस्तार से देने होगी।
  • ध्यान रहें कि आपकों आपके साथ नजदीकी पुलिस स्टेशन जाते समय जरुरी कागजात ले जाने होंगे।
  • पुलिस स्टेशन में पूछे जाने पर आपको आपसे डॉक्यूमेंट दिखाने होंगे। इसके बाद आपको जुर्माने की राशि का विवरण दिया जाएगा।
  • इसके बाद आप भूगतान कर अपना ई-चालान ऑफलाइन भर सकते हैं और ये प्रक्रिया यहीं पूरी हो जाएगी। 
  • ध्यान रहें आपको भूगतान करने के बाद रसीद जरूर प्राप्त करनी है।

ई-चालान से कैसे बचें

चालान से बचने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं है। इसके लिए आपको बस कुछ ही खास बातों का ध्यान रखना है। अगर आप इन बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको कभी भी चालान भरने की जरूरत नहीं पडेगी। इतना ही नहीं आप ये बातें अपने करीबियों को भी बता सकते हैं जिससे वो भी चालान से बच सकते हैं। इसमें आपका एक भी पैसा नहीं लगेगा।

आपको इन बातों का ध्यान रखना होगा-

  • हमेशा अपनी गाड़ी को कहीं भी ले जाने से पहले उसके कागज चैक कर लें। इसमें ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी का इंश्योरेंस, गाड़ी  की आरसी (रजिस्टर सर्टिफिकेट) और  गाड़ी का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट होना बेहद जरूरी है।
  • अगर किसी डॉक्यूमेंट की तारीख खत्म हो रही है तो तुरंत उसे अपडेट करा लें। 
  • गाड़ी चलाते समय नियमों का पालन करें। ऐसा करने से आपके बहुत से पैसे बचते हैं।
  • अगर चैंकिग के लिए कोई पुलिस वाला रोकता है तो सावधानी बरतते हुए गाड़ी को साइड में लगा कर चैंकिग करा लें।
  • हेल्मेट पहन कर ही टू-व्हीलर पर चलें। और ट्रिपलिंग यानी की तीन लोग कभी भी एक साथ बैठ कर ना चलें। 
  • चार पहिया गाड़ी चलाते समय सीट बेल्ट का यूज हमेशा करें। नहीं करने पर आपको भारी भरकम चालान का सामना करना पड सकता है।
  • ओवर स्पिडिंग का हमेशा ध्यान रखें। खतरनाक तरीके से गाड़ी कभी ना चलाएं। ऐसा करने से आपके साथ-साथ दूसरों की जिंदगी भी खतरे में पड़ती है।
  • कभी भी शराब पी कर ड्राइव न करें। ऐसा करना सीधे-सीधे मौत को दावत देना होता है।
  • और जितना हो सके सभी यातायात नियमों को याद रखें और सड़क पर लगे यातायात साइन बोर्ड का मतलब भी जानने की पूरी कोशिश करें।
  • अगर आप इन सभी बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको कभी भी चालान का सामना नहीं करना पड़ेगा। सरकार भी इसके लिए जागरुकता अभियान चलाती है।

ई-चालान हेल्पलाइन नंबर

अगर आपको ई-चालान से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए या फिर आपको ई-चालान के बारे में कुछ विशेष जानकारी लेनी है तो आप ई-चालान परिवहन द्वारा दिए गए हेल्पलाइन नंबर 0120-2459171 पर संपर्क कर सकते हैं। इस नंबर पर बात कर आप अपनी ई-चालान संबंधित समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं। अगर किसी कारण ये नंबर नहीं लगता है या फिर व्यस्त जाता है तो आप ई-मेल आईडी [email protected] पर मेसेज के जरीए भी अपनी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं। आपको बता दें कि ई-चालान नंबर पर कॉल करने का समय सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक है।

प्रश्न – मुझे आज चालान का मैसेज प्राप्त हुआ है, क्या में इसका ऑनलाइन भुगतान कर सकता हूँ?

उत्तर – हाँ, आप चालान का ऑनलाइन भुगतान कर सकते है, ई-चालान आप echallan.parivahan.gov.in पर जाकर जमा कर सकते है, इसके अलावा आप अपने मोबाइल पर एंड्राइड एप्लीकेशन डाउनलोड करके ऑनलाइन चालान भुगतान विकल्प पर क्लिक कर जमा कर सकते है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!