महाभूलेख महाराष्ट्र – 2022 | महाराष्ट्र भूलेख ऑनलाइन कैसे चेक करें ? | भूमि अभिलेख – आपला ७/१२ पहा | Mahabhulekh Maharashtra |

महाभूलेख महाराष्ट्र | भूमी अभिलेख – आपला ७/१२ पहा | 7/12 online | भूलेख महाराष्ट्र 7/12 उतारा चेक करें | Mahabhulekh Maharashtra | महाराष्ट्र भूलेख |

भारत देश के सभी कार्यो को आजकल डिजिटल माध्यम द्वारा पूरा किया जा रहा है। हाल ही में महाराष्ट्र सरकार द्वारा एक ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड पोर्टल की शुरुवात की गयी है। इस पोर्टल को महाभूलेख (महाराष्ट्र भूमि अभिलेख) नाम दिया गया है। अब महाराष्ट्र के सभी नागरिक बेहद आसानी से अपनी जमीन से जुडी हर प्रकार की जानकरी ऑनलाइन देख पाएंगे।

ई-भूमि पोर्टल पर आवेदक  भू नक्शा, खतौनी नंबर, ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड, , खसरा नंबर, खेवट नंबर आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप भी इस पोर्टल पर अपनी कोई सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

विषय सूची

महाभूलेख (7/12 सातबारा उतरा) Highlights 2022

महाराष्ट्र सरकार ने इस महाभूमि लेख पोर्टल को महाराष्ट्र रिवेन्यू विभाग और NIC (नेशनल इन्फार्मेटिक्स सेंटर) की मदद से बनाया है। यह वेब पोर्टल राज्य के नागरिको के लिए बहुत आवयशक एवं उपयोगी है। अब महाराष्ट्र के लोग अपना भूमि रिकॉर्ड से सम्बंधित सारा कार्य ऑनलाइन करवा सकते है। 

पोर्टल को  राज्य के 6 प्रमुख स्थानों जैसे नासिक, पुणे, कोकण, नागपुर, औरंगाबाद और अमरावती के आधार पर विस्तृत किया गया है। अब आप घर पर ही रहकर महाराष्ट्र भूमि अभिलेख के लिए ऑनलाइन पोर्टल @mahabhumi.gov.in के जरिये  आवेदन कर सकते हैं, इससे आपके वक्त की भी बचत होगी। 

                    योजनामहाराष्ट्र भूमि अभिलेख
योजना की शुरुआत किसने कीमहाराष्ट्र सरकार
लाभार्थीमहाराष्ट्र राज्य के नागरिक
योजना का उद्देश्यऑनलाइन वेब पोर्टल के जरिये जमीन से जुडी जानकारी देना
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
1 आधिकारिक वेबसाइटhttp://mahabhulekh.maharashtra.gov.in
2 आधिकारिक वेबसाइटhttps://mahabhumi.gov.in/mahabhumilink

महाराष्ट्र भूमि अभिलेख का उद्देश्य क्या है? 

पहले जब महाराष्ट्र राज्य के किसी भी व्यक्ति को अपनी जमीं से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करनी होती थी तब उसे पटवारखाने जाना पड़ता था। इसमें समय और पैसे दोनों का नुकसान होता था। इसलिए राज्य सरकार ने लोगो की इस परेशानी को समझा और भूमि से सम्बंधित सभी जानकारियों को ऑनलाइन पोर्टल द्वारा ऑनलाइन कर दिया है। अब इस राज्य के नागरिक बिना समय को बर्बाद करे अपनी भूमि से जुडी सभी तरह की जानकारी घर बैठे ऑनलाइन पोर्टल पर देख सकते है। इससे अब लोगो को पटवारखाने के चक्कर नहीं काटना पड़ेंगे और ना ही किसी भी तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। 

महाराष्ट्र भूमि अभिलेख योजना से मिलने वाले फायदे क्या है?

  1. ऑनलाइन पोर्टल के जरिये महाराष्ट्र के नागरिको के समय और पैसो दोनों की बचत होगी। 
  2. अब राज्य के उम्मीदवारों को उनकी जमीन से जुडी कोई भी इंफॉर्मेशन के लिए कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। 
  3. यह योजना का लाभ केवल महाराष्ट्र राज्य के मूलनिवासी को ही प्रदान किया जायेगा। 
  4. जिस भी व्यक्ति को अपनी भूमि की जानकारी प्राप्त करना है उसे केवल खसरा संख्या भरनी होगी।
  5. इस कार्य के ऑनलाइन हो जाने से पटवारी लोग आवेदकों के साथ घूसखोरी नहीं कर पाएंगे।
  6. ऑनलाइन पोर्टल के शुरवात से आवेदक के पैसे एवं समय दोनों की ही बचत होगी।
  7. इस वेब पोर्टल के जरिये आप भूमि नक्शा, जमाबंदी आदि के प्रिंटआउट भी निकाल सकते है और जरुरत पढ़ने पर इस्तेमाल कर सकते है। 
  8. आपको अपनी जमीन की जानकारी के लिए सरकारी कार्यालय के बाहर इंतजार नहीं करना चाहिए, और पोर्टल के जरिये आपको भूमि की जानकारी मिंटो में मिल सकती है। 

भूमि रिकॉर्ड विवरण की जांच करने की ऑनलाइन प्रक्रिया

  • सबसे पहले तो आपको महाराष्ट्र राज्य भूलेख के ऑफिसियल वेब पोर्टल “bhulekh.mahabhumi.gov.in” को ओपन करना है। 
  • अब आपके सामने एक वेब पेज ओपन होगा, जिसमे अपने क्षेत्र का चयन करना है, आपको दिए गए विकल्प नासिक, पुणे, नागपुर, औरंगाबाद, अमरावती, या कोंकण इसमें से किसी एक का चयन करना होगा।
महाभूलेख
  • अब गो के ऑप्शन पर क्लिक करेम जिससे एक नया वेब पेज आपके स्क्रीन पर ओपन होगा, इसमें आपको 8 ए या 7/12 के ऑप्शन को चुनना होगा। 
महाभूलेख
  • इसके बाद आपको जिला, काउंटी, गांव जैसे वेबपेज पर पूछी गयी जानकारी को दर्ज करे। 
महाभूलेख
  • अब  पूछी गए ऑप्शन का चयन करके, खोजे के ऑप्शन पर क्लिक करना है। 
  • इसके बाद आपको कंप्यूटर की स्क्रीन पर कैप्चा कोड दिखाई देगा उसे सही से दर्ज करे। 
  • अब आपको वेरिफिकेशन कैप्चा पर क्लिक करना है और फिर डिस्प्ले 7/12 ऑप्शन पर करना है।
महाभूलेख
  • इसके बाद आप जैसी चाहे वैसी डिटेल प्राप्त करे। 

महाभूलेख महाराष्ट्र ऐप को कैसे डाउनलोड करें

  • सबसे पहले अपने एंड्राइड फ़ोन में गूगल प्ले स्टोर को खोले। 
  • इसके पश्चात  सर्च के ऑप्शन में महाभूलेख एंटर कर सर्च के बटन पर क्लिक करे। 
  • अब आपके समक्ष एक लिस्ट खुलकर आएगी इसमें आपको सबसे पहले वाले ऑप्शन को चुन कर इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह महाभुलेख ऐप को आप अपने फ़ोन पर डाउनलोड कर पाएंगे। 

ये भी पढ़ें

अपना खाता पंजाब

उत्तर प्रदेश भूलेख

उत्तराखंड भूलेख

हिमांचल भूलेख

पंजाब भूलेख

ई म्यूटेशन की प्रोसेस से जुडी जानकारी

सरकार ने ई म्यूटेशन की पूरी प्रक्रिया कंप्यूटरीकृत कर दी है। इससे महाराष्ट्र राज्य के किसी भी नागरिकों को किसी भी तरह की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। अब भूमि से सम्बन्धी जानकारी डिजिटली प्राप्त होगी। राष्ट्रीय भूमि रिकॉर्ड आधुनिकरण कार्यक्रम के अंतर्गत ई म्यूटेशन की प्रक्रिया शुरू आरंभ की गयी है। 

इस कार्यक्रम के अंदर  7–12 डाटा को कंप्यूटरीकृत करके,  इस डाटा को यूनिकोड में चेंज कर दिया जाएगा। सातबारा के डाटा को राजस्व कार्यालय से जोड़ा जाएगा और मध्यमिक रजिस्ट्रार कार्यालय को राष्ट्र कार्यालय से जोड़ा जाएगा। आपको जानकारी देना चाहेंगे की यह प्रक्रिया पुणे मैं वर्ष 2013 में ही आरंभ कर दी गयी थी। 

वेब पोर्टल पर म्यूटेशन 7/12 एंट्री करने की प्रोसेस क्या है?

  • सबसे पहले आपको पब्लिक डाटा एंट्री फॉर प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन एंड म्यूटेशन इन लैंड रिकॉर्ड के ऑफिसियल वेब पोर्टल पर जाना होगा। 
  • इसके पश्चात आपको नीचे की और जाकर के लॉगइन के विक्लप पर क्लिक करना होगा।
  • इसमें आपको अपना यूजर नेम तथा पासवर्ड तथा कैप्चा कोड भरकर लॉगिन की प्रक्रिया करनी है। 
  • इसके बाद आपको 7/12 म्यूटेशन के इस ऑप्शन को क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपको रोल को चुनना(सिलेक्ट करना) है। 
  • जैसे ही आप रोल का चयन करते है। आपको अपने जमीन के रिकॉर्ड में जो डिटेल भरनी है, आप वह भर सकते हैं।
  • फिर आपको सबमिट के क्लिकेबल बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • परन्तु एक बात का ध्यान रखिये एक बार आप सबमिट के बटन पर क्लिक कर चुके है तो आप आपके द्वारा भरी गयी जानकारी को बदल नहीं पायंगे। 

महाभूलेख वेबसाइट पर प्रॉपर्टी कार्ड पंजीकरण करने और डिजिटल हस्ताक्षर कारण 7/12, 8A  करने का तरीका 

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा। 
  • इसके बाद आवेदक के समक्ष एक न्यू वेब पेज ओपन होगा। 
  • जो पेज ओपन होगा उस पर आपको न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन की क्लिकेबल लिंक दिखाई देगी, जिसपर आपको क्लिक करना है। 
  •  इसके बाद आपके समक्ष एक पंजीकरण प्रपत्र खुल जायेगा। 
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको पूछी गई सर्वस्व जानकारी जैसे कि लॉगइन आईडी, पासवर्ड और आपका नाम, पत आदि भर कर सबमिट बटन को क्लिक करना है।
  • इस तरह से पंजीकरण की प्रक्रिया पूर्ण होती है।

जानिए प्रॉपर्टी कार्ड और डिजिटल हस्ताक्षर कारण 7/12, 8A को डाउनलोड करने की प्रोसेस 

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा। 
  • इसके बाद आपके समक्ष एक न्यू वेब पेज ओपन होगा। 
  • ओपन हुए होम पेज पर आपको आपकी लॉगइन आईड और पासवर्ड कैप्चा कोड के साथ भरनी होगी। 
  • फिर आपको लॉगिन के क्लिकेबल बटन पर क्लिक करना है। 
  • इसके पश्चात आपको अपने अकाउंट में पेमेंट करना है और सर्च बार में अपने जिले तथा गांव आदि का चयन करना होगा।
  • इस तरह आप अपना प्रॉपर्टी कार्ड और डिजिटल हस्ताक्षर कारण 7/12, 8A डाउनलोड कर पाएंगे।

पेमेंट स्टेटस को चेक कैसे करे?

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा।  
  • इसके बाद आपके समक्ष एक न्यू वेब पेज ओपन होगा
  • फिर वेब पेज पर आपको “चेक पेमेंट स्टेटस” इस पर माउस की मदद से क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा इस पेज में आपको अपना पी आर एन नंबर भरना होगा।
  • फिर आपको वापिस से सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • इस तरह से आप पेमेंट स्टेटस को चेक कर पाएंगे।

ये भी पढ़ें

भूलेख हरियाणा

मध्य प्रदेश भूलेख

झारखण्ड भूलेख

बिहार भूलेख

7/12 को वेरीफाई कैसे करे 

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा। 
  • इसके बाद आपके समक्ष एक न्यू वेब पृष्ठ(होम पेज) ओपन होगा। 
  • होम पेज पर अब आपको वेरीफाई 7/12 के लिंक को क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके समक्ष एक नया पेज ओपन हो जायेगा जिसमे आपको अपना वेरफिकेशन नंबर एंटर करना है। 
  • इसके बाद अब आपको सबमिट के बटन पर माउस की मदद से क्लिक करना है।
  • इस तरह से आप 7/12 को वेरीफाई कर सकते है।

8A को वेरीफाई कैसे करे 

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा। 
  • इसके बाद आपके समक्ष एक न्यू वेब पृष्ठ(होम पेज) ओपन होगा। 
  • होम पेज पर अब आपको वेरीफाई 8A के लिंक को क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके समक्ष एक नया पेज ओपन हो जायेगा जिसमे आपको अपना वेरफिकेशन नंबर एंटर करना है। 
  • इसके बाद अब आपको सबमिट बटन पर क्लिक  करना है।
  • इस तरह से आप 8A को वेरीफाई कर सकते है।

प्रॉपर्टी कार्ड वेरिफिकेशन की प्रोसेस क्या है? 

  • आवेदक को पहले आपको प्रॉपर्टी कार्ड हस्ताक्षर करण और  डिजिटल हस्ताक्षर करण 7/12, 8A के आधिकारिक वेब पोर्टल पर विजिट करना होगा। । 
  • इसके बाद आपके समक्ष एक न्यू वेब पृष्ठ(होम पेज) ओपन होगा। 
  • होम पेज पर अब आपको “वेरीफाई प्रॉपर्टी कार्ड” टर्म को क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके समक्ष एक नया पेज ओपन हो जायेगा जिसमे आपको अपना वेरफिकेशन नंबर एंटर करना है। 
  • इसके बाद अब आपको सबमिट के बटन को माउस की मदद से क्लिक करना है। ।

फीडबैक देने की प्रोसेस क्या है?

  • सबसे पहले आपको महाराष्ट्र भूलेख के ऑफिसियल वेब पोर्टल पर जाना होगा। 
  • इसके बाद आपके समक्ष एक होम पृष्ठ ओपन हो जायेगा। 
  • आपको होम पेज पर इंपॉर्टेंट नोट दिखेगा, आपको इसके अंदर दी गयी वेबसाइट की लिंक पर क्लिक करना है।
  • अब एक नए पृष्ठ पर यह वेबसाइट ओपन हो जाएगी। 
  • अब आप फीडबैक फॉर्म के लिंक पर माउस की मदद से क्लिक करे।
  • फिर आपके समक्ष फीडबैक फॉर्म ओपन हो जायेगा। 
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे की आपका नाम और मोबाइल नंबर साथ ही ईमेल आईडी आदि को भरकर इन्फॉर्मेशन सबमिट करदे। । 
  • इस तरह आप अपना फीडबैक दे सकते है।

Contact

उपरोक्त लेख में हमने आपको महाभुलेख योजना से जुडी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। यदि इस जानकारी को लेकर आप किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है तो आप ईमेल के जरिये से अपनी समस्या का हल पा सकते हैं। ईमेल आईडी [email protected] है। 

योजना से संबंधित कुछ सवाल जवाब:- 

प्रश्न 1: यह टर्म महाभूलेख क्या है?

उत्तर: यह एक ऑनलाइन वेबसाइट है। इस वेबसाइट की मदद से महाराष्ट्र के सभी व्यक्ति अपनी जमीन की जानकारी घर बैठे कंप्यूटर या मोबाइल पर ऑनलाइन प्राप्त कर सकते है। 

प्रश्न 2: महाभूलेख पोर्टल की शुरुवात किसके की है?

उत्तर: महाभूलेख पोर्टल की शुरुवात महाराष्ट्र सरकार ने की है। यह पोर्टल राज्य के नागरिकों के लिए बहुत ही उपयोगी है। 

प्रश्न 3: महाभूलेख पोर्टल में भूमि की किस तरह की जानकारी प्राप्त कर सकते है?

उत्तर: इस पोर्टल के जरिये खसरा, खेवट नंबर, खतौनी और  भू-नक्शा आदि जानकारी प्राप्त कर सकते है। 

प्रश्न 4: महाभूलेख पोर्टल किसकी मदद से बनवाया गया है?

उत्तर: यह पोर्टल सातबारा राजस्व विभाग द्वारा बनवाया गया है। 

प्रश्न 5: क्या इस पोर्टल पर के जरिये भारत के अन्य राज्य के नागरिक भी उनकी जमीन से जुडी जानकरी देख सकते है?

उत्तर: नहीं, यह पोर्टल केवल महाराष्ट्र राज्य के मूलनिवासी के लिए बना है। महाराष्ट्र के अलावा अन्य राज्य के व्यक्ति इसमें अपने भूमि से सम्बंधित जानकारी नहीं देख सकता। 

प्रश्न 6: प्रॉपर्टी कार्ड का वेरफिकेशन कैसे कर सकते है?

उत्तर: सबसे पहले तो आपको महाभुलेख की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। फिर होम पेज खुलेगा। होम पेज पर आपको वेरीफाई प्रॉपर्टी कार्ड वाली लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको वेरिफिकेशन नंबर भरना होगा और सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। 

प्रश्न 7: महाभूलेख महाराष्ट्र की एप्प को डाउनलोड कैसे करते है ?

उत्तर: यदि आप एप्प डाउनलोड करना चाहते है तो सबसे पहले तो आपके पास एंड्रॉइड मोबाइल फ़ोन होना जरुरी है। यदि आपके पास एंड्रॉइड मोबाइल है तो गूगल प्ले स्टोर में जाकर आप यह एप्प को डाउनलोड कर सकते है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!