MP e Uparjan 2022 | मध्य प्रदेश ई उपार्जन ऑनलाइन किसान पंजीकरण कैसे करें ? | eUparjan.nic.in |

MP e Uparjan Online Apply | एमपी ई उपार्जन किसान पंजीकरण इन हिंदी | किसान ऑनलाइन पंजीयन | mpeuparjan.nic.in Portal | न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price – MSP) |

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल को खरीदने के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल बनाया है, इस पोर्टल का नाम मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल है। e-uparjan portal के माध्यम से राज्य के किसान अपनी फसल का ऑनलाइन पंजीकरण करेंगे, पंजीकरण के बाद किसान अपनी फसल को सीधे सरकार को बेच पाएंगे। इसके लिए उन्हें सरकार द्वारा बनाए गए नजदीकी अनाज खरीद केंद्र पर ले जाना होगा। यह पोर्टल उत्तर प्रदेश सरकार के e-kray pranali की तरह काम करता है। यहां पर सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों से फसल (अनाज) खरीदी जाती है।

MP E Uparjan

देश की राज्य सरकारें व केंद्र सरकार किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए समय समय पर कई योजनाएँ लाती रहती है। ये योजनाएं किसानों के लिए काफी मददगार साबित होती है, क्योंकि सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की जाने वाली इन योजनाओं का मकसद ही उनके आय में वृद्धि, आत्मनिर्भर बनाना आदि के साथ-साथ उन्हें उपज (फसल) का सही मूल्य दिलाना भी होता है | इस आर्टिकल में हमने ऐसी ही एक योजना मध्य प्रदेश ई-उपार्जन के बारे में बताया है, कृपया आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

विषय सूची

MP e Uparjan 2022

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा पुरे राज्य के किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए ई-उपार्जन पोर्टल को शुरू किया गया है। सरकार इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के प्रत्येक जिले के किसानों से रबी व खरीफ सीजन की फसलों जैसे – धान, चना, ज्वार, बाजरा, सरसों, मसूर व गेहूं आदि अनाजों को खरीदती है। गौरतलब है कि सरकार द्वारा प्रतिवर्ष सभी अनाजों के लिए एक न्यूनतम मूल्य निर्धारित किया जाता है, जिसे न्यूनतम समर्थन मूल्य अथवा MSP (Minimum Support Price) कहा जाता है।

राज्य का कोई भी इच्छुक किसान जो इस मूल्य पर अपनी फसल सरकार को बेचना चाहता है, वह Madhy Pradesh e-Uparjan Portal पवार अपने फसल का पंजीकरण करवा सकता है, इसके बाद अपने नजदीकी सरकारी खरीद केंद्र पर जाकर बेच सकता है।रबी सीजन या खरीफ सीजन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की पूरी प्रक्रिया नीचे दी गयी है, यदि आपको अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाने में समस्या आ रही है, तो इसके लिए हमने नीचे सभी स्टेप्स को बताया है। आप इसका अनुसरण करके आपने ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकते है।

न्यूनतम समर्थन मूल्य क्या होता है?

न्यूनतम समर्थन मूल्य अथवा Minimum Support Price (MSP) सरकार द्वारा सभी अनाजों के लिए निर्धारित किया जाने वाला एक न्यूनतम मूल्य है, जिस दर पर सरकार किसानों से किसी भी फसल को खरीदती है। केंद्र सरकार प्रति वर्ष सभी अनाजों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित करती है। सरकार द्वारा रवि सीजन 2021-22 व 2022-23 के लिए निर्धारित मूल्य की सूची निम्न है –

फसल का नाम MSP for ravi 2021-22 (Rs. / quintal)MSP for Ravi 2022-23 (Rs. / quintal)उत्पादन लागत 2022 -23 (Rs. / quintal)MSP में हुई वृद्धि
गेहूं 19752015100840
जौ16001635101935
चना 510052303004130
मसूर 510055003079400
सरसों 465050502523400
सूरजमुखी532754413627114

नोट – msp सरकार द्वारा प्रति वर्ष निर्धारित किए जाते है, इसके अलावा समय-समय पर कही बार राज्य सरकारें अतरिक्त मूल्य की घोषणा भी करती है।

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल के उद्देश्य

  • सरकार का मकसद एमपी ई-उपार्जन पोर्टल के माध्यम से किसानों द्वारा उगाए जाने वाले अनाजों के लिए उन्हें एक न्यूनतम मूल्य दिलाना है।
  • ऑनलाइन पोर्टल के बन जाने से किसान अपने फसल का स्वयं ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकते है, ऑनलाइन पंजीकरण के बाद वे अपनी फसल को आसानी से बेच सकते है। इससे पहले किसानों को काफी दिक्कतों को सामना करना पड़ता था, क्योंकि वे अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाते थे।
  • किसानों का पंजीकरण नहीं हो पाने के कारण उन्हें अपनी उपज को समर्थन मूल्य से काफी कम कीमत में बेचना पड़ता था, यही वजह है कि मध्य प्रदेश सरकार को अपना एक अलग ऑनलाइन पोर्टल बनवाना पड़ा था।
  • बीते वर्ष में किसानों को अपनी फसल को बेचने में हुई परेशानी को देखते हुए, सरकार द्वारा अब उपार्जन पोर्टल पर किसान फसल पंजीकरण की प्रक्रिया को शुरू करवा दिया है।
  • उपार्जन पोर्टल बन जाने के बाद इस पूरी प्रक्रिया में समय और पैसा दोनों की बचत होगी।

एमपी ई-उपार्जन के लाभ

  • मध्य प्रदेश के किसान अब राज्य के किसी भी कोने से अपने घर बैठे-बैठे ऑनलाइन किसान फसल पंजीकरण करवा सकते है।
  • इसका लाभ राज्य के सभी किसान उठा सकते है, राज्य का कोई भी किसान ऑनलाइन पंजीकरण करवाकर अपनी फसल को बेच सकता है।
  • किसान ई-उपार्जन मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करके भी ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकते है। पंजीकरण के अलावा इसमें कही सूचनाओं को प्राप्त कर सकते है।
  • किसानों को अनाज बेचने से संबधित सभी जानकारियां इस पोर्टल के माध्यम से दी जाएगी।
  • आप उपार्जन पोर्टल के माध्यम से किसनों को खरीदी रसीद उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • किसानों को अपनी उपज को बेचकर उसका भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में किया जाता है।

MP e-Uparjan 2022 Highlights (संक्षिप्त विवरण)

पोर्टल का नाममध्य प्रदेश ई-उपार्जन 
साल 2022
किसके द्वारा लॉन्च किया गया मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 
संबधित राज्यराज्य सरकार 
लाभार्थी मध्य प्रदेश राज्य के किसान
उद्देश्य न्यूनतम समर्थन मूल्य (msp) पर फसल बेचने हेतु किसान पंजीकरण।
आधिकारिक वेबसाइटMP E Uparjan

एमपी ई-उपार्जन 2022 पर उपलब्ध सेवाएं 

स्टेट यूजर 

मुख्यमंत्री कार्यालय मुख्य सचिव कार्यालय 
खाद्य मंत्री भारतीय खाद्य निगम 
खाद्य मंत्री मध्य प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (फाइनेंस )
कृषि उत्पादन आयुक्त आयुक्त भू अभिलेख 
प्रमुख सचिव वित्त मध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ
प्रमुख सचिव रेवेन्यू मध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (वित्त)
प्रमुख सचिव कोआपरेटिव नाफेड 
प्रमुख सचिव खाद्य मार्किट बोर्ड 
प्रमुख सचिव कृषि अपैक्स बैंक 
कपास पब्लिक रिलेशन 
आयुक्त उर्वरक मध्य प्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉर्पोरेशन 

एमपी ई-उपार्जन 2022 की प्रक्रिया 

  • किसान रजिस्ट्रेशन – किसान ई-उपार्जन पोर्टल के जरिये ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते है | 
  • किसान कोड प्राप्त केर – इसके बाद किसान के मोबाइल नंबर पर रजिस्ट्रेशन कोड भेजा जायेगा | 
  • फसल खरीद की तारिख के बारे में एसएमएस – उसके बाद एक मैसेज प्राप्त होगा जिसमें गेहूँ की खरीद की तिथि किसानों को बताई जाएगी | 
  • निर्धारित तिथि पर उपार्जन केंद्र जाना – अब किसान को गेहूँ की खरीद के लिए उपार्जन केंद्र जाना होगा | 
  • लेन-देन की रसीद प्राप्त करना – फिर अनाज  खरीदने के पश्चात किसान को एक रसीद प्राप्त होगी जो इस बात का प्रमाण होगी की अमुक किसान ने गेहूँ खरीदा है | 
  • भुगतान की राशि प्राप्त होना – अंत में किसानों के बैंक खाते में राशि का भुगतान किया जायेगा |

 

उत्तर प्रदेश गेहूं पंजीकरण

एमपी ई-उपार्जन 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • किसान का आधार कार्ड 
  • किसान का मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • किसान की समग्र आईडी  
  • किसान के बैंक अकाउंट की पासबुक 
  • ऋणपुस्तिका 
  • मोबाइल नंबर 
  • पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ  

एमपी ई-उपार्जन 2022 के लिए महत्वपूर्ण गाइडलाइन्स 

  • एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर किसानों को काफी सारे लाभ मिलेंगे इसलिए सर्वप्रथम अपना पंजीकरण करवाएं | 
  • अपना पंजीकरण करवाने के लिए किसानों को दो चीजों की आवश्यकता होगी मोबाइल नंबर और समग्र आईडी | 
  • अगर किसी किसान के पास समग्र आईडी नहीं है तो वे इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं करवा सकते है | 
  • समग्र आईडी के लिए किसानों को आवेदन करना होगा | 
  • ध्यान रखे जो किसान ऑनलाइन पंजीकरण करवा रहे है उन्हें अपने बैंक डिटेल्स की जानकारी सही प्रकार से देनी होगी | 
  • किसान का मोबाइल नंबर आधार से अवश्य लिंक होना चाहिए तभी उनका रजिस्ट्रेशन पूर्ण होगा | 
  • रजिस्ट्रेशन होने के बाद किसानों को एक रसीद मिलेगी जिसे उन्हें संभालकर रखना है | रजिस्ट्रेशन के बाद पावती पर्ची प्रिंट कर अपने पास रख ले क्योंकि खरीद के दौरान इसकी आवश्यकता होती है | 

MP E Uparjan Portal पर किसान फसल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके अपना पंजीकरण कर सकते है।

  • मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
MP E Uparjan
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आने के बाद आपको आपको रबी 2021 -2022 विकल्प दिखाई देगा, आपको यहां पर क्लिक करें। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जायेगा।
MP E Uparjan
  • नए पेज पर आपको किसान पंजीयन /आवेदन सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। किसान पंजीयन / आवेदन सर्च विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप पुनः एक नए पेज पर आ आजएंगे।
MP E Uparjan
  • नए पेज पर आपके सामने एक फॉर्म ओपन हो जायेगा। यहां पर आपको कुछ व्यक्तिगत जानकारियां देनी होगी, जैसे – नाम, मोबाइल नंबर, आधार नंबर, मध्य प्रदेश समग्र आईडी, बैंक खाता विवरण, जमीन का विवरण आदि।
MP E Uparjan
  • सभी विवरण भरने के बाद सबमिट बटन को दबाएं। अब आपको यहां पर एक पंजीकरण संख्या मिल जाएगी, आप इसे कही सेव कर लें। इस प्रकार आपके ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

ये भी पढ़ें –

मध्य प्रदेश विमर्श पोर्टल
किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं?
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है?

एमपी ई-उपार्जन 2022 के लिए आवेदन की स्थिति जानना 

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर क्लिक करे | 
  • आपके सामने एक होमपेज खुलेगा “रबी 2021-22” इस लिंक पर क्लिक करे | 
  •  एक और होमपेज आपके सामने खुलेगा जिस पर किसान पंजीयन / आवेदन सर्च लिंक दिया गया होगा | इस लिंक पर क्लिक करे | 
  • अब यहाँ आपको अपना रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज करना होगा | 
  • उसके बाद सर्च बटन पर क्लिक करे | अब आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति दिखाई देगी | 

एमपी ई-उपार्जन 2022 पर किसान टिकट की जानकारी 

एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर किसान अपने टिकट की स्थिति भी देख सकते है | इसके लिए उन्हें निम्न प्रक्रिया से गुजरना होगा:  

  • सबसे पहले एमपी ई-उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं | 
  • अब जो होमपेज आपके सामने खुलेगा वहां एक लिंक दिया होगा “रबी 2021” जिस पर क्लिक करे | 
  • एक नया होमपेज आपके सामने आएगा जहाँ किसान के “टिकट की स्थिति देखें” लिंक दिया गया होगा | 
  • इस लिंक पर क्लिक करें | 
  • यहाँ आपको अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना है | इसके बाद “किसान सर्च करे” बटन पर क्लिक करे | 
  • इस तरह किसान अपने टिकट की स्थिति की जांच घर बैठे कर सकते है | 
हरियाणा गेहूं खरीद

एमपी ई-उपार्जन 2022 मोबाइल एप डाउनलोड करना 

  • सबसे पहले मोबाइल पर गूगल प्ले स्टोर पर जाएं | 
  • फिर उसमें आपको सर्च करना है एमपी ई-उपार्जन एप | 
  • एमपी ई-उपार्जन टाइप करते ही आपके सामने एमपी ई-उपार्जन एप खुलेगी | 
  • अब आपको इसे अपने मोबाइल में डाउनलोड करके इंस्टाल करना है | 
  • एमपी ई-उपार्जन एप की मदद से आप स्वयं को रजिस्टर कर अपना अकाउंट बना सकते है और सभी रबी फसल के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है | 
  • आप ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल पर भी अपना मोबाइल नंबर और समग्र आईडी नंबर दर्ज करके एमपी ई-उपार्जन मोबाइल एप डाउनलोड करने का लिंक प्राप्त कर सकते है | 

एमपी ई-उपार्जन 2022 पर पावती पर्ची प्राप्त करना 

  • एमपी ई-उपार्जन पावती पर्ची प्राप्त करने के लिए आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा | 
  • फिर आपको खरीफ 2021 लिंक दिखाई देगा जिस पर क्लिक करना है | 
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद किसान रजिस्ट्रेशन आवेदन का लिंक दिया गया होगा | 
  • इस लिंक पर क्लिक करे और यहाँ पावती पर्ची प्राप्त करे लिंक पर क्लिक करे | 
  • इस प्रकार आपके कंप्यूटर या मोबाइल पर पावती पर्ची डाउनलोड हो जाएगी | 
  • इसका प्रिंटआउट लेकर इसे संभालकर रखे क्योंकि जब आप अनाज की खरीद के लिए जायेंगे तो ये पर्ची आपको उपार्जन केंद्र पर दिखानी होगी | 

एमपी ई-उपार्जन 2022 के लिए योग्यता 

  • मध्य प्रदेश राज्य के सभी किसान अपने मोबाइल नंबर और समग्र आईडी से इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर सकते है | 
  • रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के लिए आधार और आईडी दोनों ही अनिवार्य है | अगर दोनों में से कोई भी दस्तावेज आपके पास नहीं है तो आप इस प्रक्रिया के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे | 
  • एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने हेतु आपके पास मोबाइल नंबर का होना अनिवार्य है और आपका मोबाइल नंबर आधार से लिंक होना भी अनिवार्य है | 

contact

यदि आपको एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन संबधी व अन्य किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है, तो आप उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक मेल [email protected] पर संपर्क कर सकते है |

एमपी ई-उपार्जन से सम्बंधित प्रश्नोत्तर 

प्र.1:  एमपी ई-उपार्जन पोर्टल के बारे में बताइये? 

उत्तर:  इस पोर्टल की सहायता से किसान अपनी फसल की खरीद सरकार से कर सकते है और इसका उन्हें उचित दाम भी मिलता है | ये पोर्टल पूरे राज्यभर के किसानों के लिए शुरू किया गया है | 

प्र.2: एमपी ई-उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

उत्तर: एमपी इ-उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट https://mpeuparjan.nic.in है | यहाँ आप हर तरह की जानकारी प्राप्त कर सकते है | 

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!