उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना 2022 | UP Bijli Sakhi Yojana Online Application लाभ, पात्रता

UP Bijli Sakhi Yojana 2022: उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में बिजली बिल संग्रहण करवाने के उदेश्य से उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं का चयन किया जायेगा, जिनका कार्य गांव क्षेत्र में बिजली बिल को कलेक्ट (संग्रह) करना है। यूपी बिजली सखी में काम कर रही महिलाएं 8000 से 10000/- रूपये महीना अपने गांव में रहकर ही कमा रही है। इस प्रकार इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं को रोजगार भी मिल रहा है।

UP Bijli Sakhi Yojana

आपको बिजली बिल भरने के लिए अब सरकारी कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है, क्यूंकि जिस क्षेत्र में प्रदेश में बिजली सखी का चयन किया गया है, वहां पारा बिजली जमा करने से संबधित कार्य इनके द्वारा करवाया जा रहा है। इस आर्टिकल में हमने यूपी बिजली सखी के बारे में बात की है, जैसे – बिजली सखी आवेदन फॉर्म, यूपी बिजली सखी आवेदन कैसे करें, इसके उदेश्य क्या है, लाभ, बिजली सखी अप्लाई के लिए आवश्यक दस्तावेज आदि। यदि आप भी इस योजना के तहत अपने गांव क्षेत्र में ही काम करना चाहते है, तो कृपया बिजली सखी आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

यूपी बिजली सखी योजना 2022

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा राज्य / राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM) व स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए बिजली सखी योजना यूपी की शुरुआत की थी। इस योजना से जुडी महिलाएं गांव के लोगों को बिजली के बिल को भरने में मदद करेगी, क्यूंकि ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को बिल भरने में समस्या का सामना करना पड़ता है, गांव में लोग कम पढ़ें लिखे होने के कारण उन्हें ऑनलाइन बिल भुगतान में भी समस्या आती है। जिससे सरकार का बकाया बिल बढ़ता ही जाता था, लेकिन अब इस समस्या बिजली सखी योजना के माध्यम से कम किया जा सकता है।

उत्तर प्रदेश बिजली सखियों ने अब तक करोड़ों रूपये की बकाया बिजली बिल की वसूली की है, इस योजना में प्रदेशभर में कुल 5395 सक्रीय रूप से कार्य कर रही है। सरकार द्वारा इस योजना के तहत अलग अलग तरह की प्रशिक्षण कार्यक्रम किये जा रहे है। जिसमे उन्हें ऐप के माध्यम से बिजली बिल भुगतान की प्रक्रिया आदि शामिल है।

उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना 

यूपी बिजली सखी योजना 2022 संक्षिप्त विवरण

योजना का नामबिजली सखी योजना उत्तर प्रदेश
किसने शुरू कियाउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा।
लाभार्थीस्वयं सहायता समूह (SHG) व राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (SLRM) से जुडी महिलाएं।
उद्देश्यमहिलाओं को रोजगार प्रदान करके आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाना
वर्तमान वर्ष2022
आवेदन प्रक्रियाOnline/Offline
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://up.gov.in/en

बिजली सखी योजना यूपी के उद्देश्य

प्रदेश सरकार द्वारा बिजली सखी योजना शुरू करने के कहीं उदेश्य है, क्यूंकि बिजली सखी योजना यदि पूरी तरह से सफल होती है तो इससे कहीं उदेश्यों की पूर्ति हो सकती है। पहला ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा होंगें, उन्हें अपने परिवार को चलाने में काफी मदद मिलेगी। इसके अलावा दूसरा सरकार का काफी लम्बे समय से बकाया / लंबित बिल की वसूली हो पाएगी, जिससे सरकार / संबधित विभाग के राजस्व में वृद्धि होगी।

इसके अलावा लोगों को उनका बिल समय से जमा करने में काफी मदद मिलेगी, क्यूंकि यदि आप बिल समय से जमा नहीं कर पाते है, तो आपके ऊपर कहीं अतिरिक्त शुल्क भी लगते है, इस प्रकार लोगों को अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। लोगों को बिजली बिल जमा करने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर व लम्बी लम्बी कतारों में खड़ा नहीं होना पड़ेगा। इस प्रकार यदि यह योजना पूरी तरह से सफल होती है, तो भविष्य में इसके और भी कहीं फायदे होने वाले है।

यूपी बिजली सखी योजना के लाभ व विशेषताएं

  • बिजली सखी योजना से राज्य / राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुडी महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा हो रहे है।
  • बिजली सखी योजना के लिए कुल 15000 से अधिक महिलाओं को चुना गया है, जिसमें पांच हजार से अधिक महिलाएं सक्रीय है। इन्हें इस योजना के माध्यम से अपना घर चलाने में काफी मदद मिल रही है।
  • बिजली सखीयां को इस योजना के तहत मोबाइल ऐप की ट्रेनिंग दी जाएगी, जिससे उन्हें ग्रामीण क्षेत्र में बिजली बिल को तत्काल जमा करने में काफी मदद मिलेगी।
  • उत्तर प्रदेश बिजली विभाग का लम्बे समय से लंबित बकाया बिजली बिल को वसूलने में काफी मदद मिलेगी, इससे विभाग के राजस्व में भी वृद्धि होगी।
  • लोग अपना बिजली बिल समय से जमा कर पाएंगे, इससे उन्हें अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। जैसा कि आप जानते ही होंगे कि यदि आप बिल का भुगतान समय से नहीं करते है, तो आपको पैनल्टी के रूप अतिरिक्त शुल्क देना होता है।
  • यूपी बिजली सखी योजना के माध्यम से इस योजना से जुडी महिलाओं को अब तक लाखों रूपये का कमीशन मिल चूका है। क्यूंकि उन्हें कोई भी बिल जमा होने पर एक निश्चित राशि में कमीशन दिया जाता है। जो न्यूनतम 20/- रूपये व 20000/- रूपये से अधिक के बिजली बिल पर 1% रहता है।
  • इस प्रकार बिजली सखी योजना यूपी के कहीं फायदे व विशेषताएं है।

उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन

बिजली सखी स्कीम हेतु  पात्रता

  • उत्तर प्रदेश की महिला होना आवश्यक है, क्यूंकि यह योजना सिर्फ उत्तर प्रदेश के लिए है।
  • इस योजना का लाभ राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका / राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन से जुडी महिलाओं के लिए ही मिलेगा।
  • रोजगार के अवसर आपको स्थानीय स्तर पर ही दिए जायेंगे, इसमें दूसरे जिले का के आवेदक भी इसके लिए अप्लाई नहीं कर सकते है।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता पासबुक या विवरण।
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ।

यूपी बिजली सखी योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया

यदि आप उत्तर प्रदेश बिजली सखी में काम करना चाहते है, तो आपको इसके लिए अपने ब्लॉक एनआरएलएम सखी या एनआरएलएम मैनेजर से मिलना होगा। यह योजना केवल समूह से जुडी महिलाओं के लिए है।

  • सबसे पहले एनआरएलएम कार्यालय / अपने गांव में चल रहे किसी एनआरएलएम समूह के पदाधिकारियों के पास जाना होगा।
  • इसके बाद आपको बिजली सखी योजना के लिए आवेदन फॉर्म लेना होगा।
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारियों को भरना होगा।
  • सभी आवश्यक दस्तावेज सलग्न कर फॉर्म एनआरएलएम कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आपको अगले कुछ दिनों में इस कार्य हेतु चयनित कर लिया जायेगा।

नोट – यह योजना एनआरएलएम व बिजली विभाग से जुडी है। इस योजना हेतु नियुक्ति कोई स्थायी नहीं होती है, क्यूंकि एनआरएलएम में होने वाले कार्य सीधे शासन स्तर से करवाए जाते है। इसलिए हो सकता है, वर्तमान में इसके लिए पद उपलब्ध न हो। यदि आप भविष्य में इस योजना का लाभ लेना चाहते है, तो आपको अपने गांव की किसी NRLM समूह से जुड़ जाना चाहिए। इससे आपको भविष्य में रोजगार के अवसर मिल सकते है। इसके अलावा इन समूहों में कुछ मासिक बचत के माध्यम से आपको पैसा उधार मिल सकता है, जिससे आप अपना कोई नया व्यवसाय शुरू कर सकते है।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री फेलोशिप स्कीम

PFQ: UP Bijli Sakhi Yojana

प्रश्न 1 – उत्तर प्रदेश बिजली सखी योजना क्या है?

उत्तर – प्रदेश सरकार द्वारा एनआरएलएम व स्वयं सहायता समूह से जुडी महिलाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए इस योजना की शुरुआत की है।

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!