(Online) Pm Garib Kalyan Yojana 2023 | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लिस्ट | pm garib kalyan yojana registration | pm garib kalyan ann yojana last date march 2022 | Pm Garib Kalyan Ann Yojana 2022 परिचय : देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2020 में कोविड – 19 की पहली लहर के दौरान 26 मार्च 2020 को Pm Garib Kalyan Yojana की शुरुआत की गयी थी। यह भारत सरकार द्वारा अन्न वितरण से संबधित योजना है। सरकार द्वारा इसे कोविड -19 की पहली लहर के दौरान अप्रैल 2020 से जून 2020 के बीच चलायी गयी थी। 

pm garib kalyan yojana

2020 में सरकार द्वारा लॉकडाउन के दौरान लोगो को राहत प्रदान करने के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये का आवंटन किया गया था। इसी पैकेज में सरकार द्वारा पी एम गरीब कल्याण अन्न योजना को भी लाया गया था। लेकिन अब कोविड 19 की दूसरी लहर में सरकार द्वारा इसे पुनः शुरू किया गया है। 

Uttarakhand Ration Card List

सरकार की इस योजना के द्वारा मई व जून 2021 में अनाज का वितरण किया जायेगा। सरकार द्वारा इस चरण में गेहू व चावल का वितरण किया जायेगा। इसके द्वारा लगभग 80 करोड़ लोगो को प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज देने का सरकार द्वारा दावा किया गया है। सरकार द्वारा प्रथम चरण के दौरान फ्री में 1 kg दाल भी दी गयी थी। जो इस बार नहीं दी जा रही है। सरकार द्वारा प्रधानमंत्री अन्न योजना को अब पुनः 2021 में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान शुरू किया गया है। इसके क्या लाभ है, इस योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे किया जा सकता है। इसके बारे जानकारी के लिए कृपया पूरा आर्टिकल पढ़े।

pm garib kalyan yojana 2022 

मोदी सरकार द्वारा कोरोना वाइरस की लहर के भयंकर प्रकोप को देखते हुए, पी एम गरीब कल्याण अन्न योजना को 2021 के लिए पुनः शुरू किया गया है। इस योजना के तहत मई व जून माह के लिए एक निश्चित मात्रा में अन्न वितरण किया जाता है। सरकार द्वारा घोषणा की गयी की मई और जून माह में 80 करोड़ परिवारों को 5-5 किलो गेहू व चावल देगी। 

सरकार द्वारा गरीब कल्याण योजना के लिए 26000 करोड़ का फण्ड जारी किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा इसकी जानकारी ट्वीट करके दी गयी थी। उन्होने लिखा सरकार आपदा की इस घडी में देश के नागरिको के साथ कड़ी है।

शौचालय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

pm garib kalyan yojana overview 2022

योजना का नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना
कब शुरू हुई 26 मार्च 2020
किसने शुरू की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 
आधिकारिक वेबसाइट pm garib kalyan yojana

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के उद्देश्य

कोरोना वाइरस ने आम लोगो की जिंदगी को अस्त व्यस्त कर दिया है। इसमें से सबसे ज्यादा शहरो में रहने वाले मजदुर, ऑटो चालक, रिक्शा चालक या अन्य छोटा या माध्यम कार्य करने वाले लोगो का जीवन प्रभावित हुआ है। सरकार ऐसे लोगो की समस्याओं को देखते हुए, pradhanmantri garib kalyan ann yojana 2022 लेकर आयी है। 

pm garib kalyan yojana में सरकार द्वारा सीधे तौर पर उन लोगो की सहायता हो जाएगी, जो शहरों से पलायन (माइग्रेंट) होकर गांव की और लौटे है। इसके अलावा पहले से ही गांव में रहने वाले लोगों के सामने भी कोरोना काल में कहीं चुनौतियां आयी। इन सभी को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा गरीब कल्याण योजना को शुरू किया किया गया है।

Pm Garib Kalyan Yojana 2022 के मुख्य बिंदु

  • गरीब कल्याण अन्न योजना भारत सरकार के उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजानिक वितरण मंत्रालय द्वारा चलायी जा रही है। 
  • अन्न योजना में NFA (Nation food act) 2013 के तहत दो कैटगरी गरीब परिवारों व अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थियों को इसमें सम्मिलित किया गया है।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कोरोना वाइरस की पहली लहार के दौरान गरीबों के लिए 1.70 लाख करोड़ का रहत पैकेज लाया गया है। जिसमें गरीबों को फ्री राशन, स्वास्थ्य कर्मियों का स्वास्थ्य बीमा, गरीब महिलाओं के जन धन खातों में 500/- रूपये की राशि आदि कहीं महत्वपूर्ण बिंदु शामिल किये गए थे।
  • पैकेज के तहत गरीब सीनियर सिटिज़न, गरीब विधवाओं एवं विकलांगों की अनुग्रह राशि 1000 करोड़ से बढाकर 3 करोड़ कर दी गयी है।
  • 8.7 करोड़ किसानों को पीएम किसान की राशि अप्रैल माह में ही भुगतान कर दी जाएगी।
  • 3.5 लाख श्रम एवं निर्माण श्रमिकों को केंद्र सरकार अधिनियम के तहत बनाये गए कल्याण कोष केंद्र में पंजीकृत किये गए है। इससे कोविड के दौरान दी जाने वाली कोई भी सहायता राशि सीधे इनके बैंक खातों में dbt के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।
  • गरीब वरिष्ठ नागरिक, गरीब विधवाओं और गरीब विकलांगों को 1,000 से 3 करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि

Pm Garib Kalyan Yojana 2022 Online Registration

Pm Garib Kalyan Yojana गरीबों के लिए सरकार द्वारा अन्न वितरण योजना शुरू की गयी है। इसे फ़िलहाल ऑनलाइन आवेदन नहीं किया जा सकता है। क्यूंकि यदि आप आपका नाम खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 की सूची में आपका नाम है, या आप अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी है, तो आप सरकारी गल्ले की दुकान (डीलर) से अनाज ले सकते है।

pm garib kalyan yojana 2022 new update

Free Ration Scheme : मोदी सरकार ने  कोरोना काल में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) को शुरू किया था। जिसके तहत मुफ्त मुफ्त राशन शुरुआत में अप्रैल से जून 2020 तक शुरू की थी। जिसे समय समय पर बढ़ाया गया है। अंतिम बार इसे 30 नवंबर तक बढ़ाया गया था। सरकार द्वारा अब एक बार फिर से बढ़ा दिया गया है। मुफ्त राशन वितरण की अंतिम तिथि अब 31 मार्च 2022 कर दी है। हाल ही में कैबिनेट की बैठक में इसका निर्णय लिया गया है।

देश में कोरोना की तीसरी लहार के संकेत मिल रहे है। इसी को देखते हुए सरकार ने प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत जनवरी 2022 माह के लिए 55 हजार से अधिक क़्वींटल गेहू को आवंटित किया है। गेहू को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान (राशन डीलर) के माध्यम से वितरित किया जायेगा।

फ्री सिलाई मशीन योजना

कोरोना काल में सरकार द्वारा लाया गया श्रमिक राहत पैकेज

कोरोना वाइरस द्वारा पूरी दुनिया में कहर भरपाया गया था, जिसमे हमारे देश सहित पूरी दुनिया ने संकट का सामना किया था। ऐसे में लाखों लोगों की नौकरियां चली गयी थी। सरकार द्वारा लोगों की मदद करने के लिए एक बड़ा राहत पैकेज लाया गया था। यह राहत पैकेज पीएम गरीब कल्याण के तहत मध्यम व निम्न वर्ग को ध्यान में रखकर बनाया गया था।

पीएम किसान सम्मान योजना

कोरोना काल के दौरान सरकार द्वारा पीएम गरीब कल्याण के तहत लाया गया लाखों करोड़ों के पैकेज में एक बड़ा भाग पीएम किसान के रूप में भी दिया गया, उस दौरान किसानों को सहायता राशि पहुँचाने के लिए किसानों के बैंक खातों में तत्काल 2000/- रूपये की राशि दी जाती है। सरकार द्वारा ट्रांसफर की गयी राशि द्वारा लगभग दस करोड़ किसानों को सीधा सीधा लाभ मिला।

जन धन खातों के माध्यम से

वर्ष 2014 में मोदी सरकार के आने के बाद से उनके द्वारा बड़े पैमाने पर देश भर में जन धन खाते (बैंक अकाउंट) खुलवाए गए था। कोरोना काल में सरकार को इन बैंक अकाउंट के माध्यम से सहायता राशि सीधे लोगों तक पहुँचाने में काफी मदद मिली थी। सरकार द्वारा पीएम गरीब कल्याण पैकेज के अंतर्गत इन खातों के माध्यम देश भर की 20 करोड़ महिलाओं को तीन महीनों तक 500 – 500 रूपये ट्रांसफर किये गए। इस प्रकार सरकार की जन धन योजना कहीं न कही कोविड काल में सहायक रही।

डिस्ट्रिक्ट मिनिरल्स फंड के माध्यम से

सरकार द्वारा कोविड काल में डिस्ट्रिक्ट मिनरल फण्ड के माध्यम से जरूरतमंद लोगों तक सहायता राशि पहुंचाई गयी। यह एक संस्था है, जिसे खनन से प्रभावित समुदायों एवं लोगों की सहायता के लिए बनाया गया है। कोरोनाकाल में इस संस्था ने देश भर के पिछड़े एवं गरीब परिवारों को सहायता राशि पहुँचाने में मदद की।

महात्मा गाँधी नरेगा योजना

पीएम गरीब कल्याण योजना के माध्यम से मनरेगा श्रमिकों को भी उनकी बढ़ी हुई मजदूरी (202 रूपये प्रति दिन) के साथ अग्रिम भुगतान किया गया। इस योजना के तहत सरकार द्वारा लगभग 14 करोड़ मनरेगा श्रमिकों को उनके बैंक खातों में भुगतान किया गया। इससे पहले इन मजदूरों को 182 रूपये प्रतिदिन मजदूरी मिल रही थी।

वृद्धों, निराश्रित महिला एवं दिव्यांगों को आर्थिक मदद

सरकार द्वारा कोरोना काल में सभी प्रकार की पेंशन राशि जैसे – वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन एवं विकलांग पेंशन आदि को बढ़ाकर अग्रिम आधार पर भुगतान किया गया था। जिससे इन लोगों को कोविड में अपने परिवार की आजीविका चलाने में काफी मदद मिली। इन सामाजिक सुरक्षा स्कीम के माध्यम से इस दौरान लगभग 3 करोड़ से अधिक लोगों को लाभ मिला।

ये भी पढ़ें –

गौरतलब है कि pm garib kalyan yojana को Covid-19 की पहली लहर के दौरान देश के गरीबों को फ्री राशन वितरण के लिए मार्च 2020 में शुरू की थी। जिसे कोरों की दूसरी लहर 2020 में बड़ा दिया गया था। अब तीसरी लहर आने से एक बार फिर से मार्च 2022 तक बड़ा दिया है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने ये अतिरिक्त गेहू को आवंटित किया है। इस योजना का लाभ सीधे देश के गरीब लोगो को मिल रहा है।

FAQ

प्रश्न – प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना क्या है ?

उत्तर – पी एम गरीब कल्याण योजना सरकार द्वारा गरीबो के लिए शुरू की गयी एक अन्न वितरण योजना है। इसके योजना के तहत गरीबों को 5 – 5 किलो चावल व गेहू दिए जाते है। 

प्रश्न – pm garib kalyan yojana कब शुरू की गयी थी ?

उत्तर – गरीब कल्याण योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 26 मार्च 2020 को शुरू की गयी थी। 

2 thoughts on “(Online) Pm Garib Kalyan Yojana 2023 | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना”

  1. Gov ko Pradhan mantri Ann yojna ko badana chahiye , mahangai bahut jyada hai free ration milane se janta ke upar bhar kam hain, jisase janta ka bazat chal ja raha hai,fir isi gov ka Banna Tay hai 2024 me fir bjp pur bahumat se aa sakta hai, yojna band hone se public pareshan ho sakta hai jisase vote me kami ho sakta hain

    Reply

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!