उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र – 2022 | यूपी ई-साथी पोर्टल Benefit | Form Download and Online Apply |

यूपी निवास प्रमाण पत्र | उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र | e district up | niwas praman patra download | मूल निवास प्रमाण पत्र फार्म | esathi.up.gov.in |

उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र  उत्तर प्रदेश राज्य के में किसी भी सरकारी नौकरी के लिए, किसी भी योजना का लाभ लेने के लिए कई सारे दस्तावेज की आवश्यकता होती है, जैसे- जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र आदि। प्रत्येक व्यक्ति को अपना उत्तर प्रदेश मूल निवास प्रमाण पत्र बना लेना चाहिए क्यूंकि आपको इसकी आवश्यकता कहीं जगह पढ़ सकती है।

उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र

इस लेख में हमने यूपी स्थायी निवास प्रमाण पत्र के बारे में बताया है। उत्तर प्रदेश के निवासी अपना स्थायी निवास प्रमाण / मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे बनवा सकते है, इसके लिए क्या – क्या दस्तावेजों की आवश्यकता है आदि के बारे में बात करेंगे।

विषय सूची

निवास प्रमाण पत्र क्या होता है ?

किसी भी व्यक्ति निवास प्रमाण पत्र एक जरुरी प्रमाण पत्र होता है। यह प्रमाण पत्र पहचान बताने के लिए जरुरी है, यह प्रमाण पत्र किसी भी व्यक्ति के स्थानीय निवास के प्रमाण को दर्शाता है, कि वह कहाँ का मूल निवासी है। इसके अलावा ही यह प्रमाण पत्र किसी व्यक्ति द्वारा बताये गए उनके पते को प्रमाणित करने के लिए जरुरी दस्तावेज है। यूपी निवास प्रमाण पत्र को आप ऑनलाइन के साथ साथ ऑफलाइन प्रक्रिया से भी बनवा सकते है।

उप्र मूल निवास प्रमाण पत्र संक्षिप्त विवरण

प्रमाण पत्र का नाम उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र
जारी करने वाला राज्यउत्तर प्रदेश राज्य
लाभ लेने वाले नागरिकउत्तर प्रदेश के नागरिक
प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://edistrict.up.gov.in/edistrictup/ 

उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र के लिए दस्तावेज

उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले लोगो के लिए निवास प्रमाण पत्र बनाने के लिए यह कुछ जरुरी दस्तावेज है, विवरण निम्न है –  

  • आवेदक का आधार कार्ड – जिस आवेदक का निवास प्रमाण पत्र बनवाना है तो उसके लिए आवेदक का आधार कार्ड भी लगाना जरुरी है। 
  • पहचान पत्र – इसके अलावा आवेदक का खुद का पहचान पत्र जैसे वोटर आईडी और ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि में से एक जरुरी है। 
  • आवेदक का फोटो – जिस राज्य के मूल निवासी का प्रमाण पत्र बनवाना है तो उसके लिए उसका एक नवीनतम फोटो भी लगाना जरुरी है। 
  • राशन कार्ड – इसके अलावा आवेदक के परिवार का राशन कार्ड भी साथ में लगाना जरुरी है। राशन कार्ड में आवेदक का नाम होना जरुरी है। 
  • जन्म प्रमाण पत्र – इसके अलावा आवेदक का जन्म प्रमाण पत्र भी जरुरी है। आवेदक का जन्म जिस गांव और अस्पताल में हुआ है, उससे जुड़ा प्रमाण पत्र भी बनाना जरुरी है।
  • स्वयं घोषणा पत्र – आवेदक को अपने फॉर्म के साथ एक स्वयं घोषणा प्रमाण पत्र लगाना भी जरुरी है। 
  • स्कूल का प्रमाण पत्र – आवेदक के फॉर्म के साथ कक्षा 10 और 12 का प्रमाण पत्र भी लगाना जरुरी होता है। इस प्रमाण पत्र में कक्षा 10 और 12 के प्रमाण पत्र बनाना जरुरी है।

यह है वो सभी जरुरी दस्तावेज जो निवास प्रमाण पत्र बनाने के लिए जरुरी है। हालाँकि इन सभी दस्तावेजों में कुछ दस्तावेज कॉमन है।इन सभी दस्तावेजों में से कुछ दस्तावेज लगाने जरुरी है। 

मूल निवास प्रमाण पत्र क्यों जरुरी है ? 

उत्तर प्रदेश में रहने वाले नागिरकों के लिए मूल निवास प्रमाण पत्र क्यों जरुरी है। यह बेहद की कॉमन सवाल है। राज्य या राज्य के बाहर किसी भी स्कूल या कॉलेज में प्रवेश लेना हो या किसी सरकारी और अर्द्धसरकारी योजना का फायदा लेना हो तो उसके लिए यह निवास प्रमाण पत्र बेहद ही जरुरी है। वैसे इसके अलावा और भी इस प्रमाण पत्र के उद्देश्य है।

उत्तर प्रदेश ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल

यूपी मूल निवास प्रमाण पत्र के उद्देश्य

राज्य में रहने वाले लोगो के लिए भी यह मूल निवास प्रमाण पत्र खुद में अलग ही दस्तावेज है जो आपकी पहचान को साबित करने में काम आता है। आप राज्य के किस गाँव, शहर, जिला, राज्य से है, इन सब के बारे में इस प्रमाण पत्र में लिखा होता है। इसमें अच्छी बात यह है की यह केवल जीवनभर में एक ही बार बनता है। इस प्रमाण पत्र को बनाना भी काफी आसान है।

  • उत्तर प्रदेश राज्य और इसके अलावा केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ लेने के लिए भी इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है।
  • राज्य की किसी भी स्कूल और संस्थान में प्रवेश लेने के लिए भी इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। 
  • उत्तर प्रदेश राज्य में नौकरी के लिए भी आवेदन करके के लिए भी इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। 

इन सभी कार्यों के लिए निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। किसी भी राज्य के नागरिक के लिए मूल निवास के बिना किसी सरकारी योजना का फायदा नही लिया जा सकता है, इसके अलावा नागरिक किसी नौकरी के लिए भी आवेदन नहीं कर सकता है, इसके अलावा किसी भी सरकारी और निजी संस्थान में भी इस दस्तावेज की आवश्यकता होती है। 

उप्र स्थाई निवास प्रमाण पत्र के लाभ

उत्तर प्रदेश मूल निवास प्रमाण पत्र के कहीं लाभ है, जिस वजह इस प्रमाण पत्र को बनवाया जाता है। विवरण निम्न है –

  • यह प्रमाण पत्र उत्तर प्रदेश में किसी भी प्रकार की योजना का फायदा लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज है। क्यूंकि आप जब किसी भी सरकारी योजना के लिए आवेदन करने जाओगे तो आपसे निवास प्रमाण पत्र माँगा जा सकता है।
  • किसी भी प्रकार के सरकारी, अर्द्ध सरकारी, या निजी कामों के लिए आपको अपने पते को प्रमाणित करना होता है। उसके लिए इस दस्तावेज को पते के प्रमाण की रूप में लगाया जा सकता है। 
  • उत्तर प्रदेश में इस मूल निवास प्रमाण पत्र को जरुरी दस्तावेजों की सूची में शामिल किया गया है। इसलिए इसे बनाना जरुरी है।

ई-साथी पोर्टल पर उपलब्ध ऑनलाइन / ऑफलाइन सेवाएं

उत्तर प्रदेश e-sathi पोर्टल पर राज्य के लोगों के लिए कहीं सेवाएं एक साथ एक ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध करवाई गयी है। आप इन सभी सेवाओं से संबधित सभी कार्य को ऑनलाइन कार्य को इस पोर्टल पर कर सकते है।

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • विधवा पेंशन
  • जाति प्रमाण पत्र
  • हैशियत प्रमाण पत्र
  • रोजगार पंजीकरण आवेदन
  • दिव्यांग प्रमाण पत्र
  • वृद्धावस्था पेंशन आवेदन
  • रोजगार पंजीकरण के लिए आवेदन
  • मृत्यु प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • नए राशन कार्ड के लिए आवेदन

उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र के लिए रजिस्टर?

जैसा की हम जानते है की उत्तर प्रदेश में रहने वाले नागरिकों के लिए इस प्रमाण पत्र को बनवाना जरुरी है। इस प्रमाण पत्र को ऑनलाइन बनाने के लिए इस प्रोसेस को फॉलो किया जा सकता है। 

  • Step 1 – उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए सबसे पहले आपको इस आधिकारिक वेबसाइट पर आना होता है। 
  • Step 2 – इसके बाद इस वेबसाइट पर आने के बाद आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा।
  • Step 3 – इसे वेबसाइट के होम पेज पर आने के बाद होम पेज पर सिटिज़न लॉगिन आप्शन पर क्लिक करना है।
उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र
  • Step 4 – इसके बाद सिटिज़न लॉगिन के होम पेज पर आ जायेंगे। यहां पर आपको लॉगिन विकल्प के ठीक ऊपर नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण विकल्प मिलेगा।
यूपी निवास प्रमाण पत्र
  • Step 5 – आपके सामने अब नए पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन फार्म ओपन हो चूका है। आप इसे सावधानीपूर्वक भरें। यहां पर आपसे कुछ व्यक्तिगत जानकारी मांगी जाएगी।
यूपी निवास प्रमाण पत्र
  • step 6 – इसके बाद अंत में कॅप्टचा कोड भरकर सबमिट बटन को दबा दें।
  • Step 6 – इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेशन हो जायेगा। आपको यहां पर एक यूजर आईडी व पासवर्ड मिल जायेगा। जो आपके मोबाइल नंबर व ईमेल आईडी के माध्यम से प्राप्त होगा।

इस प्रकार अब आप इस यूजर आईडी व पासवर्ड को अपने पास सुरक्षित रख लें क्यूंकि भविष्य में आपको किसी भी दस्तावेज को बनवाने के लिए इसकी आवश्यकता पड़ेगी।

Citizen Login कैसे करे ?

रजिस्टर करने के बाद इसमें आवेदक को लॉग इन करना होता है। लॉग इन करने के लिए आपको इस प्रोसेस को फॉलो करना होता है। 

  • Step 1 – सबसे पहले आपको इस वेबसाइट पर आना होता है। 
  • Step 2 – इसके बाद जैसे ही आप इस वेबसाइट के होम पेज पर आते है तो उसमे बायीं और एक सेक्शन दिखाई देता है, आप वहां पर क्लिक करें।
उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र
  • step 3 – अब आप नए पेज पर आ गए है। यहां पर लॉग इन करने के लिए जानकारी भरनी होती है। लॉग इन करने के लिए इसमें आपको अपनी आईडी और पासवर्ड डालना होता है। 
  • Step 3 – इसके बाद इसमें आगे Captcha दिखाई देता है। जिसको भरने के बाद नीचे की और एक आप्शन Submit के नाम से दिखाई देता है। 
उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र

सबमिट करने के बाद आप अपने डैशबोर्ड में आ जायेंगे। डैशबोर्ड में आने के बाद आपको आवेदन करने के लिए कई सारे आप्शन मिल जाते है। जिनकी मदद से आप इस प्रोसेस को फॉलो कर सकते है। 

निवास प्रमाण पत्र आवेदन करने की प्रक्रिया

लॉग इन करने के बाद निवास प्रमाण पत्र बनाने के लिए इस प्रोसेस को फॉलो किया जा सकता है। यह प्रोसेस निम्न है – 

  • Step 1 – इसके बाद आवेदक को इस लॉग इन डैशबोर्ड में आना होता है। 
  • Step 2 – इस पेज पर आने के बाद इसमें नए आवेदन करने का आप्शन मिल जाता है। उस पर क्लिक करे और आगे बढे। 
  • Step 3 – इस पेज पर आने के बाद आपको इसमें उस प्रमाण पत्र का चुनाव करना होता है जिसे आप बनवा चाहते है। इस स्तिथि में आपको निवास प्रमाण पत्र का चुनाव करना होता है। इसके बाद एक फॉर्म खुल के सामने आ जाएगा। 
  • Step 4 – इस फॉर्म में आपको आपकी निजी जानकारी भरनी होती है जैसे नाम, पिता का नाम, जन्म तारीख इत्यादि। यह भरने के बाद इस फॉर्म को सबमिट करना होता है। 

इस फॉर्म को सबमिट करने के बाद इसमें एक Acknowledge Receipts मिल जाती है। इसे नंबर को आपको संभल कर रखना होता है। इस आईडी की मदद से आप अपने फॉर्म के स्टेटस को ट्रैक कर सकते है। 

आवेदन करने के बाद कब बनेगा प्रमाण पत्र

ऑनलाइन आवेदन करने के बाद यह प्रमाण आपको कब मिलेगा ? इसके बारे में भी जानना बेहद जरुरी है। जैसे ही आप प्रमाण पत्र बनवाते है या उसके लिए आवेदन करते है तो उसके बाद आपको आगामी 3 दिवस का इन्तेजार करना होता है। 3 दिवस के बाद आपका प्रमाण पत्र बन कर तैयार हो जाता है और उसके बाद आप उस प्रमाण पत्र को डाउनलोड कर सकते है। 

आवेदन की स्तिथि कैसे देखे ? 

आवेदन करने के बाद इस फॉर्म की स्तिथि कैसे देख सकते है। आवेदन की स्तिथि देखने के लिए प्रोसेस को फॉलो कर सकते है – 

  • Step 1 – इसके लिए आपको सबसे पहले इस पोर्टल पर आना होता है।
  • Step 2 – इस पेज पर आने के बाद आपको इसमें आवेदक की स्तिथि नाम का एक आप्शन दिखाई देता है।
up nivas praman patra
  • Step 3 – इसके बाद इस पेज लिंक पर क्लिक कर के पेज पर आना होता है। जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करते है तो एक Popup Box खुल के सामने आता है जिसमे आपसे आपके फॉर्म का Application Number और Acknowledge number माँगा जाता है।
up nivas praman patra
  • Step 4 – इसके बाद आपको इसमें नंबर डालना होता है। इसके बाद आगे Search का बटन होता है उस पर क्लिक करना होता है। 

इसके बाद यह आपके फॉर्म की जानकारी अगले पेज में दिखा देता है। उस पेज पर आपके फॉर्म और आवेदन की जानकारी मिल जाती है। इसके बाद इस फॉर्म का प्रिंट निकाल कर के आप उसे संभल कर रख सकते है। 

ऑफलाइन निवास प्रमाण पत्र कैसे बनाये ? 

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको इस पोसस को करना होता है – 

  • Step 1 – ऑफलाइन निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए पहले आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। इस फॉर्म को डाउनलोड करना होता है। 
  • Step 2 – इस फॉर्म को डाउनलोड करने के बाद इस फॉर्म को भरना होता है। फॉर्म में पूछी गई जानकारी साफ़ और सही भरे। 
  • Step 3 – इस जानकारी को भरने के बाद इसके साथ कुछ जरुरी दस्तावेज भी लगाने होते है। दस्तावेज की सभी कॉपी पर आवेदक को खुद के हस्ताक्षर करने होते है। 
  • Step 4 – इसके बाद फॉर्म के साथ दस्तावेजों को लगाने के बाद उसे अपने पास के ही सिटीजन सेण्टर पर देना होता है। उसके बाद वहा पर इसे ऑनलाइन किया जाता है और आपको एक Application No. दिया जाता है। इस एप्लीकेशन नंबर को संभाल कर रखना होता है।

उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र फॉर्मेट डाउनलोड – click here

आवेदन करने के बाद आपको कुछ दिन का इन्तजार करना होता है। इसके बाद आगामी 2 – 3 दिवस में आपका प्रमाण पत्र बन कर तैयार हो जाता है।

उप निवास अधिवास प्रमाण पत्र ऑफलाइन आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  1. आवेदन द्वारा स्वयं द्वारा प्रमाणित घोषणा पत्र।
  2. राशन कार्ड या बिजली के बिल की फोटो कॉपी।
  3. मतदाता पहचान पत्र की फोटो कॉपी / छाया प्रति
  4. यदि आप छात्र है, या कर लिए है तो शैक्षिणिक प्रमाण पत्र।

आपको ऊपर दिए आवेदन के प्रारूप के साथ इन सभी दस्तावेजों को साथ में जमा करने होंगे।

प्रमाण पत्र को वेरीफाई कैसे करे ? 

प्रमाण पत्र बन्ने के बाद उसको आप आसानी से घर पर बैठ के वेरीफाई कर सकते है। प्रमाण पत्र को वेरीफाई करने के लिए प्रोसेस को फॉलो कर सकते है – 

  • Step 1 – आपको प्रमाण पत्र वेरीफाई करने के लिए सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर आना होता है। 
  • Step 2 – इस पेज पर आने के बाद आपको इसमें प्रमाण पत्र का सत्यापन नाम का एक आप्शन दिखाई देता है।
up nivas praman patra
  • Step 3 – इसके बाद इस पेज लिंक पर क्लिक कर के पेज पर आना होता है। जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करते है तो एक Popup Box खुल के सामने आता है जिसमे आपसे आपके फॉर्म का Application Number और Certificate number माँगा जाता है। 
up nivas praman patra
  • Step 4 – इसके बाद आपको इसमें नंबर डालना होता है। इसके बाद आगे Search का बटन होता है उस पर क्लिक करना होता है। 

इसके बाद आपको बता देगा की आपका प्रमाण पत्र सही है या नही।

इस लेख में आपको UP niwas praman patra के बारे में बताया गया है। उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा।

1 thought on “उत्तर प्रदेश निवास प्रमाण पत्र – 2022 | यूपी ई-साथी पोर्टल Benefit | Form Download and Online Apply |”

Leave a Comment

x
error: Content is protected !!